भीमराव अम्बेडकर के विचार 2021 – अम्बेडकर के सामाजिक विचार – Bhimrao Ambedkar Quotes in Hindi

अम्बेडकर के सामाजिक विचार

Ambedkar Jayanti 2021: भीमराव आंबेडकर जी हमारे देश के उन महापुरुषों में से एक है जिन्होंने हमारे देश हित के लिए बहुत कार्य किये थे जिसके लिए उन्हें उन्हें देश के सर्वोच्चा नागरिक पुरुस्कार भारत रत्न से भी नवाजा जा चूका है | भीमराव आंबेडकर एक अति प्रतिभावान व प्रेरणादायक व्यक्ति है जिन्हे देश में बहुत अधिक सम्मान दिया जाता है | इस महापुरुष द्वारा कई बेहतरीन विचार कहे गए है अगर आप उन सामजिक विचारो के बारे में जानना चाहते है तो इसके लिए हमारे द्वारा बताई गयी जानकारी को पढ़ सकते है |

 बाबा साहेब विचारधारा व राजनीतिक शिक्षा

अगर आप भीमराव अम्बेडकर के विचार pdf, बाबा साहेब के अनमोल विचार, भीमराव अम्बेडकर के बारे में, अम्बेडकर पर कविता, भीमराव अम्बेडकर शिक्षा, bhim rao ambedkar slogan in hindi, dr babasaheb ambedkar slogan in hindi, speech on dr br ambedkar in hindi, ambedkar in hindi pdf, b r ambedkar slogan, br ambedkar quotes, poem on dr br ambedkar in hindi के बारे में जानकारी पाना चाहते है इसके बारे में यहाँ से जान सकते है :

मनुष्‍य एवं उसके धर्म को समाज के द्वारा नैतिकता के आधार पर चयन करना चाहिये। अगर धर्म को ही मनुष्‍य के लिए सब कुछ मान लिया जायेगा तो किन्‍ही और मानको का कोई मूल्‍य नहीं रह जायेगा।

मन की स्‍वतंत्रता ही वास्‍तविक स्‍वतंत्रता है।

बाबासाहेब आंबेडकर विचार

गुलाम बन कर जिओगे तो कुत्ता समझ कर लात मारेगी ये दुनिया। नवाब बन कर जिओगे तो शेर समझ कर सलाम ठोकेगी ये दुनिया।

न्‍याय हमेशा समानता के विचार को पैदा करता है।

स्‍वतंत्रता का रहस्‍य, साहस है और साहस एक पार्टी में व्‍यक्तियों के संयोजन से पैदा होता है।

भीमराव अम्बेडकर के विचार

महात्‍मा आये और चले गये परन्‍तु अछुत, अछुत ही बने हुए हैं।

आज भारतीय दो अलग-अलग विचारधाराओं द्वारा शाशित हो रहे हैं। उनके राजनीतिक आदर्श जो संविधान के प्रस्‍तावना में इंगित हैं वो स्‍वतंत्रता, समानता, और भाई-चारे को स्‍थापित करते हैं, और उनके धर्म में समाहित सामाजिक आदर्श इससे इनकार करते है।

मैं किसी समुदाय की प्र‍गति महिलाओं ने जो प्रगति हांसिल की है उससे मापता हूँ।

बाबा साहब अम्बेडकर के विचार

शिक्षा जितनी पुरूषों के लिए आवशयक है उतनी ही महिलाओं के लिए।

लोग और उनके धर्म सामाजिक मानकों द्वारा सामाजिक नैतिकता के आधार पर परखे जाने चाहिए। अगर धर्म को लोगो के भले के लिए आवशयक मान लिया जायेगा तो और किसी मानक का मतलब नहीं होगा।

डॉ आंबेडकर के सामाजिक विचार


हमें अपने पैरों पर खड़े होना है,
अपने अधिकार के लिए लड़ना है,
तो अपनी ताकत और बल को पहचानो।
क्योंकि शक्ति और प्रतिष्ठा संघर्ष से ही मिलती है। 
Copy Tweet
Copied Successfully !

जो धर्म जन्म से एक को 'श्रेष्ठ' और दूसरे को 'नीच' बनाए रखे, वह धर्म नहीं, गुलाम बनाए रखने का षड़यंत्र है।
Copy Tweet
Copied Successfully !

मनुष्य एवं उसके धर्म को समाज के द्वारा नैतिकता के आधार पर चयन करना चाहिये। अगर धर्म को ही मनुष्य के लिए सब कुछ मान लिया जायेगा, तो किन्हीं और मानकों का कोई मूल्य ही नहीं रह जायेगा।
Copy Tweet
Copied Successfully !

बाबा साहेब अम्बेडकर के अनमोल वचन


जाति कोई ईंटों की दीवार या कोई काँटों का तार नहीं है,
जो हिंदुओं को आपस में मिलने से रोक सके।
जाति एक धारणा है, जो मन की एक अवस्था है।
Copy Tweet
Copied Successfully !

इतिहास गवाह है कि जहां नैतिकता
और अर्थशाश्त्र के बीच संघर्ष होता है, वहां जीत हमेशा अर्थशाश्त्र की होती है।
निहित स्वार्थों को तब तक स्वेच्छा से नहीं छोड़ा गया है
जब तक कि मजबूर करने के लिए पर्याप्त बल ना लगाया गया हो।
Copy Tweet
Copied Successfully !

Ambedkar Vichardhara – अम्बेडकर विचारधारा

हिंदू धर्म में, विवेक, कारण और स्‍वतंत्र सोच के विकास के लिए कोई गुंजाइश नहीं हैं।

मैं तो जीवन भर कार्य कर चुका हूँ अब इसके लिए नौजवान आगे आए।

इतिहास बताता है‍ कि जहाँ नैतिकता और अर्थशास्‍त्र के बीच संघर्ष होता है वहां जीत हमेशा अर्थशास्‍त्र की होती है। निहित स्‍वार्थों को तब तक स्‍वेच्‍छा से नहीं छोड़ा गया है जब तक कि मजबूर करने के लिए पर्याप्‍त बल ना लगाया गया हो।

Ambedkar Quotes on Education in Hindi

किसी का भी स्‍वाद बदला जा सकता है लेकिन जहर को अमृत में परिवर्तित नही किया जा सकता।

संविधान, यह एक मात्र वकीलों का दस्‍तावेज नहीं। यह जीवन का एक माध्‍यम है।

बाबा साहेब विचारधारा व राजनीतिक शिक्षा

Babasaheb Ambedkar Quotes Hindi

अगर आप अम्बेडकर जयंती के उपलक्ष्य में भीमराव जी के कुछ प्रसिद्द विचार जानने के लिए किसी भी भाषा जैसे Hindi, English, Tamil, Telugu, Marathi, Punjabi, Gujarati, Kannada, Malayalam, Nepali के Langugage Font में साल 2007, 2008, 2009, 2010, 2011, 2012, 2013, 2014, 2015, 2016, 2017 के अनुसार बधाई सन्देश, शुभकामनाये, SMS, Messages, Wishes, Quotes, Status, Poem के Image, Wallpapers, Photos, Pictures जानना चाहे तो यहाँ से जान सकते है :

राष्‍ट्रवाद तभी औचित्‍य ग्रहण कर सकता है, जब लोगों के बीच जाति, नरल या रंग का अन्‍तर भुलाकर उसमें सामाजिक भ्रातृत्‍व को सर्वोच्‍च स्‍थान दिया जाये।

समानता एक कल्‍पना हो सकती है, लेकिन फिर भी इसे एक गवर्निंग सिद्धांत रूप में स्‍वीकार करना होगा।

बाबा साहेब के अनमोल विचार

मैं ऐसे धर्म को मानता हूँ जो स्‍वंतत्रता, समानता और भाईचारा सिखाता है।

एक महान व्‍यक्ति एक प्रतिष्ठित व्‍यक्ति से अलग है क्‍योंकि वह समाज का सेवक बनने के लिए तैयार रहता है।

एक इतिहासकार, सटीक, ईमानदार और निष्‍पक्ष होना चाहिए।

डॉ अम्बेडकर के आर्थिक विचार

आंबेडकर जयंती के उपलक्ष में 14 अप्रैल 2020 को पूरा आसमान नीला हो जाएगा जब आप Jai bhim geet बजाते हुए जय भीम नारे लगाएंगे| अम्बेडकर जयंती के उपलक्ष पर हम आपके सामने पेश करने जा रहे हैं अम्बेडकर जयंती स्टेटस, Speech on Bhim Rao Ambedkar in Hindi, जय भीम स्टेटस, जय भीम फोटोबाबासाहेब अम्बेडकर पर कविता| साथ ही आप जय भीम शायरीअम्बेडकर जयंती पर निबंध भी देख सकते हैं|

धर्म में मुख्‍य रूप से केवल सिद्धांतों की बात होनी चाहिए। यहां नियमों की बात नहीं हो सकती।

एक सुरक्षित सेना एक सु‍रक्षित सीमा से बेहतर है।

मनुष्‍य नश्‍वर है। उसी तरह विचार भी नश्‍वर हैं। एक विचार को प्रचार प्रसार की जरूरत होती है, जैसे कि एक पौधे को पानी की नही तो दोनों मुरझा कर मर जाते हैं।

बुद्धि का विकास मानव के अस्तित्‍व का महत्‍वपूर्ण लक्ष्‍य होना चाहिए।

इंसान का जीवन स्‍वतंत्र है। इंसान सिर्फ समाज के विकास के लिए नहीं पैदा हुआ है, बल्कि स्‍वयं के विकास के लिए पैदा हुआ है।

डॉ. बी. आर. अम्बेडकर के अनमोल विचार

यह दिन Agra, Meerut, UP, Punjab, Haryana, Himachal Pradesh,  Jammu Kashmir, Bihar, Chhattisgarh, Delhi, Gujarat, Haryana, Jharkhand, Karnataka, mumbai, pune, Maharashtra, Meghalaya, Madhya pradesh, Punjab, Rajasthan, Tamil Nadu, Uttarakhand, Uttar Pradesh, सहित अन्य राज्यों में मनाया जाता है|साथ ही इस दिन पर आप Short Speech On Dr Bhim Rao Ambedkar In HindiJai Bhim Status अम्बेडकर जयंती शायरी व बाबासाहेब अम्बेडकर जयंती की बधाई देख सकते हैं|

ज्ञान व्‍‍यक्ति के जीवन का आधार हैं।

हमारे पास यह स्‍वतंत्रता किस लिए है ? हमारे पास ये स्‍वत्‍नत्रता इसलिए है ताकि हम अपने सामाजिक व्‍यवस्‍था, जो असमानता, भेद-भाव और अन्‍य चीजों से भरी है, जो हमारे मौलिक अधिकारों से टकराव में है को सुधार सकें।

जब तक आप सामाजिक स्‍वतंत्रता नहीं हासिल कर लेते, कानून आपको जो भी स्‍वतंत्रता देता है वो आपके लिये बेमानी हैं।

मेरे नाम की जय-जयकार करने से अच्‍छा है, मेरे बताए हुए रास्‍ते पर चलें।

कानून और व्‍यवस्‍‍था राजनीतिक शरीर की दवा है और जब राजनीतिक शरीर बीमार पड़े तो दवा जरूर दी जानी चाहिए।

Bhimrao Ambedkar Quotes in Hindi

Ambedkar Quotes Hindi Me – Ambedkar Ji Quotes in Hindi

भाग्‍य में नही अपनी शक्ति में विश्‍वास रखो।

राजनीतिक अत्‍याचार सामाजिक अत्‍याचार की तुलना में कुछ भी नहीं है और एक सुधारक जो समाज को खारिज कर देता है वो सरकार को खारिज कर देने वाले राजतीतिज्ञ से कहीं अधिक साहसी हैं।

लोकतंत्र सरकार का महज एक रूप नहीं है।

इस दुनिया में महान प्रयासों से प्राप्‍त किया गया को छोडकर और कुछ भी बहुमूल्‍य नहीं है।

हालांकि, मैं एक हिंदू पैदा हुआ था, लेकिन मैं सत्‍यनिष्‍ठा से आपको विश्‍वास दिलाता हूँ कि मैं हिन्‍दु के रूप में मरूगां नहीं।

Babasaheb Ambedkar Jayanti Quotes in Hindi

मैं गौरी, गणपति और हिन्‍दुओं के अन्‍य देवी-देवताओं में आस्‍था नहीं रखूँगा और न ही मैं उनकी पूजा करूँगा।

जीवन लम्‍बा होने की बजाय महान होना चाहिए।

हर व्‍यक्ति जो मिल के सिद्धांत कि एक देश दूसरे देश पर शाशन नहीं कर सकता को दोहराता है उसे ये भी स्‍वीकार करना चाहिए कि एक वर्ग दूसरे वर्ग पर शाशन नहीं कर सकता।

जो कौम अपना इतिहास नहीं जानती, वह कौम कभी भी इतिहास नहीं बना सकती।

उदासीनता लोगों को प्रभावित करने वाली सबसे खराब किस्‍म की बिमारी है।

Ambedkar Quotes on Education in Hindi

Ambedkar Famous Quotes in Hindi

मैं यह नहीं मानता और न कभी मानूंगा कि भगवान बुद्ध विष्‍णु के अवतार थे। मैं इसे पागलपन और झूठा प्रचार-प्रसार मानता हूँ।

मनुवाद को जड़ से समाप्‍त करना मेरे जीवन का प्रथम लक्ष्‍य है।

पति-पत्‍नी के बीच का सम्‍बन्‍ध घनिष्‍ट मित्रों के सम्‍बन्‍ध के सामान होना चाहिए।

सागर में मिलकर अपनी पहचान खो देने वाली पानी की एक बूँद के विपरीत, इंसान जिस समाज में रहता है, वहां अपनी पहचान नहीं खोता।

जो धर्म जन्‍म से एक को श्रेष्‍ठ और दूसरे को नीच बनाए रखे, वह धर्म नहीं, गुलाम बनाए रखने का षड़यंत्र है।

अम्बेडकर के राजनीतिक विचार

रात रातभर मैं इसलिये जागता हूँ क्‍योंकि मेरा समाज सो रहा है।

मैं राजनीति में सुख भोगने नहीं बल्कि अपने सभी दबे-कुचले भाईयों को उनके अधिकार दिलाने आया हूँ।

यदि मुझे लगा कि संविधान का दुरूपयोग किया जा रहा है, तो मैं इसे सबसे पहले जलाऊंगा।

एक सफल क्रांति के‍ लिए सिर्फ असंतोष का होना पर्याप्‍त नहीं है। जिसकी आवश्‍यकता है वो है न्‍याय एवं राजनीतिक और सामाजिक अधिकारों में गहरी आस्‍था।

हम सबसे पहले और अंत में भारतीये हैं।

यदि हम एक संयुक्‍त एकीकृत आधुनिक भारत चाहते हैं तो सभी धर्मों के शाश्‍त्रों की संप्रभुता का अंत होना चाहिए।

Quotes on babasaheb ambedkar


Mahatma came and went but untouchable remained untouchable
Copy Tweet
Copied Successfully !

Life should be great rather than long.
Copy Tweet
Copied Successfully !

1 thought on “भीमराव अम्बेडकर के विचार 2021 – अम्बेडकर के सामाजिक विचार – Bhimrao Ambedkar Quotes in Hindi”

  1. Aapka yah post kafi achha laga. baba saheb bhi rao ambedar ke vicharo ka bahut hi badhya sangrah apne share kya hain iske liye Dhnhya bad.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *