Hindi Shayari

डॉ बाबासाहेब आंबेडकर शायरी 2018 – Bhimrao Ambedkar Sher Shayari in Hindi – जय भीम शेरो शायरियाँ

Dr Babasaheb Ambedkar Shayari : डॉ. बाबा साहेब आंबेडकर जी एक महान व्यक्ति थे कई लोग तो उन्हें भगवान मानते है व अपने घर में उनकी पूजा भी करते है इनका जन्म 4 अप्रैल 1891 में हुआ था | १४ अप्रैल के दिन को ही पूरे भारत देश में आंबेडकर जयंती के दिवस के रूप में मनाया जाता है और पुरे भारत में छुट्टी होती है | इस दिन की बधाई देने के लिए दलित समाज के लोग एक दूसरे को आंबेडकर जी के ऊपर कुछ बेहतरीन शायरियां सेंड करते है अगर आप उन शायरियो के बारे में जानना चाहे तो इसके बारे में आप यहाँ से जानकारी पा सकते है |

आंबेडकर शायरी इन हिंदी

अगर आप अम्बेडकर जयंती के उपलक्ष्य में कुछ बेहतरीन shayari on, shayari in hindi on ambedkar jayanti, hindi shayari on babasaheb ambedkar babasaheb ambedkar in marathi, बाबासाहेब शायरी फोटो, shayari on dr babasaheb ambedkar, shayari on dr br ambedkar in hindi, d.r bhimrao shayari, d.r bhim rao shayari, shayari on bhimrao ambedkar, hindi shayari on dr ambedkar, shayari on ambedkar in hindi, sher shayari on ambedkar, shero shayari on ambedkar, जानना चाहे तो यहाँ से जाने व अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते है :

है ये सारा जहाँ जिनकी शरण में
हमारा है नमन उन बाबा के चरण में
है पूजा के योग्य बाबा हम सबकी नजर में
आप मिलकर फूल बरसायें बाबा के चरण में.

आज का दिन है बड़ा महान
बनकर सूरज चमका इक इंसान
कर गये सबके भले का ऐसा काम
बना गये हमारे देश का संविधान

नज़ारे देखे हमने हजारों
देखा न कभी ऐसा नजारा
आसमां में देखे सितारे बहुत
पर भीम जैसा सितारा न देखा

डॉ बाबासाहेब आंबेडकर मराठी शायरी

गरज उठे गगन सारा,
समुन्दर छोडें आपना की नारा,
हिल जाए जहान सारा,
जब गूंजे “जय भीम” का नारा।

Dr Babasaheb Ambedkar Shayari in Hindi

आप इस आर्टिकल में पाएंगे डॉ बाबासाहेब आंबेडकर शेर शायरी, बाबासाहेब आंबेडकर शेरो शायरी मराठी, बाबासाहेब आंबेडकर मराठी शायरी, डॉ बाबासाहेब आंबेडकर मराठी शायरी, जय भीम फोटो, ambedkar jayanti par shayari, जय भीम शायरी, dr babasaheb ambedkar jayanti sms, बाबासाहेब अम्बेडकर पर कविता, जय भीम शायरी मराठी जिन्हे आप facebook व whatsapp पर अपनी भीम आर्मी के साथ शेयर कर सकते हैं|

कुरान कहता है मुसलमान बनो
बाइबल कहता है ईसाई बनो
भगवत गीता कहती है हिन्दू बनो
लेकिन मेरे बाबासाहेब का
संविधान कहता है मनुष्य बनो
आंबेडकर जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं

रुतबा मेरे सर को तेरे संविधान से मिला है
ये सम्मान भी मुझे तेरे संविधान से मिला है
औरो को जो मिला है वो मुकदर से मिला है
हमें तो मुकदर भी तेरे संविधान से मिला है
*ना ‘जिंदगी’ की खुशी* ना ‘मौत’ का गम*
*जब तक है..दम..*”जय भीम” कहेंगे हम….!!!*

जय भीम शेरो शायरियाँ

Dr Babasaheb Ambedkar Sher o Shayari in Hindi

अगर आप आंबेडकर शायरी फोटो, poem on dr babasaheb ambedkar in hindi, baba saheb ki shayari, ambedkar shayri photo, ambedkar shayari image, dr babasaheb, ambedkar quotes in marathi, dr babasaheb ambedkar marathi suvichar, jai bhim shayari hindi, jay bhim shayari images, dr babasaheb ambedkar shayari in marathi के बारे में जानकारी पाना चाहे तो यहाँ से जान सकते है :

खाली नाम के यहा पर कितने भगवान हो गये……….
लेकीन एकही भीम के करम से आज हम इन्सान बन गये……….
जिन्हे चलना, संभलना याद न था….
आज धूल से उठकर आसमान बन गये …….
ये मेरे भीम बाबा हमको है बचाया तुमने…..
अरे ठुकराया था उस दुनिया ने…..
तो पहले गले से लगाया तुमने.

बाबासाहेब आंबेडकर शेरो शायरी

आंबेडकर जयंती के उपलक्ष में 14 अप्रैल 2018 को पूरा आसमान नीला हो जाएगा जब आप Jai bhim geet बजाते हुए जय भीम नारे लगाएंगे| अम्बेडकर जयंती के उपलक्ष पर हम आपके सामने पेश करने जा रहे हैं अम्बेडकर जयंती स्टेटस, जय भीम स्टेटसबाबासाहेब अम्बेडकर पर कविता| साथ ही इस दिन पर आप Short Speech On Dr Bhim Rao Ambedkar In Hindi व बाबासाहेब अम्बेडकर जयंती की बधाई देख सकते हैं|

देश के लिये जिन्हो ने विलाश को ठुकराया था।
गीरे हुये को जिन्होंने स्वाभिमान सिखाया था।
जिसने हम सबको तूफानों से टकराना सिखाया था।
देश का वो था अनमोल दिपक जो बाबा साहब कहलाया था।
आज हम उनकी बातो को आज दिल से अपनायेंगे,च
लो आज हम सब मिलकर आंबेडकर जयंती मनाये।

dr bhim rao ambedkar shayari

नीले अर्श पर नीली घटा छायी है ….
तेरे करम से बुद्ध की दौलत पायी है….
कोई नही पराया सारे भाई भाई है…
मिल जुलकर रहने मै सबकी भलाई है…
छोड्दो अपना पराया ए जय भिमवालो…
दिल से दिल मिलाने ये भिम जयंती आयी है…

Dr Babasaheb Ambedkar 125 Jayanti Shayari

सुनकर जमाने की बाते हम अपने”
आपको” नही बदलते.
भरोसा रखते है हम खुदसे
भी ज्यादा अपने “बाप” के विचारो पर,
इसलिए हम जय भिम वाले
कभी अपने “बाप” को नही बदलते.
जय भीम

वीराने जमीन पार बाबा भिमाजीने
ये गुलाबोंका बाग फुला दिया,
सदियों से पिछ्डे भाई और बहनो को
ये बुद्ध के द्वार मिला दिया,
अरे इज्जत कि रोटी तो क्या
पिने को दो घुट पानी तक नाही मिलता था,
उन सब अछुतों को प्यारे भीमराज ने
शेरनी का दुध पिला दिया |

नींद खोयी अपनी बाबा साहेब आपने
हम रोते हों को हंसाया बाबा आपने
कभी न भूलेंगे हम अपने बाबा साहेब को
कहता है जमाना बाबा साहेब आंबेडकर जिनको

Ambedkar Shayari SMS

अगर आप अम्बेडकर जयंती की शुभकामनाये देने के लिए कोई भी भाषा जैसे Hindi, English, Tamil, Telugu, Marathi, Punjabi, Gujarati, Kannada, Malayalam, Nepali के Langugage Font में साल 2007, 2008, 2009, 2010, 2011, 2012, 2013, 2014, 2015, 2016, 2017 के अनुसार बधाई सन्देश, शुभकामनाये, SMS, Messages, Wishes, Quotes, Status, Poem के Image, Wallpapers, Photos, Pictures जानना चाहे तो यहाँ से जान सकते है :

जब भीम थे चलते तो हजारों दिल मचलते
भीम जब रुकते तो तूफ़ान है रुक जाते
इतने काबिल थे बाबा की कभी इरादा न बदला
बाबा भीम ने तो सारा इतिहास बदल डाला

जिस पर चलता रहेगा ये भारत सदा
ऐसा इक रस्ता टीम बाबा बना गये
हिन्द की सरजमीं पर मेरे दोस्तों
भीम ने इक नया इतिहास लिख दिया.
* जय भीम *

नजारों मे नजारा देखा एसा नजारा नही देखा,
आसमान मे जब भी देखा
मेरे भीम जैसा सितारा नही देखा।

आंबेडकर शायरी इन हिंदी

अंबेडकर पर शायरी

फूलो की कहानी बहारो ने लिखी…
रातो की कहानी सितारों ने लिखी…
हम नहीं है किसी के गुलाम…
क्योंकि हमारी जिंदगी,
बाबासाहब जी ने
लिखी!!
जय भिम !

कर गुजर गये वो भीम थे,
दुनिया को जगाने वाले भीम थे,
हमने तो सिर्फ इतिहास पढा है यारो,
इतिहास बनाने वाले मेरे भीम थे।

देश प्रेम में जिसने आराम को ठुकराया था
गिरे हुए इंसान को स्वाभिमान सिखाया था
जिसने हमको मुश्किलों से लड़ना सिखाया था
इस आसमां पर ऐसा इक दीपक बाबा साहेब कहलाया था

Shayari Dr. Babasaheb Ambedkar

सच्चाई को कभी यारों छोडना नहीं
अपने वादो से मुख कभी मोडना नहीं
जो भूल गये भिम के एहसान को हमेशा
ऐसे मक्कारो से रिशता भुलकर भी जोडना नहीं।

पैदा ना होता वो मसीहा तो खुशियों का सिलसिला नहीं होता
बे रंग रहती ये ज़मी और आसमान का रंग नीला नहीं होता
भारत तो कब का कंगाल हो जाता यारो
अगर भीम राव आंबेडकर जैसे हीरा मिला नहीं होता

जिसने सबको समझा इक समान
ऐसे थे बाबा साहेब हमारे महान
सबको आजादी और ख़ुशी से जीना सिखाया भीम ने
स्वतंत्रता और समानता का नारा दिया भीम ने.

Bhimrao Ambedkar Sher Shayari in Hindi

Dr Babasaheb Ambedkar Jayanti Shayari in Marathi

ममता,करणा और समता जिसका है आधार
हमारी उजाड़ी जिन्दगी में ला दी बाबा साहेब ने बहार
हमारी आजादी की कहानी लिखी हमारे भीम ने
खुशियों भरा सजाया हमारा संसार भीम ने

भीम जी ने हमे बलवान बना डाला है
हटा ना पाये वो चट्टान बना डाला है
नये युग की हमे पहचान बना डाला है
और हवा के ये झोके को तुफान बना डाला है.।

डॉ बाबासाहेब आंबेडकर शेर शायरी

यह दिन Agra, Meerut, UP, Punjab, Haryana, Himachal Pradesh,  Jammu Kashmir, Bihar, Chhattisgarh, Delhi, Gujarat, Haryana, Jharkhand, Karnataka, mumbai, pune, Maharashtra, Meghalaya, Madhya pradesh, Punjab, Rajasthan, Tamil Nadu, Uttarakhand, Uttar Pradesh, सहित अन्य राज्यों में मनाया जाता है|

बाबा तेरी कलम के बल हम राज करते है।
तेरी करनी पे बाबा हम नाज करते है।
बदलेगा वक्त ओर जमाना भी।
जय भीम के उदघोष से ये आगाज करते है।

भारत के जनसागर मे भीम सा कोई तारा नहीं
और बोधिवृक्ष से बढकर पेढ इतना कोई हरा नहीं
मानवता का जो ज्ञान धम्मग्रंथ में लिखा है
वैसा और कोई मजहब के ग्रंथ में भरा नाहीं
हमने देखे है इस देश के नेता मरे इसी देश के लोगो के हाथो
लेकिन मेरा भीमराव आंबेडकर किसी के बंदूक की गोली से मरा नहीं।

2 Comments

Leave a Comment