Hindi Lekh Tyohaar

टीचर्स डे स्पीच इन हिंदी – शिक्षक दिवस पर भाषण – Teachers Day Speech in Hindi & English by Students Pdf Download

Teachers Day Speech in Hindi

Teachers Day 2019: टीचर डे एक बहुत ही अहम् दिन है जो की भारत में हर साल 5 सितम्बर को मनाया जाता है| इस दिन को पूरे विश्व में 5 अक्टूबर को मनाया जाता है पर भारत में इस दिन को भारत के इतिहास के महान पूर्व राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिवस पर मनाया जाता है| हर किसी के लिए अध्यापक माता एवं पिता के सामान अहमियत रखते है| वे हमे सही एवं गलत में अंतर करना सिखाते है| वे हमे जीवन में सफल होने का ज्ञान देते है| इस दिन को सभी अध्यापको के समर्पण एवं अपने छात्रों के प्रति प्रेम के सम्मान के लिए मनाया जाता है|

आज के इस पोस्ट में हम आपको teachers day speech by teacher in english, welcome speech for teachers day by students, teachers day speech in english pdf, teachers day essay in english, short speech on teachers day, teacher speech to students, speech on importance of teachers, poetry on teachers day, आदि की जानकारी इन मराठी, हिंदी, इंग्लिश, बांग्ला, गुजराती, तमिल, तेलगु, आदि की जानकारी देंगे जिसे आप अपने स्कूल के स्पीच प्रतियोगिता, कार्यक्रम या भाषण प्रतियोगिता में प्रयोग कर सकते है| ये स्पीच कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9 ,10, 11, 12 और कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए दिए गए है|

Teachers Day Speech in Hindi

आदरणीय प्रधानाचार्य जी, शिक्षक व शिक्षिकाएं और मेरे प्यारे सहपाठियों को मेरा नमस्ते। आज हम सभी यहाँ सबसे सम्मानीय समारोह, शिक्षक दिवस को मनाने के लिए उपस्थित हैं। वास्तव में, यह पूरे भारत में, विद्यार्थियों के लिए सबसे सम्मानपूर्ण अवसर है, जब वो अपने शिक्षिकों को उनके द्वारा प्रदान किए गए ज्ञान के रास्ते के लिये, उन्हें आभार प्रकट करते हैं। यह आज्ञाकारी छात्रों के द्वारा अपने शिक्षकों को सम्मान देने के लिए मनाया जाता है। इसलिए, प्यारे साथियों, अपने अध्यापकों को तहे दिल से सम्मान देने के लिए इस उत्सव को मनाने में शामिल हो जाओ। उन्हें समाज की रीढ़ की हड्डी कहा जाता है क्योंकि वे हमारें चरित्र के निर्माण, भविष्य को आकार देने में और देश का आदर्श नागरिक बनने में हमारी मदद करते हैं।

शिक्षक दिवस पूरे भारत में हर साल 5 सितम्बर को, शिक्षकों को हमारी शिक्षा के साथ ही समाज और देश के लिए बहुमूल्य योगदान को सम्मान देने के लिए मनाया जाता है। 5 सितम्बर को शिक्षक दिवस मनाने के पीछे बहुत बड़ा कारण है। वास्तव में, 5 सितम्बर डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म दिवस है। वह महान व्यक्ति थे और शिक्षा के लिए पूरी तरह से समर्पित थे। वह एक विद्वान, राजनयिक, भारत के उप-राष्ट्रपित, भारत के राष्ट्रपति और सबसे महत्वपूर्ण शिक्षक के रुप में, बहुत अच्छे से जाने जाते हैं। 1962 में उनके राष्ट्रपति के रुप में चुनाव के बाद, विद्यार्थियों ने, उनके जन्मदिन 5 सितम्बर को मनाने की प्रार्थना की। बहुत अधिक अनुरोध करने के बाद उन्होंने जवाब दिया कि, 5 सितम्बर, को मेरे व्यक्तिगत जन्मदिन के रुप में मनाने के स्थान पर यह अच्छा होगा कि, इस दिन को पूरे शैक्षिक पेशे के लिए समर्पित किया जाये। और तब से 5 सितम्बर पूरे भारत में शैक्षिक पेशे के सम्मान में शिक्षक दिवस के रुप में मनाया जाता है।

भारत के सभी छात्रों के लिए, शिक्षक दिवस उनके भविष्य को आकार देने में उनके निरंतर, निस्वार्थ और कीमती प्रयासों के लिए उनके द्वारा अपने शिक्षकों के प्रति सम्मान और कृतज्ञता को अर्पित करने का उत्सव और अवसर है। वे देश में गुणवत्ता की शिक्षा प्रणाली को समृद्ध करने और इसके लिए निरतंर बिना थकावट के किए गए प्रयासों ही कारण हैं। हमें हमारे शिक्षक अपने स्वंय के बच्चों से कम नहीं समझते और हमें पूरी मेहनत से पढ़ाते हैं। एक बच्चे के रुप में, जब हमें प्रेरणा और प्रोत्साहन की आवश्यकता होती है, जिसे हम निश्चित रुप से अपने अध्यापकों से प्राप्त करते हैं। वे हमें जीवन में किसी भी बुरी स्थिति से ज्ञान और धैर्य से माध्यम से बाहर निकलना सीखाते हैं। प्रिय अध्यापकों, हम सभी वास्तव में हमेशा आपके आभारी रहेगें।

धन्यवाद।

Teachers Day Speech by a Teacher

आइये हम आपको teachers day speech to students, 5 september teachers day speech in marathi, 5 sept teachers day speech, टीचर्स डे स्पीच इन हिंदी बय स्टूडेंट, teacher day speech in hindi pdf download, हैप्पी टीचर्स डे स्पीच, सर्वेपल्ली राधाकृष्णन टीचर्स डे, speech on teachers day in hindi, किसी भी भाषा जैसे Hindi, हिंदी फॉण्ट, मराठी, गुजराती, Urdu, उर्दू, English, sanskrit, Tamil, Telugu, Marathi, Punjabi, Gujarati, Malayalam, Nepali, Kannada के Language Font में साल 2007, 2008, 2009, 2010, 2011, 2012, 2013, 2014, 2015, 2016, 2017 का full collection जिसे आप अपने अध्यापक, मैडम, mam, सर, बॉस, माता, पिता, आई, बाबा, sir, madam, teachers, boss, principal, parents, master, relative, friends & family whatsapp, facebook (fb) व instagram पर share कर सकते हैं|

आदरणीय अध्यापकों और मेरे प्यारे मित्रों को सुप्रभात। जैसा कि हम सभी यहाँ एकत्र होने का कारण जानते हैं। हम आज यहाँ शिक्षक दिवस मनाने के लिए और हमारे व राष्ट्र के भविष्य के निर्माण के लिए शिक्षकों के कठिन प्रयासों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए इकट्ठा हुए हैं। आज 5 सितम्बर है, और यह दिन हर साल हम बड़े उत्साह, खुशी और उल्लास के साथ शिक्षक दिवस के रुप में मनाते हैं। सबसे पहले, मैं अपने कक्षा अध्यापक को इस महान अवसर पर, मुझे भाषण देने का अवसर प्रदान करने के लिए धन्यवाद कहता/कहती हूँ। मेरे प्यारे मित्रों, शिक्षक दिवस के इस अवसर पर, मैं शिक्षकों के महत्व पर हिन्दी में अपने विचार भाषण के माध्यम से रखना चाहता/चाहती हूँ।

हर साल 5 सितम्बर, पूरे भारत में शिक्षक दिवस के रुप में मनाया जाता है। वास्तव में, 5 सितम्बर, डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्मदिवस है, जो महान विद्वान और शिक्षक थे। अपने बाद के जीवन में वह गणतंत्र भारत के प्रथम उप-राष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति बने।

पूरे देश के विद्यार्थी इस दिन को शिक्षकों को सम्मानित करने के लिए मनाते हैं। यह सही कहा गया है कि, शिक्षक हमारे समाज की रीढ़ की हड्डी होते हैं। वे विद्यार्थियों के चरित्र का निर्माण करने और उसे भारत के आदर्श नागरिक के आकार में ढालने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

अध्यापक छात्रों को अपने स्वंय के बच्चे की तरह बड़ी सावधानी और गंभीरता से शिक्षित करते हैं। किसी ने सही कहा कि, शिक्षक अभिभावकों से भी महान होता है। अभिभावक एक बच्चे को जन्म देते हैं, वहीं शिक्षक उसके चरित्र को आकर देकर उज्ज्वल भविष्य बनाते हैं। इसलिए, हमें उन्हें कभी भी भूलना और नजरअंदाज नहीं करना चाहिए, हमें हमेशा उनका सम्मान और उनसे प्रेम करना चाहिए।

हमारे माता-पिता हमें प्यार और गुण देने के लिए जिम्मेदार हैं हालांकि, हमारे शिक्षक पूरा भविष्य उज्ज्वल और सफल बनाने के लिए जिम्मेदार हैं। वे हमें अपने निरंतर प्रयासों के माध्यम से हमारे जीवन में शिक्षा के महत्व से अवगत कराते हैं। वे हमारी प्रेरणा के स्रोत होते हैं जो हमें आगे जाने और सफलता प्राप्त करने के लिए प्रेरित करते हैं। वे हमें संसारभर के महान व्यक्तित्वों का उदाहरण देकर शिक्षा की ओर प्रोत्साहित करते हैं। वे हमें बहुत मजबूत और जीवन में आने वाली हरेक बाधा का सामना करने के लिए तैयार करते हैं। वे पूरी तरह से अपार ज्ञान और बुद्धि से भरे होते हैं जिसका प्रयोग करके वे हमारे जीवन को पोषित करते हैं। चलों आओ मेरे प्यारे साथियों, हम सभी एक साथ अपने शिक्षकों के सम्मान में कहें कि, ‘हमारे आदरणीय शिक्षकों जो कुछ भी आपने हमारे लिए किया उसके लिए हम आपके हमेशा आभारी रहेगें’। मेरे प्यारे मित्रों, हमें हमेशा अपने अध्यापकों के आदेशों का पालन करना चाहिए और देश का योग्य नागरिक बनने के लिए उनकी सलाह का अनुकरण करना चाहिए।

धन्यवाद।

Teachers Day in Hindi Speech

अक्सर class 1, class 2, class 3, class 4, class 5, class 6, class 7, class 8, class 9, class 10, class 11, class 12 के बच्चो को कहा जाता है टीचर्स डे पर स्पीच लिखें| आइये अब हम आपको स्पीच ऑन टीचर्स डे, Teachers Day Quotations,टीचर्स डे क्यों मनाया जाता है, स्पीच ों टीचर्स डे, शिक्षक दिवस पर कविता, teachers day speech in english, Anchoring Script for Teachers Day in Hindi teachers day speech in hindi by student, शिक्षक दिवस पर निबंध, teachers day speech in english for school students, शिक्षक दिवस पर सुविचार, टीचर्स डे स्पेशल स्पीच, (speech recitation activity) निश्चित रूप से आयोजन समारोह या बहस प्रतियोगिता (debate competition) यानी स्कूल कार्यक्रम में स्कूल या कॉलेज में भाषण में भाग लेने में छात्रों की सहायता करेंगे। इन टीचर डे पर हिंदी स्पीच हिंदी में 100 words, 150 words, 200 words, 400 words जिसे आप pdf download भी कर सकते हैं| आप सभी को शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

Teachers Day Speech by a Teacher

आदरणीय प्रधानाध्यापक, सर, मैडम और मेरे प्यारे सहपाठियों को सुबह की नमस्ते। जैसा कि हम सभी जानते हैं कि, आज हम यहाँ शिक्षक दिवस मनाने के लिए एकत्र हुए हैं। मैं ………कक्षा…. में पढ़ने वाला/वाली विद्यार्थी, शिक्षक दिवस पर अपने विचार रखना चाहता/चाहती हूँ। लेकिन, सबसे पहले मैं शिक्षक दिवस के महान अवसर पर भाषण देने का मौका देने के लिए अपनी कक्षा अध्यापिका को धन्यवाद कहना चाहता/चाहती हूँ। मेरे भाषण का विषय है, “हमारे जीवन में शिक्षक की इतनी महत्ता क्यों है”।

भारत में, विद्यार्थियों द्वारा शिक्षक दिवस हर साल 5 सितम्बर को मनाया जाता है। यह डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म दिवस है। उनका जन्म दिन उनके 1962 में भारत के राष्ट्रपति बनने के बाद के समय से, विद्यार्थियों के अनुग्रह पर शिक्षक दिवस के रुप में मनाया जाता है।

शिक्षक वास्तव में शिक्षा और विद्यार्थियों के जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका को निभाते हैं। शिक्षक आमतौर पर उचित दृष्टि, ज्ञान और अनुभव वाले व्यक्ति बन जाते हैं। शिक्षकों का पेशा किसी भी अन्य पेशे से ज्यादा बड़ी जिम्मेदारियों वाला होता है। विद्यार्थियों और राष्ट्र की वृद्धि, विकास, और दोनों की भलाई पर शैक्षिक पेशा गहरा प्रभाव रखता है। मदन मोहन मालवीय के अनुसार (बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय के संस्थापक), “एक बच्चा जो आदमी का पिता होता है, उसके मन को ढालना उसके शिक्षक पर बहुत अधिक निर्भर करता है। यदि वह देशभक्त है और देश के लिए समर्पित है और अपनी जिम्मेदारियों को समझता है, तो वह देशभक्त पुरुषों और महिलाओं की एक जाति को पैदा कर सकता है जो धार्मिकता से ऊपर देश को और सामुदायिक लाभ से ऊपर राष्ट्रीय लाभ को रखेंगे।”

शिक्षक की विद्यार्थियों, समाज और देश की शिक्षा में बहुत सारी महत्वपूर्ण भूमिकाएं हैं। लोग, समाज और देश का विकास एवं वृद्धि शिक्षा की गुणवत्ता पर निर्भर करता है, जो केवल अच्छे शिक्षक के द्वारा दी जाती है। देश में राजनेताओं, डॉक्टरों, इंजीनियरों, व्यापारियों, किसानों, कलाकारों, वैज्ञानिकों, आदि की जरुरत को पूरा करने के लिए अच्छी गुणवत्ता की शिक्षा बहुत आवश्यक है। समाज के लिए आवश्यक ज्ञान के लिए शिक्षक किताबों, लेखों, आदि के माध्यम से प्राप्त करने के लिए निरंतर कठिन परिश्रम करते हैं। वे अपने विद्यार्थियों को हमेशा दिशा-निर्देशित करते हैं और उन्हें अच्छे कैरियर के लिए रास्ता बताते हैं। भारत में ऐसे कई महान अध्यापक है जिन्होंने अपने आपको आने वाले शिक्षकों के लिए प्रेरणास्रोत के रुप में स्थापित किया है।

एक आदर्श शिक्षक को निष्पक्ष और अपमान से प्रभावित हुए बिना हर समय विनम्र रहना चाहिए। विद्यालय में सभी विद्यार्थियों के लिए शिक्षक अभिभावकों की तरह होते हैं। वे छात्रों के स्वास्थ्य और एकाग्रता के स्तर को बनाए रखने के लिए अपने सर्वश्रेष्ठ प्रयास करते हैं। वे अपने विद्यार्थियों के मानसिक स्तर में सुधार करने के लिए पढ़ाई से अलग अतिरिक्त पाठ्क्रम गतिविधियों में भाग लेने के लिए भी प्रोत्साहित करते हैं।

मैं शिक्षा, विद्यार्थियों और शिक्षकों के बारे में भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा शिक्षक दिवस पर उनके विद्यार्थियों के साथ हुए वार्तालाप में कही गयी कुछ बातों को कहता/कहती हूँ:

“शिक्षा, राष्ट्र के चरित्र निर्माण के लिए एक ताकत बन जानी चाहिए।”
“बच्चों के साथ वार्तालाप करों: बचपन का आनंद लो। मरते समय तक अपने अंदर के बच्चे को जाने मत दो।”
“हमें अपने समाज में शिक्षकों के प्रति सम्मान को बहाल करना चाहिए।”
“क्या भारत अच्छे शिक्षकों को निर्यात करने का सपना नहीं देख सकता।”
“बच्चे राष्ट्र के निर्माण में स्वच्छता, ऊर्जा और पानी को बचाने के माध्यम से कर सकते हैं।”

स्पीच ऑन टीचर्स डे इन हिंदी

प्रधानाचार्य, आदरणीय अध्यापक व अध्यापिकाएं और यहाँ इकट्ठे हुए मेरे प्यारे सहपाठियों को सुप्रभात। हम सभी यहाँ शिक्षक दिवस के उत्सव को मनाने के लिए एकत्र हुए हैं। आज 5 सितम्बर है. जो सभी कॉलेजों और स्कूलों में छात्रों के द्वारा अपने शिक्षकों को, विद्यार्थियों को ज्ञान प्रदान करके उनके कैरियर को आकार देने के द्वारा समाज और देश में उनके अमूल्य योगदान को सम्मान देने के लिए मनाया जाता है। शिक्षक दिवस का कार्यक्रम हमारे देश में प्रसिद्ध राष्ट्रीय कार्यक्रम हैं, यह डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन से, विद्यार्थियों के द्वारा उनके जन्मदिन को मनाने के आग्रह के कारण मनाया जाता हैं। 5 सितम्बर डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्मदिवस है, जो शिक्षक दिवस के रुप में मनाया जाता है। विद्यार्थी अपने शिक्षकों को उनके स्वार्थरहित प्रयासों और पूरे देश में शिक्षा व्यवस्था को समृद्ध बनाने के लिए सम्मान प्रदर्शित करते हैं।

शिक्षक दिवस विभिन्न देशों में अलग-अलग तिथियों को एक विशेष कार्यक्रम के रुप में मनाया जाता है। चीन में, यह हर साल 10 सितम्बर को मनाया जाता है। सभी देशों में इस कार्यक्रम को मनाने का उद्देश्य आमतौर पर शिक्षकों को सम्मान देना और शिक्षा के क्षेत्र में प्राप्त उपलब्धियों की प्रशंसा करना है। इस कार्यक्रम के आयोजन के दौरान स्कूलों और कॉलेजों में विद्यार्थियों के द्वारा बहुत सी तैयारियाँ की जाती है। बहुत से विद्यार्थी इस कार्यक्रम को यादगार बनाने के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों, भाषणों और अन्य गतिविधियों में भाग लेकर मनाते हैं। कुछ विद्यार्थी इसे अपने ही तरीके से अपने प्रिय अध्यापक को कोई फूल, कार्ट, गिफ्ट, ई-ग्रीटिंग कार्ड, एस.एम.एस., मैसेज आदि के द्वारा उनका आदर करके और प्रशंसा करने के माध्यम से मनाते हैं।

शिक्षक दिवस, सभी विद्यार्थियों के लिए अपने शिक्षकों के सम्मान और आदर में कुछ विशेष आयोजन करने का एक अद्भुत अवसर है। यह एक नये शिक्षक के लिए भविष्य में शिक्षा की ओर जिम्मेदार शिक्षक बनने के लिए प्रशंसा की तरह है। एक विद्यार्थी के रुप में, मैं अपने जीवन में हमेशा शिक्षकों का/की आभारी रहूँगा/रहूँगी।

धन्यवाद।

Teachers Day Speech by Students in English

Good morning to all the teachers and my dear friends. The light of the world, the beacon in the dark and the hope that gives us strength to survive, is our teacher. Today we celebrate Teachers’ Day. A day, kept aside to honour the gifted souls who work everyday to make sure that the future is bright for all of us. Let us welcome all the teachers with a big round of applause. On this beautiful occasion, let us take the opportunity to convey our wishes to all our teachers, who have given impeccable contribution in shaping us. Every year 5th of September, we celebrate Teachers Day. It is a day filled with lots of excitement, joy and happiness as students are eagerly looking forward to tell their teachers how and why are they special to them. It is my honour to to talk about our dear teachers on this wonderful occasion. We celebrate Teachers’ day on 5th of September every year in India. September 5th is marked by the birth anniversary of Dr. Sarvepalli Radhakrishnan and the Teachers’ day is celebrated in commemoration of his birthday. Along with being a succesful leader in the form of the President of the Country, Dr. Sarvepalli Radhakrishnan was great scholar and an excellent teacher. Also Read: Teachers’ Day: Tips to make the D-Day Special Students across the country celebrate this day to pay respect and thank their teachers. Teachers are the back bone of our society. They spear head change by shaping and building students’ personality and make them ideal citizens of the country. As one looks at the great impact on the growth, development and well being of the students and nation, one must agree that teaching is a noble profession. There is a saying that teachers are greater than the parents. Parents give birth to a child whereas teachers mould that child’s personality and provide a bright future. Apart from academics, teachers stand by us at every step to guide, motivate and inspire to become better people. They are the source of knowledge and wisdom. From them leads the ideas and thougts, that one day each one of use will use to provide back into this society. I would like to extend my gratitude to every teacher for selffless service and dynamic support.We are always grateful to you. Thank you everyone.

Teachers Day Speech in Marathi

आदरणीय शिक्षक आणि माझ्या प्रिय मित्रांना शुभ प्रभात आम्ही सर्व येथे एकत्र काही कारण माहित म्हणून. शिक्षक दिन साजरा करण्यासाठी आणि आपला भविष्यासाठी आणि राष्ट्र निर्माण करण्याच्या शिक्षकांच्या प्रयत्नांना श्रद्धांजली करण्यासाठी आम्ही येथे आहोत. आज 5 सप्टेंबर आहे, आणि प्रत्येक दिवशी आम्ही या दिवशी मोठ्या उत्साहात, शिक्षक दिन म्हणून आनंद आणि उत्साह साजरा करतो. सर्वप्रथम मी माझ्या महान वर्गाच्या शिक्षकांना या महान प्रसंगाबद्दल धन्यवाद देतो कारण मला भाषण देण्याची संधी दिल्याबद्दल. माझ्या प्रिय मित्रांच्या या प्रसंगी, शिक्षकांचा दिवस, शिक्षकांचे महत्त्व असलेल्या भाषणातून मी माझे विचार हिंदीमध्ये ठेवू इच्छितो.

प्रत्येक वर्षी 5 सप्टेंबर रोजी संपूर्ण भारत शिक्षक दिन म्हणून साजरा केला जातो. खरं तर, 5 सप्टेंबर डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णनचा वाढदिवस आहे, जो महान विद्वान आणि शिक्षक होता. आपल्या नंतरच्या जीवनात ते भारताचे पहिले उपराष्ट्रपती व प्रजासत्ताक पक्षाचे दुसरे अध्यक्ष झाले.

संपूर्ण देशभरातील विद्यार्थी शिक्षकांचा सन्मान करण्यासाठी हा दिवस साजरा करतात. हे योग्य आहे की शिक्षक आपल्या समाजाची आधारस्तंभ आहेत. विद्यार्थ्यांच्या वर्गाचे निर्माण करण्यासाठी आणि त्यांना आदर्श नागरिक म्हणून आकार देताना ते एक महत्त्वाची भूमिका बजावतात.

शिक्षक विद्यार्थ्यांना त्यांच्या स्वतःच्या बालमित्रांसारखीच सावधगिरी आणि गंभीरतेने शिक्षण देतात. कोणीतरी असे म्हणत आहे की पालकांपेक्षा शिक्षक सुद्धा महान आहे. पालक आपल्या मुलाला उज्ज्वल भविष्याकडे आणतात, तर शिक्षक आपल्या चेहऱ्याकडे एक उज्ज्वल भविष्य देतो. म्हणून, आपण त्यांना कधीच विसरू नये आणि त्यांच्याकडे दुर्लक्ष करू नये, तर आपण त्यांना आदर आणि त्यांच्यावर प्रेम करायला हवे.

आपले पालक आम्हाला प्रेम आणि गुण देण्यासाठी जबाबदार आहेत, तथापि, आपले शिक्षक संपूर्ण भविष्यातील उज्ज्वल आणि यशस्वी होण्यासाठी जबाबदार आहेत. ते आपल्या निरंतर प्रयत्नांमुळे आपल्या आयुष्यात शिक्षणाचे महत्त्व जागृत करतात. ते आपल्या प्रेरणेचे स्रोत आहेत जे आपल्याला पुढे जाण्यासाठी आणि यश प्राप्त करण्यास प्रेरित करते. ते जगभरातील महान व्यक्तींची उदाहरणे देऊन शिक्षणासाठी आपल्याला प्रोत्साहित करतात. ते आम्हाला खूप मजबूत करतात आणि आयुष्यात येणारे प्रत्येक बाधाला तोंड देण्यास तयार असतात. ते पूर्णपणे अफाट बुद्धी आणि बुद्धीने भरलेले आहेत, ज्यायोगे ते आपल्या आयुष्याचे पालन करतात. चला माझ्या प्रिय सहकारी ये, आम्ही सर्व एकत्र त्यांच्या शिक्षक बाबतीत म्हणतात, ‘आमच्या आदरणीय काही शिक्षकांनी आम्हाला आम्ही नेहमी संपर्कात असल्याचे कृतज्ञ व्हाल झाले आहेत. माझ्या प्रिय मित्रांनो, आपण नेहमी आपल्या शिक्षकांच्या आदेशांचे पालन केले पाहिजे आणि देशाचे पात्र नागरिक बनण्यासाठी त्यांच्या सल्ल्याचे पालन केले पाहिजे.

धन्यवाद.

Teachers Day Speech in Tamil

மரியாதைக்குரிய ஆசிரியர்களுக்கும் என் அன்பான நண்பர்களுக்கும் நல்ல காலை இங்கே சேகரிப்பதற்கான காரணம் எங்களுக்குத் தெரியும். நாம் இன்று ஆசிரியர்கள் தினம் இங்கே மற்றும் எங்களுக்கு சேகரிக்க மற்றும் ஆசிரியர்கள் கடின முயற்சிகள் அஞ்சலி செலுத்தும் நாட்டின் எதிர்கால கட்ட. டுடே, செப்டம்பர் 5, மற்றும் நாம் பெரும் உற்சாகம், மகிழ்ச்சி மற்றும் மகிழ்ச்சியில் ஆசிரியர்கள் நாளாக கொண்டாடப்படுகிறது ஒவ்வொரு ஆண்டும் இந்த நாள். எல்லாவற்றிற்கும் மேலாக, இந்த மாபெரும் சந்தர்ப்பத்தில் என் வகுப்பு ஆசிரியருக்கு நன்றி தெரிவிக்க விரும்புகிறேன், ஒரு பேச்சு கொடுக்க எனக்கு வாய்ப்பளித்தேன். இந்த சந்தர்ப்பத்தில், என் கண்ணே நண்பர்கள், ஆசிரியர் தினம், நான் ஆசிரியர்கள் முக்கியத்துவம் இந்தி தங்கள் பேச்சுகள் மூலம் வைக்க வேண்டும் / வேண்டும்.

ஒவ்வொரு ஆண்டும் செப்டம்பர் 5 ம் தேதி இந்தியா முழுவதும் ஆசிரியர் தினமாக கொண்டாடப்படுகிறது. உண்மையில், செப்டம்பர் 5 அன்று டாக்டர். ஒரு பெரும் கல்வியாளர் மற்றும் ஆசிரியர் யார் எஸ் பிறந்தநாள் ராதாகிருஷ்ணன். அவரது பிற்பகுதியில், அவர் இந்தியாவின் முதல் துணைத் தலைவராகவும் குடியரசு குடியரசுத் தலைவராகவும் ஆனார்.

நாடெங்கிலும் உள்ள மாணவர்கள் இன்று கௌரவ ஆசிரியர்களை கொண்டாடுகிறார்கள். ஆசிரியர்கள் நம் சமுதாயத்தின் முதுகெலும்பாக இருப்பதே சரியானது. அவர்கள் மாணவர்களின் குணாதிசயங்களை வளர்ப்பதிலும், இந்தியாவின் சிறந்த குடிமகனாக வடிவமைப்பதிலும் முக்கிய பங்கு வகிக்கிறார்கள்.

ஆசிரியர்கள் தங்கள் குழந்தை போன்ற பெரிய எச்சரிக்கையுடன் மற்றும் தீவிரத்தன்மை கொண்ட மாணவர்கள் கல்வி. யாரோ ஒருவர் சொன்னார், ஆசிரியர் பெற்றோரை விடவும் பெரியவர் என்று சொன்னார். பெற்றோர் ஒரு குழந்தையைப் பெற்றெடுக்கிறார்கள், அதே சமயத்தில் ஆசிரியருக்கு ஒரு பிரகாசமான எதிர்காலத்தைத் தருகிறது. எனவே, நாம் எப்போதும் மறந்துவிடக் கூடாது, அவர்களை புறக்கணித்து விடுவோம், எப்போதும் அவர்களை மதிக்க வேண்டும், அவர்களை நேசிக்க வேண்டும்.

எங்கள் பெற்றோர்கள் எங்களுக்கு அன்பு மற்றும் குணங்கள் வழங்க பொறுப்பு, இருப்பினும், எங்கள் ஆசிரியர்கள் முழு எதிர்கால பிரகாசமான மற்றும் வெற்றிகரமான செய்யும் பொறுப்பு. நமது நிலையான முயற்சிகளால் நம் வாழ்வில் கல்வி முக்கியத்துவத்தை அவர்கள் அறிவார்கள். அவர்கள் நம்மை தூண்டுபவர்களாகவும், வெற்றியை அடைவதற்காகவும் நம்மை ஊக்கப்படுத்துகிறார்கள். உலகெங்கிலும் உள்ள பெரிய நபர்களின் உதாரணங்களை வழங்குவதன் மூலம் அவர்கள் கல்விக்கு நம்மை ஊக்கப்படுத்துகிறார்கள். வாழ்க்கையில் வரும் ஒவ்வொரு தடையையும் எதிர்கொள்ள அவர்கள் நம்மை மிகவும் வலுவாகவும், தயாராகவும் செய்கிறார்கள். அவர்கள் முழுமையான ஞானமும் ஞானமும் நிறைந்தவர்களாய் இருக்கிறார்கள். வா நமது மதிப்பிற்குரிய ஆசிரியர்கள் சில நாம் எப்போதும் தொடர்பில் இருக்க நன்றியுடையவனாக இருப்பேன் நமக்கு செய்தேன், என் கண்ணே சக வாருங்கள் ‘நாங்கள் அனைவரும் ஒன்றாக தங்கள் ஆசிரியர்கள் மரியாதை சொல்ல. என் அன்பே நண்பர்கள், நாம் எப்போதும் செயல்படுவதற்கான அவற்றின் ஆசிரியர்கள் மற்றும் நாட்டின் தகுதியுள்ள குடிமக்கள் கட்டளைகளுக்குக் கீழ்படிய வேண்டும் தங்கள் ஆலோசனையை பின்பற்ற வேண்டும்.

நன்றி.

Teachers Day Speech in Telugu

గౌరవనీయులైన ఉపాధ్యాయులకు, నా ప్రియ స్నేహితులకు గుడ్డు ఉదయం మేము ఇక్కడ అన్నింటిని తెలుసుకోవటానికి కారణం తెలుసు. మేము టీచర్స్ డే కోసం ఇక్కడ నేడు మాకు సేకరించిన మరియు ఉపాధ్యాయులు యొక్క హార్డ్ ప్రయత్నాలు కు నివాళిగా దేశం యొక్క భవిష్యత్తు నిర్మించడానికి. నేడు, సెప్టెంబర్ 5, మరియు మేము గొప్ప ఉత్సాహంతో, ఆనందం మరియు ఆనందం తో టీచర్స్ డే గా జరుపుకుంటారు ప్రతి సంవత్సరం ఈ రోజు. మొదటి అన్ని యొక్క, నేను ఈ గొప్ప అవకాశాన్ని మీ తరగతిలో గురువు ధన్యవాదాలు, నాకు చెప్పారు మాట్లాడే అవకాశాన్ని ఇచ్చింది / ఆమె చెప్పారు. ఈ సందర్భంగా, నా ప్రియమైన స్నేహితులు, టీచర్స్ డే, నేను ఉపాధ్యాయులు ప్రాముఖ్యతను హిందీలో వారి ఉపన్యాసాలు ఉంచాలి కావలసిన / కావలసిన.

సెప్టెంబర్ 5 న ప్రతి సంవత్సరం, భారతదేశం మొత్తం ఉపాధ్యాయుల దినోత్సవంగా జరుపుకుంటారు. నిజానికి, సెప్టెంబర్ 5 న, dr. S. యొక్క పుట్టినరోజు రాధాకృష్ణన్ ఒక గొప్ప పండితుడు మరియు గురువు అయిన. అతని తరువాతి కాలములో, అతను భారతదేశానికి మొదటి ఉపాధ్యక్షుడిగా మరియు రిపబ్లిక్ యొక్క రెండవ అధ్యక్షుడు అయ్యాడు.

గౌరవప్రదమైన ఉపాధ్యాయులకు దేశవ్యాప్తంగా ఉన్న విద్యార్థులు ఈ రోజు జరుపుకుంటారు. ఉపాధ్యాయులు మా సమాజానికి వెన్నెముక అని సరైనది. విద్యార్థుల పాత్రను నిర్మించడంలో వారు ఒక ముఖ్యమైన పాత్ర పోషిస్తున్నారు మరియు భారతదేశపు ఆదర్శవంతమైన పౌరుడిగా ఇది రూపకల్పన చేశారు.

ఉపాధ్యాయులు వారి స్వంత బిడ్డ వంటి గొప్ప జాగ్రత్త మరియు తీవ్రత తో విద్యార్థులు విద్య. ఎవరో కుడి ఉపాధ్యాయుడు కూడా తల్లిదండ్రులు కంటే గొప్ప అని చెప్పాడు. తల్లిదండ్రులు ఒక బిడ్డకు జన్మనిస్తుంది, గురువు తన పాత్రను ప్రకాశవంతమైన భవిష్యత్తులో తెస్తుంది. అందువలన, మేము వాటిని మరచిపోకూడదు మరియు వాటిని పట్టించుకోకండి, మేము ఎల్లప్పుడూ వాటిని గౌరవిస్తూ వాటిని ప్రేమిస్తాము.

మా తల్లిదండ్రులు, అయితే, మేము ప్రేమ మరియు ధర్మం బాధ్యత, మా ఉపాధ్యాయులు భవిష్యత్తు ప్రకాశవంతమైన మరియు విజయవంతమైన కలిసే బాధ్యత మీదే. మా నిరంతర కృషి ద్వారా మన జీవితాల్లో విద్య యొక్క ప్రాముఖ్యతను గురించి వారు మాకు తెలుసు. వారు మన స్ఫూర్తికి మూలంగా ముందుకు సాగేందుకు మరియు విజయాన్ని సాధి 0 చడానికి మనకు స్ఫూర్తినిస్తున్నారు. వారు ప్రపంచవ్యాప్తంగా ఉదాహరణలు గొప్ప వ్యక్తుల ఇవ్వడం ద్వారా విద్య ప్రోత్సహిస్తున్నాము. వారు మాకు చాలా బలమైన మరియు జీవితంలో వస్తున్న ప్రతి అడ్డంకి ఎదుర్కొనేందుకు సిద్ధంగా. వారు పూర్తిగా విపరీతమైన జ్ఞానం మరియు జ్ఞానంతో నిండి ఉంటారు, దాని ద్వారా వారు మన జీవితాలను తిండిస్తారు. మా ఎంచిన ఉపాధ్యాయులు కొన్ని మేము ఎల్లప్పుడూ టచ్ లో కృతజ్ఞతలు ఉంటాం మాకు చేసిన కోసం న కమ్ నా ప్రియమైన సహచరులు కమ్, మేము అన్ని కలిసి వారి ఉపాధ్యాయులు సంబంధించి సే ‘. నా ప్రియమైన స్నేహితులు, మేము ఎల్లప్పుడూ వారి ఉపాధ్యాయులు మరియు దేశం అర్హులైన పౌరుల ఆదేశాలు కట్టుబడి ఉండాలి మారింది వారి సలహా అనుసరించాలి.

ధన్యవాదాలు.