Informational

पतंजलि काऊ मिल्क प्राइस – Patanjali Cow Milk Price in Hindi

जैसे की हम जानते ही हैं पतंजलि एक स्वदेशी ब्रांड है और इसके उत्पादों को पूरे भारत में लोगों द्वारा सराहा जा रहा है | पतजलि आयुर्वेद की शुरुआत बाबा रामदेव द्वारा की गयी थी | पतंजलि खनिज और हर्बल उत्पादों के लिए जानी जाती है , लेकिन इसे डेरी सेक्टर में भी बढ़ावा देने के लिए गुरूवार को बाबा रामदेव द्वारा गाय के दूध से बने उत्पादों को लांच किआ गया | बाबा रामदेव द्वारा दूध, दही, मक्खन और पनीर आदि डेयरी उत्पादों में प्रवेश की घोषणा करते हुए योग गुरु रामदेव की पतंजलि ने 56,000 खुदरा विक्रेताओं और विक्रेताओं के साथ दिल्ली-एनसीआर, मुंबई, पुणे और राजस्थान में दूध की आपूर्ति करने के लिए करार किया है।

Patanjali cow milk liquid

पतंजलि ने मिल्क पाउडर तो पहले ही लांच कर दिए था लेकिन अब इसके द्वारा पतंजलि मिल्क भी लांच कर दिए गया है , जो की बाकी ब्रांड्स से दो रूपए सस्ता है | केवल गाय के दूध ही नहीं बल्कि गाय के दूध से बने और भी उत्पादों को भी लांच किया गया है |  गाय दूध के साथ पतंजलि सोलर पैनल भी लांच किया गया है| आप चाहे तो Patanjali Solar Panel Price भी देख सकते हैं|

पतंजलि काऊ मिल्क अलग-अलग क्वालिटी मे भी उपलब्ध है जैसे:

  • टोंड
  • फुल क्रीम
  • डबल फुल क्रीम
  • स्किम्ड मिल्क

पतंजलि मिल्क बाकी अन्य ब्रांड्स से कम रेट पर उपलब्ध है |

Patanjali cow milk price

patanjali cow milk price

पतंजलि द्वारा जितने भी उत्पादों को लांच किआ जा चूका है ,वह सब किफायती और उचित दरों पर उपलब्ध हैं | उसी ही प्रकार से पतंजलि ने गाय के दूध के उत्पादों को भी मार्केट मे आज लांच किया है | बात करें प्राइस की तोह पतंजलि के अनुसार इस समय बाज़ार में दूध 42 रूपए लीटर बेचा जा रहा है , और पतंजलि ने 40 रूपए लीटर की दर से बेचा जाएगा |

पतंजलि गाय दूध कितने का है

पतंजलि काऊ मिल्क की कीमत 40 रूपए लीटर रखी गयी है , जो की बाज़ार मे मिलने वाले दूध से दो रूपए कम है | पतंजलि ने काऊ मिल्क के साथ-साथ काऊ मिल्क से बने और भी उत्पादों को लांच किआ है जैसे छाछ , पनीर ,दही आदि | किसी भी उत्पाद का बाज़ार मे चलना या न चलना उसकी खूबी और प्राइस पर निर्भर करता है , वैसे तो पतंजलि के ज्यादातर उत्पादों को लोगों से अच्छी ही सराहना मिली है , बाकी देखते हैं की पतंजलि काऊ मिल्क प्रोडक्टस के क्या परिणाम आते हैं |

Leave a Comment