नई शिक्षा नीति पर निबंध 2020 – Essay on New Education Policy in Hindi Pdf

New Education Policy 2020: मोदी जी द्वारा लांच की गयी नई शिक्षा नीति से हमारे देश के साथ विद्यार्थियों का भी विकास होने जा रहा है| इसी नीति के अनुसार वह अनेक सुधारों और योजनाओं को कार्यान्वित करने का प्रयास करता है जिससे भावी पीढ़ी को लक्ष्य के अनुसार मानसिक एवं बौद्‌धिक रूप से तैयार किया जा सके । देश की शिक्षा में 34 सालों के बाद नई प्रस्तावित शिक्षा नीति लागू कर दिया गया है | स्वतंत्र भारत की तीसरी और वर्तमान की शिक्षा नीति के मुख्य उद्देश्य बदलाव, शिक्षा सुधार, नई शिक्षा नीति का सामान्य उद्देश्य ऐसे नागरिकों का निर्माण करना है | आज हम आपको भारत की नई शिक्षा नीति पर निबंध, नई शिक्षा नीति पर निबंध, नीति के नियम, पर सुझाव, का मसौदा, का प्रारूप पीडीएफ की सम्पूर्ण जानकारी|

शिक्षा जीवन चलाने का एक साधन मात्र ही नहीं वरन जीवन जीने की एक कला भी है शिक्षा के माध्यम से ही हम अपने सपने पूरे कर सकते हैं। रतकी हम अपने जीवन को नई देशा दिखा सके हैं। बिना शिक्षा के हम कुछ भी मुकाम हासिल नहीं कर सकते। आजकल अपने जीवन में आगये बढ़ने के लिए आपका शिक्षित होना अत्यंत आवश्यक है। आज की पीढ़ी का बिना पढ़े-लिखे भला नहीं हो सकता।

नई शिक्षा नीति क्या है

नई शिक्षा नीति में बच्चों के सर्वांगीण विकास पर बल दिया जाएगा , एक वर्ग अभिरुचिया को विकसित करने व उनके उचित मार्ग – दर्शन का कार्य करेंगे । खेल – कूद , योगाभ्यास व अन्य गतिविधियों पर भी विशेष ध्यान दिया जाएगावना के स्थान पर राष्ट्रीय भावना पर बल दिया जाएगा , परंतु आंचलिक स्थिति को कायम रखा जाएगा | इस विधान के अनुसार अब किसी भी सरकारी विद्यालयों में बच्चों को मुफ्त और अनिवार्य शिक्षा देने का प्रावधान है।शिक्षा का अधिकार कानून विद्यार्थी-शिक्षक-अनुपात (प्रति शिक्षक बच्चों की संख्या), कक्षाओं, लड़कियों और लड़कों के लिए अलग शौचालय, पीने के पानी की सुविधा, स्कूल-कार्य दिवसों की संख्या, शिक्षकों के काम के घंटे से संबंधित मानदंड और मानक देता है। साथ ही आप Aatm Nirbhar Bharat Essay in Hindi भी देख सकते हैं|

नई शिक्षा नीति क्या है

नई शिक्षा नीति के नियम

  • भारत में प्रत्येक प्राथमिक विद्यालय (प्राथमिक विद्यालय + मध्य विद्यालय) को शिक्षा के अधिकार अधिनियम द्वारा निर्धारित न्यूनतम मानक बनाए रखने के लिए इन मानदंडों का पालन करना है।जो बच्चे किसी कारणवश उचित समय पर विद्यालय नहीं जा पाते, उन्हें भी उचित कक्षा में प्रवेश देने का नियम है।
  • नई शिक्षा नीति में बुनियादी स्तर पर ठोस उपाय किए गए हैं । उसके तहत प्रत्येक गाँव में अनिवार्य रूप ये विद्‌यालय खोलने का प्रसताव है तथा सभी वर्ग के लोगों को कम से कम बुनियादी शिक्षा देने का प्रावधन है । इसमें पिछड़े वर्ग के लोगों को कम से कम बुनियादी सिक्षा देने का प्रावधान है |
  • 12 वर्ष की स्कूली शिक्षा प्रणाली के स्थान पर 5+3+3+4 फार्मूला लागू किया जाएगा जिसमें शुरुआती 3 वर्ष प्री प्राइमरी एजुकेशन के होंगे जिसमें आंगनवाड़ी शामिल होंगे. इस प्रकार पहले 5 वर्ष में 3 वर्ष की प्री प्राइमरी शिक्षा तथा पहली व दूसरी क्लास को शामिल किया गया है. उसके बाद तीसरी चौथी और पांचवी क्लास को प्राथमिक शिक्षा में शामिल करते हुए मातृभाषा पर जोर दिया गया है तथा क्लास 6 से 8 तक के 3 वर्षों में मैथ साइंस पर बल देते हुए व्यवसायिक शिक्षा का आरंभ किया जाएगा तथा स्कूली शिक्षा के अंतिम 4 वर्ष अर्थात 9वीं 10वीं 11वीं तथा 12वीं कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए वैकल्पिक विषय का चुनाव करने की छूट दी गई है तथा 12वीं तक मैथ साइंस की अनिवार्यता को लागू किया जाएगा
  • 4 ईयर इंटेग्रेटेड बीएड यानी 3 साल के ग्रेजुएशन के साथ 1 साल की B.Ed, 2 ईयर बीएड or 1 ईयर B Ed course संचालित किए जाएंगे 1 वर्षीय बीएड पोस्ट ग्रेजुएशन के बाद की जा सकती हैं
  • ग्रेजुएशन को 4 वर्ष तथा पोस्ट ग्रेजुएशन को 1 वर्ष किया जाएगा उसके उपरांत रिसर्च करने वाले विद्यार्थियों के लिए राह आसान की है तथा ग्रेजुएशन बीच में छोड़ देने वाले विद्यार्थियों के लिए भी प्रावधान किया गया है, कि 1 वर्ष के बाद उन्हें सर्टिफिकेट प्रदान किया जाएगा तथा 2 वर्ष ग्रेजुएशन करने के बाद डिप्लोमा प्रदान किया जाएगा तथा अंतिम वर्ष के बाद डिग्री प्रदान की जाएगी.प्राथमिक स्तर तक किसी भी विद्यार्थी को फेल नहीं किया जाएगा तथा योग्यता का आंकलन सतत , मूल्यांकन वारा होगा संपूर्ण राष्ट्र में एक साथ ‘ ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड ‘ चालू किया जाएगा जिसके अंतर्गत विद्यालयों के लिए पर्याप्त भवन , शिक्षा सामग्री व शिक्षक वर्ग का प्रबंध किया जाएगा

नई शिक्षा नीति पर विशेषताये

ऊपर दिए हुए एस्से में हमने आपको essay on new education policy in hindi, english की जानकारी प्रदान की है जो की class 4, class 5, class 6, class 7, class 8, class 9, and class 10 तक के बच्चों के लिए महत्वपूर्ण है| यह नई शिक्षा नीति 2020 निबंध, नई एजुकेशन पॉलिसी इन हिंदी या nayi shiksha neeti par nibandh, essay 100 words, 200 words, 300 words, 400 words, 500 words को आप pdf download भी कर सकते है|

शिक्षा हमारे लिए बहुत जरूरी है ताकि हमारे आने वाले जीवन हुमए कोई तकलीफ न हो शिक्षा किसी राष्ट्र अथवा समाज की प्रगति का मापदंड है । जो राष्ट्र शिक्षा को जितना अधिक प्रोत्साहन देता है वह उतना ही विकसित होता है ।

इसी नीति के अनुसार वह अनेक सुधारों और योजनाओं को कार्यान्वित करने का प्रयास करता है जिससे भावी पीढ़ी को लक्ष्य के अनुसार मानसिक एवं बौद्‌धिक रूप से तैयार किया जा सके ।

नई शिक्षा नीति 2020 के द्वारा शिक्षा के सभी स्तरों तथा गतिविधियों से संबंधित प्रावधान किए गए हैं शिक्षा नीति का प्रमुख उद्देश्य गुणवत्तापूर्ण तथा सार्वभौमिक शिक्षा के साथ ही व्यवसायिक शिक्षा पर भी बल दिया गया है. इसमें भारतीय संस्कृति की विविधता का उचित समावेश किया गया है|

नई शिक्षा नीति 2020 मे 2030 तक सार्वभौमिक स्कूली शिक्षा तथा इस नीति को पूर्ण रूप से क्रियान्वित करने का लक्ष्य रखा गया है इसमें छात्रों की क्षमताओं का आकलन करने पर जोर दिया गया ना कि छात्रों को कितना याद रहता है जैसी रटा फिकेशन पद्धति.|बोर्ड परीक्षा के महत्व और तनाव को कम करने के लिए, परीक्षा दो भागों में आयोजित की जाएगी: उद्देश्य और वर्णनात्मक। परीक्षा वर्ष में दो बार आयोजित की जा सकती है। बोर्ड परीक्षा में रट्टा सीखने के बजाय ज्ञान आवेदन को बढ़ावा देना चाहिए।

9वीं से 12वीं तक की पढ़ाई बोर्ड आधारित होगी, लेकिन इसे खासा सरल नई शिक्षा नीति में बनाया गया है। शिक्षा मंत्रालय में स्कूली शिक्षा विभाग की प्रमुख सचिव अनीता करवाल ने कहा कि इसके लिए बोर्ड परीक्षा को दो भागों में बांटने का प्रस्ताव है, जिसके तहत साल में दो हिस्सों में बोर्ड की परीक्षा ली जा सकती है। इससे बच्चों पर परीक्षा का बोझ कम होगा और वह रट्टा मारने की बजाय सीखने और आंकलन पर जोर देंगे।”

छात्रों को 360 डिग्री समग्र रिपोर्ट कार्ड मिलेगा, जो न केवल विषयों में उनके द्वारा प्राप्त अंकों के बारे में सूचित करेगा, बल्कि उनके कौशल और अन्य महत्वपूर्ण बिंदुओं को भी बताएगा।

नई शिक्षा नीति 2020 को समान, समावेशी और जीवंत बनाने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। हम माननीय प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में भारत को ज्ञान आधारित महाशक्ति बनाने के लिए कृत संकल्पित हैं। एचआरडी मंत्री रमेश पोखारियला ने कहा कि मेरा मानना है कि नई शिक्षा नीति 2020 के माध्यम से हम भारत को गुणवत्ता परक, नवाचार युक्त, भारत केंद्रित शिक्षा दे पाने में सफल रहे|

नई शिक्षा में ये बदलाव आये हैं जो की हमने ऊपर बताये हैं| यह एस्से आपको in english,in hindi, in sanskrit language,in kannada,in marathi,in urdu,in punjabi,small essay ,long essay में भी उपलब्ध है।आप इस निबंध को for class 5 और for class 8 के लिए भी use कर सकते हो or इससे जुड़ी pdf भी download कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *