Hindi Shayari

घमंड पर शायरी – Guroor Shayari in Hindi – अहंकार शायरी

घमंड आज के समय में ऐसी मनुष्य प्रक्रिया है जो की मानसिक रूप से इंसान में मन में विकसित होती है| घमंड कभी कबार अच्छा भी होता है पर जरुरत से ज्यादा घमंड होना भी इंसान के मन में अहंकार पैदा कर देता है| हमारे और आपके साथ रहने वाले या सम्बन्ध में कई लोग ऐसे होंगे जो की किसी बात का घमंड दर्शाते होंगे इसलिए इस आर्टिकल में हम आपके लिए घमंड शायरी इन हिंदी लाए है जिन्हे आप घमंड करना,सुंदरता पर घमंड,proud आदि के बारे में जानकारी ले सकते हैं। अगर आप राजपूताना खानदान से है तो आपके लिए है राजपूत के attitiude स्टैटस   हैं अगर आप यादव है तो आपके लिए यादवों के खतरनाक स्टैटस हैं जिन्हे आप अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को भेज कर अपना रोब बना सकते हैं ।

अभिमान शायरी


अच्छी बात है कि आप अहंकारी हैं क्योंकि इसके रहते आप कभी स्वयं को गलत होते हुए भी गलत नहीं समझेंगे
Click To Tweet


चुभता तो बहुत कुछ मुझको भी है तीर की तरह…!!!मगर ख़ामोश हूँ, अपनी तक़दीर की तरह…!!
Click To Tweet


मुझे तलाश है जो मेरी रुह से प्यार करे..वरना इन्सान तो पैसों से भी मिल जाया करते हैं…
Click To Tweet


यूं मुझे एेसे और सबर ना करवा, तेरी राह देखते कोई मेरी कबर ही ना तैयार करवा दें..!
Click To Tweet


बोल दिया होता तुम्हे दर्द देना है ऐ ज़िंदगी मोहब्बत को बीच में लाने की क्या जरुरत थी
Click To Tweet


यूँ बदस्तूर जीना जारी तो रहा…लेकिन.. तू नहीं..फिज़ा नहीं…बयां नहीं…निशां नहीं..
Click To Tweet


मैं एक हाथ से सारी दुनिया के साथ लड़ सकता हूँ, बस मेरा दुसरा हाथ तेरे हाथ में होना चाहिए !!
Click To Tweet


भटके हुए फिरते हैं कई लफ्ज़ जो दिल में दुनिया ने दिया वक़्त तो लिखेंगे किसी दिन
Click To Tweet


मुझे तलाश है जो मेरी रुह से प्यार करे..वरना इन्सान तो पैसों से भी मिल जाया करते हैं…
Click To Tweet


लो सनम मैं आ गया तेरे शहर में, दुनिया दुश्मन बना ली मैंने तेरे प्यार में..!
Click To Tweet

Ahankar Shayari in Hindi


कहीं का ग़ुस्सा कहीं की घुटन उतारते हैं... ग़ुरूर ये कि हम काग़ज़ पे फ़न उतारते हैं..
Click To Tweet

..


मैं अन्धेरा हूं तो अफसोस क्यूं करूं..? मुझे गुरूर है, रोशनी का वजूद मुझसे है..!!
Click To Tweet


अहंकार में आ के किसी रिश्ते को तोड़ने से अच्छा है, माफ़ी माँग के वही रिश्ता निभाया जाए....
Click To Tweet



अक़्सर ऊँचायों को छूने पर लोग अपनी वास्तविक पहचान भूल जाते हैं और जिस दिन अहंकार हावी होता है तब सिवाए पतन के और कुछ हांसिल नही होता।
Click To Tweet


घमंड’ और ‘पेट’ जब ये दोनों बढ़तें हैं… तब ‘इन्सान’ चाह कर भी किसी को गले नहीं लगा सकता.
Click To Tweet

.

गर्व पर शायरी


सुना है काफी पढ़ लिख गए हो तुम कभीवो बी पढ़ो जो हम कह नहीं पाते
Click To Tweet


तूने फेसले ही फासले बढाने वाले किये थे वरना कोई नहीं था, तुजसे ज्यादा करीब मेरे
Click To Tweet


मुझे घमंड था की मेरे चाहने वाले बहुत है इस दुनिया में, बाद में पता चला की सब चाहते है अपनी ज़रूरत के लिए
Click To Tweet

.


जिस प्रकार नींबू के रस की एक बूंद हजारों लीटर दूध को बर्बाद कर देती है उसी प्रकार ‘मनुष्य’ का ‘अहंकार’ भी अच्छे से अच्छे संबंधों को बर्बाद कर देता है!
Click To Tweet

Ghamand Shayari Images

घमंडी इमेज

घमंड इमेज 2

घमंड इमेज 1

ऐटिटूड इमेज

घमंडी इंसान पर शायरी


Mat Krna Guroor Aapne Aap Pr Ae Logo Mat Krna Guroor Aapne Aap Pr Ae Logo Rab Ne Naa Jane Kitne Logo Ko Mitti Se Bna Kr Mitti Me Mila Dala
Click To Tweet


Ghamand Jis Insan Ke Indar Hota Ghamand Jis Insan Ke Indar Hota Hai Uska Akal Bahar Ho Jata Hai
Click To Tweet


Guroor To Hona Tha Hmari Mohabbat Guroor To Hona Tha Hmari Mohabbat Ko Dekh Kr Mgar Wo Apni Kdar Dekh Kr Hmari Kimat Bhoo Gaye
Click To Tweet


Jo Bhi Aaya Wo Jaye Ga Ek Din Jit Kiske Liye Haar Kis Ke Kiye Zindagi Bhar Ye Takrar Kiske Liye Jo Bhi Aaya Wo Jaye Ga Ek Din Fir Ye Itna Ahankar Kiske लिए
Click To Tweet


Talash hai mujhe dil se chahne walo ki, husn to aaj kal bajar me bhi bikte hain…!!
Click To Tweet


Hosla Ho To Zindagi Pareshan Nahi Hoti, Akad Zinda Insan Ki Pahchan Nahi Hoti.
Click To Tweet


Ghamand Jis Insan Ke Indar Hota Hai Uska Akal Bahar Ho Jata Hai.
Click To Tweet


Jit Kiske Liye Haar Kis Ke Kiye Zindagi Bhar Ye Takrar Kiske Liye Jo Bhi Aaya Wo Jaye Ga Ek Din Fir Ye Itna Ahankar Kiske Liye
Click To Tweet

दौलत का घमंड शायरी

आप गुंडागर्दी से भरे स्टैटस भी पढ़ सकते है और दूसरों को भेज कर अपना ऐटिटूड दिखा सकते हैं।


राज तो हमारा हर जगह पे है…। पसंद करने वालों के “दिल” में और नापसंद करने वालों के “दिमाग” में !!
Click To Tweet


कभी कभी खाक़ (जम़ीन) पर बैठ जाता हूँ मैं, क्यूँकि प्यार है मुझे मेरी Aukat से.
Click To Tweet


हथियार तो सिर्फ शौक के लिए रखा करते है, वरना किसी के मन में खौंफ पैदा करने के लिए तो बस हमारा नाम ही काफी है.
Click To Tweet


सुना है काफी पढ़ लिख गए हो तुम कभीवो बी पढ़ो जो हम कह नहीं पाते
Click To Tweet


मुझे घमंड था की मेरे चाहने वाले बहुत है इस दुनिया में, बाद में पता चला की सब चाहते है अपनी ज़रूरत के लिए
Click To Tweet


Khudko bhura kehne ki himmat nahi, islie vo kehte he zamana kharab he.
Click To Tweet


Aapne Kabhi Socha Hai Ki Hamara Apna Kya Hai ? Janam Doosrey Ne Diya Naam Doosrey Ne Diya Shiksha Doosrey Ne Di Kaam Karna Doosrey Ne Sikhaya Ant Mein Shamshan Bhi Doosrey He Le Jaayeinge Hamara Apna Iss Sansar Mein Kya Hai Jo Ham Itna Ghamand Karey Hain
Click To Tweet


Akad Wali Ladkiya Hum Se Dur Rahe, Kyuki Akad Hum Sehte Nai Or.Bhav..Hum Dete Nai
Click To Tweet


Namak Swad Anusar Aur Akad Aukaat Anusaar Hi Acchi Lagti Hai
Click To Tweet

.


Mera Ego Do Din Ki Kahani Hai Par Meri AKAD Khandani Hai
Click To Tweet

.


Teri Ego Toh 2 Din Ki Kahani Hai.. But Meri Akad Toh Khandaani Hai.
Click To Tweet


Akad Wali Ladkiya Hum Se Dur Rahe Kyuki Akad Hum Sehte Nai Or….Bhav….Hum Dete Nai.
Click To Tweet

Leave a Comment