kavita Tyohaar

गणेश चतुर्थी पर कविता 2019 – Ganesh Chaturthi Poem in Hindi, English & Marathi Pdf

ganesh chaturthi poem in hindi,

Ganesh Chaturthi 2019: गणेश चतुर्थी भारत में मनाय जाने वाला एक बहुत ही भव्य त्यौहार है| इस त्यौहार का हिन्दू धर्म में धार्मिक महत्व है| गणेश चतुर्थी को विनायक चतुर्थी भी कहा जाता है| यह पर्व हिन्दू धर्म के देवता भगवान् गणेश को समर्पित किया जाता है| भगवान् गणेश ज्ञान और अच्छे भाग्य का प्रतीक है| गणेश चतुर्थी हिंदू महीने भद्रा के शुक्ला चतुर्थी पर मनाया जाता है|इस त्यौहार की अवधि स्थान और परंपरा के आधार पर 1 दिन से 11 दिनों तक भिन्न होती है। लोग भगवान गणेश की मूर्तियों को अपने घरों में लाते हैं और पूजा करते हैं।

आज के इस पोस्ट में हम आपको ganesh poem in english, poems hindi kavita, short poem on ganesh chaturthi in hindi, hindi kavita on ganesh, poems on ganesh utsav, आदि की जानकारी इन मराठी, हिंदी, इंग्लिश, बांग्ला, गुजराती, तमिल, तेलगु, आदि की जानकारी देंगे जिसे आप अपने स्कूल कविता को प्रतियोगिता, कार्यक्रम या भाषण प्रतियोगिता में प्रयोग कर सकते है| ये कविता खासकर कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9 ,10, 11, 12 और कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए दिए गए है|

गणेश चतुर्थी पर कविता

गणपति जी हैं सबके प्यारे,
शिव गौरा के राजदुलारे,
भोली और प्यारी सी सूरत,
सवारी बने हैं उनकी, मूषक
मोदक उनको बहुत हैं भाते,
बड़े प्यार और चाव से खाते,
देवों में वह देव हमारे,
सबसे पहले उनकी पूजा करते हैं सारे,
रिद्धि सिद्धि के हैं दाता,
हम सबके वह भाग्यविधाता,
जो उनकी पूजा है करते,
गणपति उनके विघ्न है हरते,
गणेश चतुर्तिथि जब भी आये,
बड़े प्यार से सब हैं मनायें,
जिनके घर गणेशा जाते,
मंगल ही मंगल सब होता,
दुःख संताप मिटते हैं सारे।

Ganesh Chaturthi Kavita

इस पोस्ट के द्वारा आपpoem on lord ganesha in english, ganesh ji poem, गणेश जी पर कविता, गणेश पर कविता, गणेश कविता, किसी भी भाषा जैसे Hindi, हिंदी फॉण्ट, मराठी, गुजराती (ગુજરાતી), Urdu, उर्दू, English, sanskrit, Tamil, Telugu, Marathi, Punjabi, Gujarati, Malayalam, Nepali, Kannada के Language Font में साल 2007, 2008, 2009, 2010, 2011, 2012, 2013, 2014, 2015, 2016, 2017 का जन्माष्टमी कविता, full collection whatsapp, facebook (fb) व instagram पर share कर सकते हैं|

हे प्रभु गणेशा, ओ प्रभु गणेशा,
रहना आप साथ मेरे हमेशा,

जब मैं हो जाऊ उदास,
मेरे हृदय में करके वास,
जगा देना मेरा विश्वास,
आप मेरे आस-पास हो
इसका है मुझको अहसास.

हे प्रभु गणेशा, ओ प्रभु गणेशा,
रहना आप साथ मेरे हमेशा,

नाश करना हमारे अभिमान का,
देना दान हमें आप ज्ञान का,
काम ऐसा करें बढ़े मान माँ-बाप का,
खुश रहूँ और जीवन हो सम्मान का.

हे प्रभु गणेशा, ओ प्रभु गणेशा,
रहना आप साथ मेरे हमेशा,

दूसरों की सेवा का व्रत मैं पाल लूँ,
आपकी कृपा से ये जिंदगी सम्भाल लूँ,
आपकी भक्ति की आदत मैं डाल लूँ,
जिन माँ-बाप ने बचपन में सम्भाला मुझे
इतनी ताकत देना कि मैं उनकों सम्भाल लूँ.

हे प्रभु गणेशा, ओ प्रभु गणेशा,
रहना आप साथ मेरे हमेशा,

Ganesh Chaturthi Poem in Marathi

Ganesh chaturthi kavita

हे गणेश, हे गणपती!
नेहमी माझ्या बरोबर राहा,

जेव्हा मी दु: खी झालो,
माझ्या हृदयात,
माझे विश्वास जागृत होणे,
आपण माझ्याभोवती आहात
हे माझे अनुभव आहे

हे गणेश, हे गणपती!
नेहमी माझ्या बरोबर राहा,

आपल्या अभिमानाचा नाश करण्यासाठी,
आम्हाला ज्ञानाने दिलेली भेट द्या,
याप्रमाणेच पालकांचे मूल्य वाढते,
आनंदी राहा आणि जीवन आदर आहे

हे गणेश, हे गणपती!
नेहमी माझ्या बरोबर राहा,

मी इतरांना देण्याची उपेक्षा करतो,
आपल्या दयाळूपणासह, या जीवनाचे रक्षण करा,
मी तुमच्या भक्तीची सवय लावून ठेवावी,
माझ्या लहानपणी माझ्या पावलांची काळजी घेतली
मी त्यांना काळजी घेणे आवश्यक आहे इतके सामर्थ्य देतो.

हे गणेश, हे गणपती!
नेहमी माझ्या बरोबर राहा,

Ganesh Chaturthi Poems in English

I asked for His help
I called on His name
One of His many Names.
I asked not for myself
I sought help for many
And for what seemed insurmountable.

And as I prayed
I felt His presence wash over me
Calming me, soothing me, stilling me
Wrapping me in His warmth
Until all I could do was stop
And be still and feel His presence
And love Him.

Ganesh Chaturthi Poems in Hindi

कितना रूप राग रंग
कुसुमित जीवन उमंग!
अर्ध्य सभ्य भी जग में
मिलती है प्रति पग में!

श्री गणपति का उत्सव,
नारी नर का मधुरव!
श्रद्धा विश्वास का
आशा उल्लास का
दृश्य एक अभिनव!
युवक नव युवती सुघर
नयनों से रहे निखर
हाव भाव सुरुचि चाव
स्वाभिमान अपनाव
संयम संभ्रम के कर!
कुसमय! विप्लव का डर!
आवे यदि जो अवसर
तो कोई हो तत्पर
कह सकेगा वचन प्रीत,
‘मारो मत मृत्यु भीत,
पशु हैं रहते लड़कर!
मानव जीवन पुनीत,
मृत्यु नहीं हार जीत,
रहना सब को भू पर!’
कह सकेगा साहस भर
देह का नहीं यह रण,
मन का यह संघर्षण!
‘आओ, स्थितियों से लड़ें
साथ साथ आगे बढ़ें
भेद मिटेंगे निश्वय
एक्य की होगी जय!
‘जीवन का यह विकास,
आ रहे मनुज पास!
उठता उर से रव है,–
एक हम मानव हैं
भिन्न हम दानव हैं!’

Ganesh Chaturthi Poems in Telugu

आइये अब हम आपको जय श्री गणेश शायरी, गणेश जी की कविता इन हिंदी, गणपति कविता, गणेश चतुर्थी कविता, गणेश चतुर्थी की कविता, गणेश चतुर्थी poem, गणेश चतुर्थी पर निबंध, ganesh chaturthi poetry, Ganesh Chaturthi Wishes,ganesh chaturthi short poems, गणेश चतुर्थी पर छोटी कविता, गणेश चतुर्थी की कहानी, ganesh chaturthi kavita in hindi, आदि की जानकारी बताएंगे जिसे आप अपने अध्यापक, मैडम, mam, सर, बॉस, माता,employees, employers, पिता, आई, बाबा, sir, madam, teachers, boss, principal, parents, master, relative, friends & family whatsapp, facebook (fb) व instagram पर share कर सकते हैं|

ఓ లార్డ్ గణేష, ఓ లార్డ్ గణేష,
ఎల్లప్పుడూ నాతో ఉండండి,

నేను విచారంగా వచ్చినప్పుడు,
నా హృదయంలో,
నా నమ్మకాన్ని పెరగడం,
మీరు నా చుట్టూ ఉన్నారు
ఇది నా భావన

ఓ లార్డ్ గణేష, ఓ లార్డ్ గణేష,
ఎల్లప్పుడూ నాతో ఉండండి,

మా అహంకారం నాశనం,
మాకు జ్ఞానం బహుమతి ఇవ్వండి,
ఇలాంటి పని తల్లిదండ్రుల విలువను పెంచుతుంది,
సంతోషంగా ఉండండి మరియు జీవితం గౌరవించబడుతుంది

ఓ లార్డ్ గణేష, ఓ లార్డ్ గణేష,
ఎల్లప్పుడూ నాతో ఉండండి,

నేను ఇతరులకు సేవ చేయటానికి ఉపవాసం చేస్తాను,
నీ దయతో, ఈ జీవితం యొక్క శ్రద్ధ వహించండి,
నేను భక్తి మీ అలవాటు చాలు ఉండాలి,
నా బాల్యంలో నాకు శ్రద్ధ తీసుకున్న తల్లిదండ్రులు
నేను వారిని జాగ్రత్తగా చూసుకోవాల్సిన శక్తిని ఇస్తున్నాను.

ఓ లార్డ్ గణేష, ఓ లార్డ్ గణేష,
ఎల్లప్పుడూ నాతో ఉండండి,