kavita Tyohaar

शिक्षक दिवस पर कविता 2019 – Teachers Day Poem in Hindi, English & Marathi for Class 1-12 Students

Teachers Day Poem in Hindi

Teachers Day 2019:  माता एवं पिता के बाद शिक्षक ही हमारे जीवन में अहम् महत्व रखते है| के हमें सही एवं गलत के बीच का फर्क बताते है| प्रत्येक वर्ष शिक्षक दिवस 5 सितम्बर को आता है|  वे हमें सही एवं गलत के बीच का फर्क बताते है| हम सभी के जीवन में सफलता के पीछे एक शिक्षक का हाथ होता है जो की हमारे शिष्यकाल के समय हमे सही मार्ग पर चलने की प्रेणना देता है| प्रत्येक वर्ष शिक्षक दिवस 5 सितम्बर को आता है| इस दिन को पूरे भारत के शिक्षकों की मेहनत एवं उनकी शिक्षण नीतिओ को समर्पित है जो की अपने विद्यार्थियों को सफल बनाने के लिए मेहनत करते है|

आज के इस पोस्ट में हम आपको poem for teachers day celebration, happy teachers day poems in english, poem on teachers day in hindi, poem on teacher student relationship, special teacher poems, famous poems about teachers, inspirational poems for teachers, teachers day kavithai, poems for teachers from students, आदि की जानकारी मराठी, हिंदी, इंग्लिश, बांग्ला, गुजराती, तमिल, तेलगु, आदि की जानकारी देंगे जिसे आप अपने स्कूल के टीचर डे पर वृक्षारोपण कविता को प्रतियोगिता, कार्यक्रम या भाषण प्रतियोगिता में प्रयोग कर सकते है| ये कविता खासकर कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9 ,10, 11, 12 और कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए दिए गए है|

शिक्षक दिवस कविता

दीपक सा जलता है गुरु
फैलाने ज्ञान का प्रकाश
न भूख उसे किसी दौलत की
न कोई लालच न आस

उसे चाहिए, हमारी उपलब्ध‍ियां
उंचाईयां,
जहां हम जब खड़े होकर
उनकी तरफ देखें पलटकर
तो गौरव से उठ जाए सर उनका
हो जाए सीना चौड़ा

हर वक्त साथ चलता है गुरु
करता हममें गुणों की तलाश
फिर तराशता है शिद्दत से
और बना देता है सबसे खास

उसे नहीं चाहिए कोई वाहवाही
बस रोकता है वह गुणों की तबाही
और सहेजता है हममें
एक नेक और काबिल इंसान को

शिक्षक दिवस पर बाल कविता

आइये अब हम आपको शिक्षक दिवस पर कविता, hindi poem on teacher student relationship, शिक्षक दिवस की कविता, youtube, shikshak divas marathi kavita, teachers day poems in marathi, shikshak diwas kavita in hindi, Teachers Day Quotes in Hindi, teachers day quotes in marathi, शिक्षक दिवस पर हिन्दी कविता, शिक्षक दिवस भाषण, शिक्षक दिवस पर हास्य कविता, शिक्षक दिवस पर निबंध, inspirational poems for teachers, शिक्षक दिवस पर सुविचार, teachers day par poem in hindi,lines for teachers day, Anchoring Script for Teachers Day आदि की जानकारी किसी भी भाषा जैसे Hindi, हिंदी फॉण्ट, मराठी, गुजराती, Urdu, उर्दू, English, sanskrit, Tamil, Telugu, Marathi, Punjabi, Gujarati, Malayalam, Nepali, Kannada के Language Font whatsapp, facebook (fb) व instagram पर share कर सकते हैं| आप सभी को शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

सही क्या है, गलत क्या है,
ये सब बताते हैं आप,झूठ क्या है और सच क्या है
ये सब समझाते है आप,
जब सूझता नहीं कुछ भी
राहों को सरल बनाते हैं आप,

जीवन के हर अँधेरे में,
रौशनी दिखाते हैं आप,

बंद हो जाते हैं जब सारे दरवाज़े
नया रास्ता दिखाते हैं आप,

सिर्फ किताबी ज्ञान ही नहीं
जीवन जीना सिखाते हैं आप!

Poem for Teacher’s Day

आइये जाने शिक्षक दिवस कविताएँ, शिक्षक दिवस पर विशेष कविता शायरी, शिक्षक दिवस कविता मराठी, teachers day special poem in hindi, in hindi lyrics, in urdu, टीचर्स डे पोयम्स, teachers day poem in hindi lyrics, teachers day poems in english short, for college students, for kindergarten, teachers day 2 line poems, 4 lines poem on teachers day, 5 september teachers day poems, टीचर्स डे पोएम फॉर किड्स, में साल 2007, 2008, 2009, 2010, 2011, 2012, 2013, 2014, 2015, 2016, 2017 का full collection जिसे आप अपने अध्यापक, मैडम, mam, सर, sir, madam, teachers, for english teacher, for a mentor, to a mother, to sir, to a teacher, to colleagues, principal, master, relative, friends & family whatsapp, facebook (fb) व instagram पर share कर सकते हैं|

गुरु बिन ज्ञान नहीं
गुरु बिन ज्ञान नहीं रे।अंधकार बस तब तक ही है,
जब तक है दिनमान नहीं रे॥
मिले न गुरु का अगर सहारा,
मिटे नहीं मन का अंधियारा

लक्ष्य नहीं दिखलाई पड़ता,
पग आगे रखते मन डरता।

हो पाता है पूरा कोई भी अभियान नहीं रे।
गुरु बिन ज्ञान नहीं रे॥

जब तक रहती गुरु से दूरी,
होती मन की प्यास न पूरी।

गुरु मन की पीड़ा हर लेते,
दिव्य सरस जीवन कर देते।

गुरु बिन जीवन होता ऐसा,
जैसे प्राण नहीं, नहीं रे॥

भटकावों की राहें छोड़ें,
गुरु चरणों से मन को जोड़ें।

गुरु के निर्देशों को मानें,
इनको सच्ची सम्पत्ति जानें।

धन, बल, साधन, बुद्धि, ज्ञान का,
कर अभिमान नहीं रे, गुरु बिन ज्ञान नहीं रे॥

गुरु से जब अनुदान मिलेंगे,
अति पावन परिणाम मिलेंगे।

टूटेंगे भवबन्धन सारे, खुल जायेंगे, प्रभु के द्वारे।
क्या से क्या तुम बन जाओगे, तुमको ध्यान नहीं, नहीं रे॥

Teachers Day Poem in Hindi

Poem for Teacher's Day

सुन्दर सुर सजाने को साज बनाता हूँ
नौसिखिये परिंदों को बाज बनाता हूँ.चुपचाप सुनता हूँ शिकायतें सबकी
तब दुनिया बदलने की आवाज बनाता हूँ.
समंदर तो परखता है हौंसले कश्तियों के
और मैं डूबती कश्तियों को जहाज बनाता हूँ,

बनाए चाहे चांद पे कोई बुर्ज ए खलीफा
अरे मैं तो कच्ची ईंटों से ही ताज बनाता हूँ ।।

Teachers Day Poem in Hindi by Student

गुरु आपकी ये अमृत वाणी हमेशा मुझको याद रहे
जो अच्छा है जो बुरा है उसकी हम पहचान करे,मार्ग मिले चाहे जैसा भी उसका हम सम्मान करे
दीप जले या अँगारे हो पाठ तुम्हारा याद रहे,
अच्छाई और बुराई का जब भी हम चुनाव करे
गुरु आपकी ये अमृत वाणी हमेशा मुझको याद रहे,

टीचर डे पोएम इन हिंदी

हम स्कूल रोज हैं जाते
शिक्षक हमको पाठ पढ़ाते,दिल बच्चों का कोरा कागज
उस पर ज्ञान अमिट लिखवाते,
जाति-धर्म पर लड़े न कोई
करना सबसे प्रेम सिखाते,

हमें सफलता कैसे पानी
कैसे चढ़ना शिखर बताते,

सच तो ये है स्कूलों में
अच्छा इक इंसान बनाते,

Teachers Day Poem in English

A Teacher Is..
Someone who is wise…
Who cares about the students and wears no disguise.
But is honest and open and shares from the heart.
Not just lessons from books, but life where you are.
A teacher takes time to help and tutor.
With english or math or on a computer.
It’s (Teacher’ name) who’s patient, even in stress.
Who never gives less than the very best!
Not that I was the perfect student,
But you were the perfect teacher for me!

Teachers Day Poem in Marathi

लॅम्प बर्न्स गुरू
ज्ञानाचा प्रकाश
कोणतीही उपासमार
नाही लोभ नाही

त्याला हवे आहे, आमच्या यशा
क्षणचित्रे,
आम्ही कुठे उभे आहोत
उलटपक्षी त्यांना पहा
मग वैभव पासून उदय, महोदय
व्हा वाइड व्हा

सर्व वेळ गुरूकडे जाते
आपल्यातील गुण शोधते
मग ते चांगले केले आहे
आणि सर्वात विशेष बनवते

त्याला कोणत्याही टाळ्याची आवश्यकता नाही
फक्त गुणधर्म उद्ध्वस्त थांबेल
आणि आम्हाला वाचवितो
एक थोर आणि सक्षम व्यक्ती

Teacher Day Poem in Punjabi

ਲੈਂਪ ਬਰਨ ਗੁਰੂ
ਗਿਆਨ ਦੀ ਰੋਸ਼ਨੀ ਫੈਲਾ ਰਿਹਾ ਹੈ
ਕੋਈ ਭੁੱਖ ਨਹੀਂ
ਕੋਈ ਲਾਲਚ ਨਹੀਂ

ਉਹ ਚਾਹੁੰਦਾ ਹੈ, ਸਾਡੀ ਪ੍ਰਾਪਤੀਆਂ
ਹਾਈਲਾਈਟਜ਼,
ਅਸੀਂ ਕਿੱਥੇ ਖੜ੍ਹੇ ਹਾਂ ਜਦੋਂ
ਉਲਟਾ ਕੇ ਉਹਨਾਂ ਨੂੰ ਦੇਖੋ
ਸੋ, ਮਹਿਮਾ ਤੋਂ ਉੱਠੋ, ਸਰ
ਚੌੜਾ ਵੇਖੋ

ਹਰ ਸਮੇਂ ਗੁਰੂ ਦੇ ਨਾਲ ਹੁੰਦਾ ਹੈ
ਸਾਡੇ ਵਿੱਚ ਗੁਣਾਂ ਦੀ ਭਾਲ ਕਰਦਾ ਹੈ
ਫਿਰ ਇਹ ਚੰਗੀ ਤਰ੍ਹਾਂ ਕੀਤਾ ਜਾਂਦਾ ਹੈ
ਅਤੇ ਸਭ ਤੋਂ ਖਾਸ ਵਿਸ਼ੇਸ਼ ਬਣਾਉਂਦਾ ਹੈ

ਉਹ ਕੋਈ ਤਾਕਤਾਂ ਨਹੀਂ ਚਾਹੁੰਦਾ
ਜਾਇਦਾਦ ਦੇ ਤਬਾਹੀ ਨੂੰ ਰੋਕਦਾ ਹੈ
ਅਤੇ ਸਾਨੂੰ ਬਚਾਉਂਦਾ ਹੈ
ਇੱਕ ਨੇਕ ਅਤੇ ਸਮਰੱਥ ਵਿਅਕਤੀ

Teachers Day Poem in Bengali

ল্যাম্প পোড়া গুরু
জ্ঞান আলো ছড়িয়ে
কোন ক্ষুধা নেই
কোন লোভ নেই

তিনি চান, আমাদের সাফল্য
Unchaiyan,
কোথায় আমরা কখন দাঁড়িয়ে
উল্টা দ্বারা তাদের তাকান
সুতরাং গরিমা থেকে উঠুন, স্যার
দেখা হবে প্রশস্ত

সব সময় গুরুর সাথে যায়
আমাদের মধ্যে গুণাবলী খোঁজা
তারপর এটি ভাল কাজ করা হয়
এবং সবচেয়ে বিশেষ করে তোলে

তিনি কোন সাধুবাদ চান না
শুধু সম্পত্তি বিধ্বংস স্টপ
এবং আমাদের সংরক্ষণ করে
একটি উন্নতচরিত্র এবং সক্ষম ব্যক্তি