Hindi Lekh

World Cancer Day Speech in Hindi – विश्व कैंसर दिवस पर भाषण | Pdf Download

World cancer day 2019 : लोगो को कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी के बारे में अवगत करानेके लिए “विश्व कैंसर दिवस” हर साल 4 फरवरी को मनाया जाता है | कैंसर एक स्वस्थ शरीर को धीरे-धीरे खत्म कर देता है| कैंसर की अलग-अलग स्टेज होतीं हैं जिनके जरिये डॉक्टर कैंसर के मरीज का इलाज सुनिश्चित करते हैं|कैंसर से बचने के बहुत से तरीके होते हैं जिनके बारे में बहुत लोग जानते भी हैं फिर भी उन्हें अपनाते नहीं हैं और लोगों को कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी के प्रति जागरूक करने के लिए विश्व कैंसर दिवस मनाया जाता है|

वर्ल्ड कैंसर डे भाषण

World cancer day 2019 theme: विश्व कैंसर दिवस 2019 की थीम “आई ऍम एंड आई विल” है |

यूआईसीसी (केन्द्रीय अंतरराष्ट्रीय कैंसर नियंत्रण) के नियंत्रण में और विभिन्न दूसरे प्रसिद्ध कैंसर समाजों, शोध संस्थानों, उपचार केन्द्रों और मरीजों के समूह की सहायता के साथ 1933 में स्वीट्ज़रलैण्ड के जेनेवा में विश्व कैंसर दिवस को मनाने की योजना की शुरुआत हुई थी। इस घातक बीमारी को नियंत्रित करने और लड़ने के लिये सभी जरुरतों को पूरा करने के लिये विश्व कैंसर दिवस के कार्यक्रम स्थापना हुई थी।

एक रिपोर्ट के अनुसार ये ध्यान देने योग्य है कि 12.7 मिलीयन से अधिक लोगों की कैंसर की पहचान की गयी साथ ही हर वर्ष 7 मिलीयन लोग इस बीमारी से मरते हैं। इस संक्रामक बीमारी के खतरे से बचाने और इसके एहतियातन कदम का अनुसरण करने, लोगों को इसके लक्षणों की जाँच करने के लिये निर्देश देना साथ ही साथ कैंसर से लाखों जीवन बचाने के लिये इस दिन के वार्षिक उत्सव को मनाने की योजना की शुरुआत की गयी। 4 फरवरी की स्थापना खासतौर से सही खान-पान के बारे में उन्हें सिखाने, नियमित और उचित शारीरिक क्रियाकलाप के लिये और एक सीख कि कैसे कैंसरकारी तत्व या परिस्थिति से बचाव किया जाए आदि कैंसर के प्रति लोगों में जागरुकता फैलाने के लिये की गयी है।

कैंसर से बचाव और इसके रोकथाम के बारे में खास संदेश फैलाने के लिये प्रमुख स्वास्थ्य संगठन के साथ ही गैर-सरकारी संगठन कैंप आयोजित करके, जागरुकता कार्यक्रम, रैली, भाषण, सेमिनार आदि के द्वारा भाग लेते है। विभिन्न नियंत्रित उपाय नीति लागू की गयी है तथा बड़ी संख्या में इससे जुड़ने के लिये लोगों को बढ़ावा दिया जाता है।

उत्सव को मनाने के दौरान भाग लेने के लिये इस दिन को मनाने से पहले कई तरीकों के द्वारा आमजनों, स्वास्थ्य संगठनों और दूसरे गैर-सरकारी संगठनों को बढ़ावा और निवेदन किया जाता है। आम नागरिक इस कार्यक्रम का मुख्य लक्ष्य होते है जिनके लिये ये संदेश फैलाया और बाँटा जाता है जिससे कैंसर को नियंत्रित किया जा सके। तदनुसार यूआईसीसी के द्वारा बेहतर सहायता के लिये एक उपकरण साजो-सामान जिसके पास साँचा, सूचना पत्रक, और निर्देश होता है, विभिन्न संगठनों के लिये उपलब्ध कराया जाता है।

लोगों को दिखाने के लिये इस दिन पर विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं कि कैंसर से पीड़ित व्यक्ति को अलग से उपचारित न किया जाये, उन्हें समाज में एक आम इंसान की तरह जीने का अधिकार होना चाहिये और कोई भी रिश्ता उनके लिये बदलना नहीं चाहिये। अपने रिश्तेदारों के द्वारा उनकी हर इच्छाओं को पूरा करना चाहिये भले ही उनके जीने की उम्मीद कम क्यों न हों। ये बहुत जरुरी है कि उन्हें एक आम इंसान की तरह अच्छा महसूस कराना चाहिये और ऐसा प्रतीत नहीं कराना चाहिये जैसे उनको कुछ उपचार दिया जा रहा है क्योंकि वो मरने वाले हैं। उन्हें आत्म-सम्मान को महसूस करने की जरुरत है और अपने समाज और घर में एक सामान्य वातावरण की जरुरत है।

Speech essay in hindi

वैश्विक आधार पर एक दिन सभी लोगों को एक करने के द्वारा इसके एहतियाति कदम सहित इसके उपचार और इस महामारी के बारे में वास्तविक संदेश को फैलाने के साथ ही कैंसर के खिलाफ लड़ने के लिये रणनीति बनाने की ओर सरकारी और गैर-सरकारी स्वास्थ्य संगठन, संयुक्त राष्ट्र, डबल्युएचओ के द्वारा सभी प्रयासों को याद करने के लिये पूरे विश्व में 4 फरवरी को हर साल विश्व कैंसर दिवस मनाया जाता है। इसे कुछ नयी रणनीतियों की योजना के साथ ही कुछ नये कार्यक्रमों को लागू करने के लिये मनाया जाता है जो इस बीमारी के बारे में ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरुक करने में मदद करता है। ये कार्यक्रम वार्षिक आधर पर कैंसर के खिलाफ लड़ाई में शामिल केन्द्रीय अंतरराष्ट्रीय कैंसर नियंत्रण (यूआईसीसी) और दूसरे प्रमुख स्वास्थ्य संगठन की देखरेख में आयोजित किया जाता है।

विश्व कैंसर दिवस कैसे मनाया जाता है

कैंसर से बचाव और इसके रोकथाम के बारे में खास संदेश फैलाने के लिये प्रमुख स्वास्थ्य संगठन के साथ ही गैर-सरकारी संगठन कैंप आयोजित करके, जागरुकता कार्यक्रम, रैली, भाषण, सेमिनार आदि के द्वारा भाग लेते है। विभिन्न नियंत्रित उपाय नीति लागू की गयी है तथा बड़ी संख्या में इससे जुड़ने के लिये लोगों को बढ़ावा दिया जाता है।

उत्सव को मनाने के दौरान भाग लेने के लिये इस दिन को मनाने से पहले कई तरीकों के द्वारा आमजनों, स्वास्थ्य संगठनों और दूसरे गैर-सरकारी संगठनों को बढ़ावा और निवेदन किया जाता है। आम नागरिक इस कार्यक्रम का मुख्य लक्ष्य होते है जिनके लिये ये संदेश फैलाया और बाँटा जाता है जिससे कैंसर को नियंत्रित किया जा सके। तदनुसार यूआईसीसी के द्वारा बेहतर सहायता के लिये एक उपकरण साजो-सामान जिसके पास साँचा, सूचना पत्रक, और निर्देश होता है, विभिन्न संगठनों के लिये उपलब्ध कराया जाता है।

लोगों के बीच इस कार्यक्रम को और परिणाम केन्द्रीत बनाने के लिये एक खास थीम के इस्तेमाल के द्वारा हर वर्ष इसे मनाया जाता है। एक रिपोर्ट के अनुसार, प्रति वर्ष विभिन्न प्रकार के कैंसर और मृत्यु दर के लिहाज से कलेजे के कैंसर/6,10,000, फेफड़ा के कैंसर/1.3 मिलीयन, कोलोरेक्टल के कैंसर/6,39,000, पेट का कैंसर/8,03,000, स्तन कैंसर/5,19,000 आदि के लोग (मध्यम और निम्न आय) शामिल हैं।

उत्सव को मनाने के दौरान, कैंसर होने के कारण के खतरों के बारे उनको बताने के लिये लोगों को लक्षित किया जाता है जैसे तंबाकू का इस्तेमाल, अत्यधिक वजन, कम सब्जी और फल खाना, कम या बिल्कुल भी शारीरिक क्रियाएँ नहीं करना, शराब का इस्तेमाल, एचपीवी संक्रमण, शहरी क्षेत्रों के वायु प्रदूषण, घर के अंदर धुम्रपान, अनुवांशिक खतरा, अत्यधिक धूप में रहना आदि। ह्यूमन पेपिलोमा वायरस और हेपेटाईटिस बी के अलावा टीकाकरण के तरीकों के बारे में भी लोगों को जागरुक किया जाता हैं।

कैंसर के बारे में आम मिथक और तथ्य

आम लोगों के बीच में कैंसर के बारे में यहाँ नीचे कुछ आम मिथक और तथ्य दिये गये हैं जिसको हटाना बहुत जरुरी है तथा इसके ऊपर नियंत्रण पाने के लिये इसकी वास्तविकता को अच्छे से समझना होगा।
आमतौर पर लोग ये सोचते हैं कि कैंसर के ऊत्तक केवल स्वास्थ्य का मसला होता है जबकि ऐसा नहीं होता।
सामान्य लोग समझते हैं कि कैंसर धनवान और उम्रदराज़ लोगों की बीमारी है जबकि ये एक वैश्विक और संक्रामक रोग है जो सभी उम्र के लोगों को हो सकता है।
आमजन को लगता है कि कैंसर से पीड़ित होना मतलब ये एक सजा के समान है लेकिन अब ज्यादातर कैंसर उपचार योग्य है।
आम लोगों को लगता है कि कैंसर उनकी किस्मत में था जबकि 30% मामलों में इसे पूरे जीवन भर के लिये ठीक और रोका जा सकता है।

World Cancer Day Speech1

Short Speech on World Cancer Day

विश्व कैंसर दिवस एक एकमात्र पहल है जिसके तहत पूरी दुनिया को वैश्विक कैंसर की महामारी के खिलाफ लड़ाई में एकजुट होना है| यह हर साल 4 फरवरी को आयोजित होता है| विश्व कैंसर दिवस का उद्देश्य लोगों में जागरूकता बढ़ाना है, जिसके द्वारा प्रत्येक वर्ष लाखों लोगों को रोकथाम योग्य बनाकर मौतों से बचाया जाए। पूरी दुनिया में सरकारों और व्यक्तियों को इन रोगों के विरुद्ध कार्रवाई करनी होगी|

विश्व कैंसर दिवस का इतिहास

1933 में UICC(Union for International Cancer Control) की दिशा में जिनेवा, स्विट्जरलैंड और विभिन्न अन्य प्रसिद्ध कैंसर समाजों, अनुसंधान संस्थानों, उपचार केंद्रों और रोगी समूहों के समर्थन के साथ विश्व कैंसर दिवस समारोह की योजना बनाई गई थी| इस घातक बीमारी से लड़ने और इसे नियंत्रित करने के लिए सभी जरूरतों को पूरा करने के लिए विश्व कैंसर दिवस की घटना स्थापित की गई थी। रिपोर्ट के अनुसार यह देखा गया कि 12.7 मिलियन से अधिक लोगों की रिपोर्ट कैंसर से पीड़ित है और 7 मिलियन से अधिक लोग हर साल कैंसर से मर रहे है।

कैंसर से लाखों लोगों को बचाने के लिए लोगों को इसके लक्षणों की जांच करने, इसके निवारक उपायों का पालन करने और इस महामारी की बीमारी के जोखिम से बचाए जाने के लिए इस दिन एक वार्षिक उत्सव शुरू करने की योजना बनाई गई थी। 4 फरवरी का दिन विशेष रूप से लोगों के बीच कैंसर की जागरूकता बढ़ाने के लिए स्थापित किया गया था ताकि उन्हें स्वस्थ आहार नियमित और उचित शारीरिक गतिविधि के बारे में शिक्षा दी जा सके और पर्यावरण कार्सिनोजेन्स से कैसे बचा जा सके।

विश्व कैंसर का दिन कैसे मनाया जाता है ?

कैंसर की जागरूकता और इसकी रोकथाम के बारे में विशेष संदेश को प्रसारित करने के लिए, प्रमुख स्वास्थ्य संगठनों के साथ-साथ गैर-सरकारी संगठनों ने शिविर, जागरूकता कार्यक्रमों, रैलियों, व्याख्यानों, सेमिनारों आदि आयोजन में भाग लेते है। नियंत्रण उपायों की नीतियों को लागू किया गया और लोगों की जनता को इसमें शामिल होने के लिए लोगों को प्रोत्साहित किया जाता है। आम जनता, स्वास्थ्य संगठनों और अन्य गैर-सरकारी संगठनों से आग्रह किया गया कि वे समारोह उत्सव के दौरान भाग लेने के लिए इस दिन के उत्सव से पहले कई तरीकों से इसका प्रचार व प्रसार करें| आम लोगों को इस त्यौहार के जश्न का मुख्य लक्ष्य बताया जाता है, जो कैंसर पर अधिक नियंत्रण पाने के लिए चारों ओर यह संदेश प्रसारित करते है। और अधिक बेहतर सहायता के लिए यूआईसीसी द्वारा एक टूलकिट प्रदान की जाती हैं।, जिसके अनुसार इस किट में विभिन्न संगठनों के लिए कार्य करने की दिशाएं टेम्पलेट्स, और पत्रक शामिल होते है| इस दिन को हर साल एक विशेष विषय वस्तु का उपयोग करके इस दिन को और अधिक लोगों के बीच उन्मुख बनाने के लिए मनाया जाता है, ताकि लोग जागरूक हो सके। इस उत्सव के दौरान, लोगों को उन जोखिम वाले चीजों के विषय में लक्षित किया जाता है जिनके कारण कैंसर जैसे कि तंबाकू का उपयोग, अधिक वजन या मोटापे, कम फल या सब्जी का सेवन, कम या कोई शारीरिक गतिविधि, शराब का उपयोग, एचपीवी संक्रमण का यौन संचरण, शहरी क्षेत्रों में वायु प्रदूषण, इनडोर धुआं, आनुवंशिक रूप से जोखिम वाले कारक, सूर्य के प्रकाश के संपर्क में आदि। इसके आलावा मानव पेपिलोमा वायरस और हेपेटाइटिस बी वायरस के खिलाफ टीकाकरण पद्धति के बारे में भी लोगों को जानकारी मिलती है।

Speech in English

World Cancer Day is celebrated every year on 4th of February all over the world to commemorate all the efforts done by the WHO, United Nations, governmental and nongovernmental health organizations towards making the strategy to fight against cancer as well as distributing the real message about this epidemic disease and its treatments including its precautionary measures by uniting all the people a day on global basis. It is celebrated to plan some new strategies as well as implement some new programs which help to aware more people about this disease. This event is organized on annual basis under the supervision of Union for International Cancer Control (UICC) and other leading health organizations involved for cancer fighting.

To spread the special messages about the cancer awareness and its prevention, the leading health organizations as well as nongovernmental organizations takes part by organizing the camps, awareness programs, rallies, lectures, seminars and etc. Variety of control measures policies gets implemented and people are promoted to join in masses. Common public, health organizations and other nongovernmental organizations are requested and promoted through many ways before the day celebration to take part during the event celebration. Common people are the main target of the event celebration to which the message is to be spread and shared to get more control over the cancer. A toolkit, having templates, leaflets and direction for various organizations accordingly, is provided by the UICC for better assistance.

World cancer day is celebrated to make aware the normal people about the risk factors and preventive measures of the cancer to get prevented or its early detection. Generally, people suffering from the cancer are hated by the normal people in the society and behaved like an untouched person. There are various other social myths related to the cancer that normal people think that they would got cancer if they would touch or live with the person having cancer. The day is celebrated as well to remove such type of the social myths related to the cancer. It is celebrated to make the normal aware about all the reality of the cancer like its symptoms, causing factors, treatment, and etc.

Speech in punjabi

ऊपर हमने आपको world cancer day 2018 theme, logo, world cancer awareness day 2018, 2018 quotes, 2018 images, national cancer day 2018, world cancer day signs आदि की जानकारी किसी भी भाषा जैसे Hindi, Urdu, उर्दू, English, sanskrit, Tamil, Telugu, Marathi, Punjabi, Gujarati, Malayalam, Nepali, Kannada के Language Font , 100 words, 150 words, 200 words, 400 words, 500 words में साल 2007, 2008, 2009, 2010, 2011, 2012, 2013, 2014, 2015, 2016, 2017 का full collection whatsapp, facebook (fb) व instagram पर share कर सकते हैं |

ਵਿਸ਼ਵ ਕੈਂਸਰ ਦਿਵਸ ਇਕ ਅਜਿਹੀ ਇਕਲੌਤੀ ਪਹਿਲਕਦਮੀ ਹੈ ਜਿਸ ਤਹਿਤ ਸਾਰੀ ਦੁਨੀਆਂ ਵਿਸ਼ਵ ਦੀ ਕੈਂਸਰ ਮਹਾਮਾਰੀ ਦੇ ਖਿਲਾਫ ਲੜਾਈ ਵਿਚ ਇਕਜੁੱਟ ਹੋ ਸਕਦੀ ਹੈ. ਇਹ ਹਰ ਸਾਲ 4 ਫਰਵਰੀ ਨੂੰ ਹੁੰਦਾ ਹੈ. ਵਿਸ਼ਵ ਕੈਂਸਰ ਦਿਵਸ ਦਾ ਟੀਚਾ ਹਰ ਸਾਲ ਕੈਂਸਰ ਬਾਰੇ ਜਾਗਰੂਕਤਾ ਅਤੇ ਸਿੱਖਿਆ ਵਧਾਉਣ ਅਤੇ ਦੁਨੀਆਂ ਭਰ ਦੀਆਂ ਸਰਕਾਰਾਂ ਅਤੇ ਵਿਅਕਤੀਆਂ ਨੂੰ ਬਿਮਾਰੀ ਵਿਰੁੱਧ ਕਾਰਵਾਈ ਕਰਨ ਲਈ ਦਬਾਉਣ ਦੁਆਰਾ ਲੱਖਾਂ ਰੋਕਣਯੋਗ ਮੌਤਾਂ ਨੂੰ ਬਚਾਉਣ ਦਾ ਉਦੇਸ਼ ਹੈ. ਯੂਆਈਸੀਸੀ ਦਿਨ ਦੀ ਸਫਲਤਾ ਅਤੇ ਪ੍ਰਭਾਵ ਤੇ ਵਿਸਥਾਰ ਕਰਨਾ ਜਾਰੀ ਰੱਖਦੀ ਹੈ ਅਤੇ ਇਸ ਗੱਲ ਨੂੰ ਯਕੀਨੀ ਬਣਾਉਣ ਲਈ ਵਚਨਬੱਧ ਹੈ ਕਿ ਸਾਲ-ਦਰ-ਸਾਲ ਇਹ ਸਮਾਰੋਹ ਸੰਸਾਰ ਦੇ ਹੋਰ ਲੋਕਾਂ ਦੁਆਰਾ ਦੇਖਿਆ ਅਤੇ ਸੁਣਿਆ ਜਾਂਦਾ ਹੈ. ਅਸੀਂ ਆਪਣੇ ਮੈਂਬਰਾਂ ਨਾਲ ਸਿੱਧੇ ਤੌਰ ‘ਤੇ ਕੰਮ ਕਰਨ ਦੁਆਰਾ ਇਸ ਮੁਹਿੰਮ ਨੂੰ ਵਿਕਸਤ ਕਰਨ ਲਈ ਕਰਦੇ ਹਾਂ ਜੋ ਆਪਣੀਆਂ ਵੱਖਰੀਆਂ ਸੰਗਠਨਾਤਮਕ ਤਰਜੀਹਾਂ ਦੀ ਸੇਵਾ ਕਰਦੀਆਂ ਹਨ; ਇਹ ਦੋ-ਪੱਖੀ ਰਣਨੀਤਕ ਪਹੁੰਚ ਦੁਆਰਾ ਪ੍ਰਾਪਤ ਕੀਤਾ ਜਾਂਦਾ ਹੈ:

ਯੂਆਈਸੀਸੀ ਪ੍ਰਦਾਨ ਕਰਦਾ ਹੈ ਅਤੇ ਗਲੋਬਲ ਵਰਲਡ ਕੈੱਨਡਰ ਡੇ ਸੰਦੇਸ਼ ਦੇ ਅਨੁਕੂਲ ਅਤੇ ਸਥਾਈ ਕੈਲੰਡਰ ਜਾਗਰੂਕਤਾ ਮੁਹਿੰਮਾਂ ਨੂੰ ਚਲਾਉਣ ਲਈ ਇਸ ਦੇ ਮੈਂਬਰ ਸੰਸਥਾਵਾਂ ਨੂੰ ਉਤਸ਼ਾਹਿਤ ਕਰਨ ਲਈ ਸਾਧਨਾਂ ਅਤੇ ਮਾਰਗਦਰਸ਼ਨ ਦੇ ਵਿਕਾਸ ਦੁਆਰਾ ਸਹਾਇਤਾ ਪ੍ਰਦਾਨ ਕਰਦਾ ਹੈ. ਉਪਰੋਕਤ ਦੇਸ਼ ਪੱਧਰ ‘ਤੇ, ਅਸੀਂ ਦਿਨ ਦੀ ਜਨਤਾ ਬਾਰੇ ਜਾਗਰੂਕਤਾ ਵਧਾਉਣ ਲਈ ਡਿਜੀਟਲ, ਰਵਾਇਤੀ ਅਤੇ ਸੋਸ਼ਲ ਮੀਡੀਆ ਦੇ ਮੌਕਿਆਂ ਨੂੰ ਸੁਰੱਖਿਅਤ ਅਤੇ ਸਮਰਥਨ ਕਰਨ ਲਈ ਕੰਮ ਕਰਦੇ ਹਾਂ. ਸਾਡੀ ਮੈਂਬਰਸ਼ਿਪ ਅਤੇ ਮੁੱਖ ਭਾਈਵਾਲਾਂ ਦੀ ਲਗਾਤਾਰ ਸਹਾਇਤਾ ਦੇ ਰਾਹੀਂ, ਵਿਸ਼ਵ ਕੈਂਸਰ ਦਿਵਸ ਪੂਰੀ ਦੁਨੀਆਂ ਦੇ ਕੈਲੰਡਰਾਂ ਵਿੱਚ ਆਪਣੇ ਆਪ ਨੂੰ ਸੀਮਿਤ ਕਰਨ ਲਈ ਸ਼ੁਰੂ ਕਰ ਰਿਹਾ ਹੈ.

Leave a Comment