Hindi Lekh Nibandh

New Year Essay in Hindi Language 2019 | नए साल पर हिन्दी निबंध | नव वर्ष निबंध व भाषण एस्से 2019

New Year Essay in Hindi – नव वर्ष पर निबंध : नया साल पूरे विश्वभर में पूर्ण उत्साह के साथ पूरे विश्व में मनाया जाता है यह लोगों के लिए एक विशेष दिन है और वे आने वाले साल के लिए एक दुसरे को शुभकामनायें भेजते हैं व विश करते हैं| इस दिन लोग नए कपड़े, उपहार और बाजार से अलग चीजें खरीदते हैं। नए साल पर सभी दुकानें भीड़ से भरी रहती हैं| जनवरी में भारत में नए साल का उत्सव भोजन, फोल और अनुष्ठान से भरपूर होता है। आज हम आपके लिए लाये हैं Happy New Year Essay 2019, Speech on New Year 2019 in Hindi. ये एस्से छोटे बच्चो Kids को स्कूलों में न्यू ईयर सेलिब्रेशन इन स्कूल के बारे में पढ़ाया जाता है तथा उसमे हर क्लास के बच्चे नई ईयर एस्से in hindi for class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 और 12 इस तरह से इंटरनेट पर सर्च करते है व स्कूलों ले प्रोग्राम में भाग लेते है| आइये देखे कुछ निबंध|

Hindu nav varsh 2018 in hindi

Essay on new year celebration in india in hindi इस प्रकार है:


यूं तो पूरे विश्व में नया साल अलग-अलग दिन मनाया जाता है, और भारत के अलग-अलग क्षेत्रों में भी नए साल की शुरूआत अलग-अलग समय होती है। लेकिन अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार 1 जनवरी से नए साल की शुरूआत मानी जाती है। चूंकि 31 दिसंबर को एक वर्ष का अंत होने के बाद 1 जनवरी से नए अंग्रेजी कैलेंडर वर्ष की शुरूआत होती है। इसलिए इस दिन को पूरी दुनिया में नया साल शुरू होने के उपलक्ष्य में पर्व की तरह मनाया जाता है।
चूंकि साल नया है, इसलिए नई उम्मीदें, नए सपने, नए लक्ष्य, नए आईडियाज के साथ इसका स्वागत किया जाता है। नया साल मनाने के पीछे मान्यता है कि साल का पहला दिन अगर उत्साह और खुशी के साथ मनाया जाए, तो साल भर इसी उत्साह और खुशियों के साथ ही बीतेगा।
हालांकि हिन्दू पंचांग के अनुसार के मुताबिक नया साल 1 जनवरी से शुरू नहीं होता। हिन्दू नववर्ष का आगाज गुड़ी पड़वा से होता है। लेकिन 1 जनवरी को नया साल मनाना सभी धर्मों में एकता कायम करने में भी महत्वपूर्ण योगदान देता है, क्यों इसे सभी मिलकर मनाते हैं। 31 दिसंबर की रात से ही कई स्थानों पर अलग-अलग समूहों में इकट्ठा होकर लोग नए साल का जश्न मनाना शुरू कर देते हैं और रात 12 बजते ही सभी एक दूसरे को नए साल की शुभकामनाएं देते हैं।
नया साल एक नई शुरूआत को दर्शाता है और हमेशा आगे बढ़ने की सीख देता है। पुराने साल में हमने जो भी किया, सीखा, सफल या असफल हुए उससे सीख लेकर, एक नई उम्मीद के साथ आगे बढ़ना चाहिए। जिस प्रकार हम पुराने साल के समाप्त होने पर दुखी नहीं होते बल्‍कि नए साल का स्वागत बड़े उत्साह और खुशी के साथ करते हैं, उसी तरह जीवन में भी बीते हुए समय को लेकर हमें दुखी नहीं होना चाहिए। जो बीत गया उसके बारे में सोचने की अपेक्षा आने वाले अवसरों का स्वागत करें और उनके जरिए जीवन को बेहतर बनाने की कोशिश करें।
नए साल की खुशी में कई स्थानों पर पार्टी आयोजित की जाती है जिसमें नाच-गाना और स्वादिष्ट व्यंजनों के साथ-साथ मजेदार खेलों के जरिए मनोरंजन किया जाता है। कुछ लोग धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन कर ईश्वर को याद कर नए साल की शूरूआत करते हैं।
Click To Tweet

Parsi new year essay in Hindi


New Year Essay in Hindi Language 2019: नया साल ऐसे उत्सव में से एक है जिसे आज तक सबसे पुराना छुट्टी माना जाता है| हालांकि विभिन्न क्षेत्रों में उत्सव की तारीख और जिस तरह से मनाया जाता है, वह वर्षों में बदल गया है। यह पहली बार बाबुल में अस्तित्व में आया और वसंत के पहले दिन से शुरू होने वाले ग्यारह दिनों में मनाया गया। इससे पहले कई संस्कृतियां थीं जो चंद्रमा और सूर्य चक्र पर विचार करके नए साल के दिन का फैसला किया। यह तब था जब जूलियन कैलेंडर अस्तित्व में आया जब 1 जनवरी को एक विश्वव्यापी नव वर्ष उत्सव दिवस बन गया। सालों से उत्सव की तारीख के अलावा उत्सव के तरीके ने भी बदल दिया है। शुरुआती दिनों में नए साल के उत्सव में बुतपरस्ती के साथ जुड़ा हुआ था, ईसाईयों ने इसे सुन्नत का पर्व के रूप में मनाया, रोमियों ने मरीया की घमंडी के रूप में मनाया बीसवीं शताब्दी में अवकाश धर्म से असंबद्ध हुआ और रिश्तों, राष्ट्रीयता और आत्मनिरीक्षण का उत्सव बन गया| New Year Essay in Hindi – नव वर्ष पर निबंध
समारोह में आनंदमय संदेश, खुशहाल इच्छाएं, पार्टियां, नृत्य, पटाखे, लाइटिंग, नए कपड़े और आउटिंग शामिल हैं। लोग नए साल के कई प्रस्तावों की योजना बनाते हैं। सभी देशों में मीडिया का सबसे गर्म समाचार नए साल का समारोह होगा।
Click To Tweet

New year resolution essay in hindi


Ek zamana tha jab mera kad (height) ooncha tha. Lambe kadam chalne mein ek adbhut anand milta tha. Lekin safar ke darmyan dheere dheere mujhe sandeh hua ki kahin mera kad chhota toh nahin ho raha. Agle kuchh varshon mein mera shaq yakeen mein badalta gaya. Aur dekhte hi dekhte is saal mera kad aur bhi chhota ho gaya. 2017 yearKabhi mere kad ko kisi Facebook post ke liye chhota kiya gaya toh kabhi kisi haanirahit (harmless) film ke liye. Pehle toh jab koi naami vyakti mera istamaal karte the tab mera kad chhota hota tha. Aaj toh aam aadmi bhi agar mera istamaal karen toh agle din mera kad aur chhota ho jata hai. Phir dheere dheere main samaj gaya ki sahi baat kehne par mera kad chhota hote rahega. Ashcharya ki baat yeh hai ki naak aur gala kaatne waale log bhi mera istamaal karne lage hain, jab ki mera unse koi nata nahin. Mera kad chhota ho jane ke baavjood main naye varsh ki taraf badh raha hoon. Aaj ki sthiti dekhte hue lagta hai ki 2019 mein mera kad aur bhi chhota ho jayega. Meri lambaai kaatne ke liye naye saal mein bhi log tatpar honge. Ab main zameen ke star par gir jaaun uske pehle mujhe bacha lijiye. Warna meri anupasthiti mein aapka moolya kisi vastu se zyada na hoga.
Click To Tweet

How i celebrate new year essay in hindi

नव वर्ष पर निबंध Happy New Year Essay in Hindi इस प्रकार हैं:


नव वर्ष भारत में ग्रेगोरी कैलेण्डर के अनुसार 1 जनवरी को माना जाता है। यह दिन विश्व में हर किसी व्यक्ति के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण अवसर से भरा होता है। भारत के साथ-साथ विश्व के सभी देश नए साल के शुरुवात पर जश्न मनाते हैं और अपने प्रियजनों के साथ मिल कर इस दिन का मज़ा उठाते हैं। लोग इस दिन गाना गाते हैं, नाचते हैं, तरह-तरह के खेल खेलते हैं, पार्टियों में जाते हैं, फ़िल्में देखने जाते हैं। शहरों की बात तो छोड़ें गाँव में भी लोग पिकनिक मनाने जाते हैं। 31 दिसम्बर की रात के 12 बजे, नए साल से एक दिन पहले लोग जश्न मनाते हैं खूब सारे पटाखे भी फोड़ते हैं। नए साल के प्रथम दिन लोग एक दुसरे को नव वर्ष की शुभकामनाएं देते हैं और कुछ लोग ग्रीटिंग कार्ट देते हैं, गिफ्ट देते हैं और साथ मिल कर पार्क में घूमने भी जाते हैं। इस दिन टेलीविज़न पर मीडिया चैनल वाले भी लोगों के द्वारा आयोजित तरह-तरह के प्रोग्रामों को टीवी पर टेलीकास्ट करते हैं। इस दिन हर कोई व्यक्ति जीवन में एक नई और अच्छी शुरुवात करने की सोचते हैं। बड़े-बड़े शहरों जैसे मुंबई, दिल्ली, बैंगलोर और चेन्नई में बड़े लाइव कॉन्सर्ट किये जाते हैं जिनमें बॉलीवुड के सितारे और मशहूर लोग एकत्र होते हैं और कार्यक्रम में भाग लेते हैं। हजारों की तागाद में लोग उनके इन समारोह को देखने के लिए आते हैं। कुछ लोग अपने परिवार, मित्रों के साथ घर में मिलकर पार्टी मनाते हैं तो कुछ लोग बाहर घूमने जाते हैं। यह सब समारोह बस इसलिए होते हैं ताकि हम बीते हुए साल को हँसते-हँसते विदा कर सकें और हँसते-हँसते ढेर सारी खुशियों, उमंगो और नयी आशाओं के साथ नए वर्ष का स्वागत कर सकें। भारत में ग्रेगोरियन कैलंडर के 1 जनवरी को सभी सरकारी दफ्तर, व्यापार खुले रहते हैं और सभी परिवहन की सुविधा उपलब्ध होती है। ऐसे समय में ज्यादातर मेट्रो शहर में सुरक्षा के पैमानों को बढ़ा दिया जाता है क्योंकि ऐसे समय में ज्यादा भीड़ के कारण बहुत सारी दुर्घटनाएं होने की सम्भावना होती है। नए वर्ष के आगमन के दिनों में गोवा जैसे स्थानों में विश्व भर से पर्यटक आते हैं ऐसे में सुरक्षा की जरूरत बहुत ज्यादा होती है। परंपरागत रूप से नए वर्ष को 1 मार्च को मनाया जाता है पर अधिक धार्मिक महत्व होने के कारण 1 जनवरी को इसका जश्न मनाया जाता है। भारत में पश्चिमी सभ्यता के बढ़ते चलन के कारण नव वर्ष का दिन 1 जनवरी, भारत…
Click To Tweet

My new year resolution essay in hindi


माननीय प्रधानाचार्य महोदय, अध्यापकगण, और मेरे प्यारे मित्रों, आप सभी को मेरी तरफ से शुभ प्रभात। आज में इस नए वर्ष के पहले दिन में अपने कुछ विचार आप सबके साथ व्यक्त करना चाहता हूँ। एक वर्ष में 365 दिन होते हैं पर सभी वर्ष कैसे बीत जाते है यह हमें पता भी नहीं चल पाता। यह वर्ष किसी के लिए बहुत ही अच्छा गुज़रता है तो किसी के लिए बहुत बुरा। जिनके दिन बीते साल अच्छे गए थे वे लोग इस दिन यह कामना करते हैं की उन्हें आने वाले साल में ऐसी खुशियाँ मिलती रहे और जिनके साथ बुरा या दुखदाई हुआ था वो भी वही कामना करते हैं। इसका सही अर्थ यह है की इस दिन हर कोई एक नये उमंग के साथ एक नयी शुरुवात करने की सोचते हैं। यह वो समय होता है जब हम मुश्किलों का हल ढूँढ़ते हैं। यह वो समय है जब हम लोग कुछ अच्छा सोचते हैं अपने सफलता के लिए नया लक्ष देखते हैं। इस दिन हर किसी व्यक्ति के मन में एक सकारात्मक भावना की लहर होती है। अपने पुराने नकारात्मक विचारों को हर कोई छोड़ कर कुछ अच्छा और सुनहरा करने की शुरुवात में लग जाते हैं। मैं इस नव वर्ष के शुरुवात में आप सभी को अपनी शुभकामनायें देना चाहता हूँ और कहना चाहता हूँ आप सभी को ढेर सारी खुशियाँ, अच्छे स्वास्थ्य के साथ सफलता मिले और आप सब तरक्की करें।
Click To Tweet

happy new year speech hindi

How you celebrate new year essay in hindi

New year essay in hindi language

happy new year speech hindi

Essay On New Year in Hindi Short | Download

Essay on new year celebration in india in hindi language


शहर उफा, जो रूस में उरल पर्वत के पास स्थित है, मेरे जन्म का स्थान है। यह एक ऐसी जगह है जहां मेरी सभी बचपन की यादें आती हैं। नया साल मनाने के लिए शहर का अपना तरीका है। लोग पहले से कम से कम एक महीने छुट्टी के लिए तैयारी शुरू करते हैं। तैयारी उपहार खरीदने, सजाने के घरों, और नई वेशभूषा बनाने से शुरू होती है। जाहिर है, यह अवकाश नया साल के प्रतीक के बिना पूरा नहीं होगा जो पीढ़ी से पीढ़ी, नए साल के पेड़, अद्वितीय पेड़ से लाखों छोटी सुइयों और पूरे वर्ष हरे रंग में रहने के लिए पार कर गया।
Click To Tweet

Essay about new year in hindi


New Year is celebrated all over the world with great fun and enthusiasm. It is a special day for the people and they well come upcoming year in their own way. People buy new clothes, gifts and different things from market. Shops are full of crowd on these days. !st January is Celebration of New Year in India is a fun full of food, frolic and rituals. People celebrated it with music and dance. Children are very happy on this day as they get gifts and good food to enjoy. In India, different community celebrates their new year on different date according to their calendar. But overall it is a festival which shown happiness in people and spread joy everywhere.
Click To Tweet
Related Search:
new essay in hindi
essay on new year in english
hindu nav varsh poem in hindi
new year speech in gujarati
new year 2016 essay in hindi
hindu nav varsh 2017 in hindi
hindu nav varsh wikipedia
New Year resolution essay
Essay on New Year
College Essay
Paragraph on New Year
New Year essay in Hindi
Speech on New Year

Leave a Comment