माफी की शायरी

माफी की शायरी सॉरी शायरी, माफ़ी शायरी, संस -Mafi Shayari In Hindi – Poetry of apology

Maafi ki Shayari: हमारी जीवन में सबसे मुश्किल चीजों में से एक यह है कि हमसे कोई नाराज़ हो जाए और हमें उनको हर हाल में मानना हो | इसके लिए लोग “I am Sorry” बोलते हैं पर यह इतना आसान नहीं है दोस्तों| बहुत से लोग कहते हैं, “मैं माफी चाहता हूँ” बिना सोचे और निराश्रित क्योंकि वे आगे बढ़ना चाहते हैं पर यह सही तरीका नहीं है आज हम आपको बताएंगे की किसी से माफ़ी कैसे मांगे| जानिये हमारे दिए हुए सॉरी मेसेज, समझ collection, कोट्स, स्टेटस, विश (wishes), उद्धरण, कविता, kavita, poem, एसएमएस, साहरी, sayaree, उद्धरण, messages, msg, एसएमएस हिंदी फॉण्ट Status for sorry आदि जिन्हे आप फेसबुक, व्हाट्सप्प पर अपने दोस्त व परिवार के लोगो के साथ साझा कर सकते हैं|

गलती शायरी


गलती की है तो माफ़ कर ,
मगर यूँ ना नजरअंदाज कर
Click To Tweet

धड़कन बनके जो दिल में समा गए हैं,
हर एक पल उनकी याद में बिताते हैं,
आंसू निकल आये जब वो याद आ गए,
जान निकल जाती है जब वो रूठ जाते हैं
Click To Tweet

आज मैंने खुद से एक वादा किया है,
माफ़ी मांगूंगा तुझसे तुझे रुसवा किया है,
हर मोड़ पर रहूँगा मैं तेरे साथ साथ,
अनजाने में मैंने तुझको बहुत दर्द दिया है।
Click To Tweet

maaf karna shayari in hindi

इस कदर मेरे प्यार का इम्तेहान न लीजिये,
खफा हो क्यूँ मुझसे यह बता तो दीजिये,
माफ़ कर दो गर हो गयी हो हमसे कोई खता,
पर याद न करके हमें सजा तो न दीजिये।
Click To Tweet

बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से,
हो सके तो लौट के आजा किसी बहाने से,
तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले,
कोई बिखर गया है तेरे रूठ जाने से।
Click To Tweet

सॉरी शायरी हिंदी

साथ ही आप Sorry Love Shayari in Hindi for Girlfriend2 Line Maut Shayari in Hindi भी देख सकते हैं|


हमसे कोई खता हो जाये तो माफ़ करना,
हम याद न कर पाएं तो माफ़ करना,
दिल से तो हम आपको कभी भूलते नहीं,
पर ये दिल ही रुक जाये तो माफ़ करना।
Click To Tweet

maafi maang na pic shyari

हो सकता है हमने आपको कभी रुला दिया,
आपने तो दुनिया के कहने पे हमें भुला दिया,
हम तो वैसे भी अकेले थे इस दुनिया में,
क्या हुआ अगर आपने एहसास दिला दिया।
Click To Tweet
माफ़ी मांगना और मनाना हिंदी शायरी

नाराज क्यूँ होते हो किस बात पे हो रूठे,
अच्छा चलो ये माना तुम सच्चे हम ही झूठे,
कब तक छुपाओगे तुम हमसे हो प्यार करते,
गुस्से का है बहाना दिल में हो हम पे मरते।
Click To Tweet

sorry wali shayari

निकला करो इधर से भी होकर कभी कभी,
आया करो हमारे भी घर पर कभी कभी,
माना कि रूठ जाना यूँ आदत है आप की,
लगते मगर हैं अच्छे ये तेवर कभी कभी।
Click To Tweet
माफी मांगने के लिए शायरी

माफी मांगने के लिए शायरी


नाराज क्यूँ होते हो किस बात पे हो रूठे,
अच्छा चलो ये माना तुम सच्चे हम ही झूठे,
कब तक छुपाओगे तुम हमसे हो प्यार करते,
गुस्से का है बहाना दिल में हो हम पे मरते।
Click To Tweet

गलती की माफी माँगने के लिए शायरी

हो सकता है हमने आपको कभी रुला दिया,
आपने तो दुनिया के कहने पे हमें भुला दिया,
हम तो वैसे भी अकेले थे इस दुनिया में,
क्या हुआ अगर आपने एहसास दिला दिया।
Click To Tweet

mafi dard shayari

हमसे कोई खता हो जाये तो माफ़ करना,
हम याद न कर पाएं तो माफ़ करना,
दिल से तो हम आपको कभी भूलते नहीं,
पर ये दिल ही रुक जाये तो माफ़ करना।
Click To Tweet
Sorry Shayari for Girlfriend

बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से,
हो सके तो लौट के आजा किसी बहाने से,
तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले,
कोई बिखर गया है तेरे रूठ जाने से।
Click To Tweet
Sorry Shayari for Boyfriend

दिल से तेरी याद को जुदा तो नहीं किया,
रखा जो तुझे याद कुछ बुरा तो नहीं किया,
हम से तू नाराज़ हैं किस लिये बता जरा,
हमने कभी तुझे खफा तो नहीं किया।
Click To Tweet

रूठे यार को मनाने की शायरी


तुम हँसते हो मुझे हँसाने के लिए,
तुम रोते हो तो मुझे रुलाने के लिए,
तुम एक बार रूठ कर तो देखो,
मर जायेंगे तुम्हें मनाने के लिए।
Click To Tweet

कभी सपने को भी दिल से लगाया करो,
किसी के ख्वाबों में आया-जाया करो,
जब भी जी हो कि कोई तुम्हें भी मनाये,
बस हमें याद करके रूठ जाया करो।
Click To Tweet
दोस्त से माफी मांगने वाला sms hindi me

हम रूठे भी तो किसके भरोसे रूठें,
कौन है जो आयेगा हमें मनाने के लिए,
हो सकता है तरस आ भी जाये आपको,
पर दिल कहाँ से लायें आपसे रूठ जाने के लिये।
Click To Tweet

कब तक रह पाओगे आखिर यूँ दूर हमसे,
मिलना पड़ेगा कभी न कभी ज़रूर हमसे,
नज़रें चुराने वाले ये बेरुखी है कैसी,
कह दो अगर हुआ है कोई कसूर हमसे।
Click To Tweet
गलती शायरी

रूठे दोस्त को मनाना शायरी


तुम खफा हो गए तो कोई ख़ुशी न रहेगी,
तुम्हारे बिना चिरागों में रोशनी न रहेगी,
क्या कहे क्या गुजरेगी इस दिल पर,
जिंदा तो रहेंगे पर ज़िन्दगी न रहेगी।
Click To Tweet

दिल से तेरी याद को जुदा तो नहीं किया,
रखा जो तुझे याद कुछ बुरा तो नहीं किया,
हम से तू नाराज़ हैं किस लिये बता जरा,
हमने कभी तुझे खफा तो नहीं किया।
Click To Tweet

कोई गिला कोई शिकवा ना रहे आपसे;
यह आरज़ू है कि सिलसिला रहे आपसे;
बस इस बात की बड़ी उम्मीद है आपसे;
खफा ना होना अगर हम खफा रहें आपसे।
Click To Tweet

माफी की शायरी 2 लाइन


जब आप का दिल टुटाता है तौ दिल मैरा रौता है…
जब अंजानै सै कौई हमसै कासुर हौ जाता है, तौ यै दिल नासुर बन जाता है
Click To Tweet

ज़िंदगी सिर्फ चार दिन की दास्ताँ है
कहीं रूठने मनाने मे न निकल जाये
Click To Tweet

तुझे मनाऊँ कि अपनी अना की बात सुनूँ,
उलझ रहा है मेरे फ़ैसलों का रेशम फिर।
Click To Tweet

रूठ कर कुछ और भी हसीन लगते हो,
बस यही सोच कर तुम को खफा रखा है।
Click To Tweet

न तेरी शान कम होती न रुतबा ही घटा होता,
जो गुस्से में कहा तुमने वही हँस के कहा होता।
Click To Tweet

कर दो मुआफ गर हुई कोई खता हमसे
अलग तुमसे होकर और अब रहा नहीं जाता हमसे
Click To Tweet

हो गई हो भूल तो दिल से माफ कर देना,..!
सुना है सोने के बाद हर किसी की सुबह नही होती,
Click To Tweet

माफी मांगने की शायरी

Sorry Shayari In Hindi इस प्रकार हैं|

Dekha Hai Aaj Mujhe Bhi Gusse Ki Najar Se,
Malum Nahi Aaj Woh Kis Kis Se Lade Hain.
देखा है आज मुझे भी गुस्से की नज़र से,
मालूम नहीं आज वो किस-किस से लड़े है।
Click To Tweet

Na Teri Shaan Kam Hoti Na Rutba Hi Ghata Hota,
Jo Gusse Mein Kaha Tumne Wahi Hans Ke Kaha Hota.
न तेरी शान कम होती न रुतबा ही घटा होता,
जो गुस्से में कहा तुमने वही हँस के कहा होता।
Click To Tweet

माफ करना शायरी


भूल उसीसे ही होती है जो कुछ करने की कोशिश करता है!
भूल को कबुल करना ही फूल है!
भूल जाओ कि हमसे कोई भूल नहीं होगी
और भूल होने पर सॉरी कहना मत भूलो
वरना छोटी सी भूल भी महँगी पड़ सकती है!!!
Click To Tweet

ग़लती इतनी भी बड़ी नहीं की हमने..
जो नाराज़ हो जाओ उम्रभर के लिए..
माना कि हम तेरे कोई नहीं..
पर तू मेरी सबकुछ ये भी तो किसी से छुपा नहीं.. प्लीज़ मान जाओ..
Click To Tweet

माफ़ कर दो शायरी SMS


तुम खफा हो गए तो कोई ख़ुशी न रहेगी,
तुम्हारे बिना चिरागों में रोशनी न रहेगी,
क्या कहे क्या गुजरेगी इस दिल पर,
जिंदा तो रहेंगे पर ज़िन्दगी न रहेगी।
Click To Tweet

हम रूठे भी तो किसके भरोसे रूठें,
कौन है जो आयेगा हमें मनाने के लिए,
हो सकता है तरस आ भी जाये आपको,
पर दिल कहाँ से लायें आपसे रूठ जाने के लिये।
Click To Tweet

बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से,
हो सके तो लौट के आजा किसी बहाने से,
तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले,
कोई बिखर गया है तेरे रूठ जाने से।
Click To Tweet

‎माफ करना शायरी


MAAFI Maangne Ka Ye Matlab Hargiz Nahi Hota Hai Ke Aap Ghalat Ho. Balke Iska Matlab Hai Ke Aap Apne Taaluq Ko Apni Anaa Se Ziyada Ehmiyat Dete Hain.
Click To Tweet

Samandar ki ret haaton mein samaai nahi jaati, Dilon ki mohabbat labon se bataai nahi jaati, ki jaati hai unse dosti, jinse dil ki koi baat chupaai nahi jaati.
Click To Tweet

माफ़ी शायरी


Maafi se baatein sulajhti nahi
Par takleefein kum ho jaati hai
Ukhde chehron aur dilon ke dard ko
Maafi hi toh manaati hai
I am sorry
Click To Tweet

Har galati ki maafi hoti hai
Khaas kar tab, jab ladki maafi paane ke liye
Raat bhar roti hai
Ab maaf bhi kar do please.
Click To Tweet

सोरी शायरी

आइये देखें रूठे को मनाने की शायरी, mafi mangna shayari, mafi magna sayeri


देखा है आज मुझे भी गुस्से की नज़र से,
मालूम नहीं आज वो किस-किस से लड़े है।
Click To Tweet

माफ़ कर दो उनको जिनको तुम भूल नहीं सकते..,
भूल जाओ उनको जिनको तुम माफ़ नहीं कर सकते..!!
Click To Tweet

माफी शायरी मराठी


Kitni jaldi mulaqat guzar jaati hai, Pyaas bujhti nahin barsaat guzar jaati hai. Apni yaadon se keh do is tarah na aaya kare, Neend aati nahi aur raat guzar jaati hai.
Click To Tweet

Jiski stupid si baatein lagti ho cute, Saccha lagta hai jiska har jhoot, Jiske saath ladte huye aa jaye smile, usey kehte hain friendship with style.
Click To Tweet

माफी पर कविता


रूठे हुए हो तुम मुझसे
हाँ,,रूठना तुम्हारा जायज हे
क्योंकि गलती थी मेरी ,,अपनी
गलती पे मैं शर्मिंदा हूँ
पर सारी गलती मेरी तो नहीं
क्योंकि,,बात तुमने मेरी सुनी नहीं
उस अनसुनी बात पर
बिछुड़े रहे हम दोनों
कोई तो तेरी भी मजबूरी रही होगी
दिल तो चाहता था तेरा भी मुझसे मिलना
पेरों में तेरे कोई तो जंजीर पड़ी
होगी किसी रिश्ते की
आज दिलों मे दर्द हे
तेरे भी ,,मेरे भी
पर हम मिले कैसे
प्रश्न;; हम दोनों के
बीच में हे बस ये ही
जब समय ने सुनी पूरी बात
नमकीन पानी सा उसके भी
गालों पे यहाँ वहां बह गया
समुन्द्र था जो ठहरा आखों में मेरी
हाथों में उसके बह गया ,,एक दुसरे
को चुप कराने की कोशिश में
हम दोनों ही रो पड़े
शब्द तो हमारे दरम्यान ना थे
ख़ामोशी में उस अँधेरे में
दोनों रोते -रोते सो गये
देख रहा था ख्बाव या था नीदों में
ऐसालगा आवाज देकर
बुला रही थी तुम मुझे
शिकवे शिकायतें जब चालू हुए
आंसू ना फिर रुकने को हुए
एक पतली सी लकीर
जो थी हमारे बीच वो हमारे
ही आंसुओं में बह गई
जो गांठ पड़ी थी हमारे बीच
वो दिलो से हमारे निकल गयी
देते थे जो हम एक दुसरे पे जान
क्यों हम दुश्मन किस बात पर हुए
जब तुमने सुनी मेरी पूरी बात
जब रखे मैंने अपने जज़्बात
वही पुरानी हंसी दोनों के
दिलो से निकल पड़ी
अपनी गलती की मांगी थी माफ़ी
और माफ़ी मांगी अपने बनाने वाले से
माफ़ उसने भी मुझको किया
जिसने करवाई थी मुझसे गलती
देख तू ही वो अब कहाँ रहा
गलती ना उसकी ना मेरी ना तेरी
यह सब समय का फेर था
समय ने ही जुदा किया हमको
समय आया तो समय ने ही
एक दुसरे से हमे जोड़ा
हम तो कठपुतली तीनो बने
करने वाला तो कोई और था
यह कोई शायरी नहीं
ना ही कोई कविता है
माफीनामा है प्यार भरा
पढकर शायद वो माफ़ करे मुझको
यह मेरा उसके लिए
प्यार भरा माफीनामा
Click To Tweet