Jesus Christ Quotes in Hindi

Jesus Christ को हम येशु मसीह के नाम से भी जानते है । ईसाई धर्म के अनुयायियों का मानना है कि वह परमात्मा की इकलौते पुत्र थे । इनके माँ का नाम मरियम था। उनके शब्दों में असीम शक्ति थी जो किसी मरे हुए इंसान में भी जान डाल देते थे । ईसा मसीह एक चमत्कारी प्राणी थे वे केवल लोगों को छूकर ही उनकी गंभीर से गंभीर बीमारियों को दूर कर देते थे ।   यहाँ आपके लिए Lord और Savior ईसा मसीह के शक्तिशाली कथनों को लिखा गया है जो आपके जीवन के लिए अत्यंत प्रेरणादायक है ।

येशु मसीह का जीवन परिचय 

पूरा नामJesus Christ येशु मसीह
जन्म6 से 4 बीसी (BC = before Christ)
मृत्युAD 30 से 36 AD (aged 33–36)
मृत्यु का कारणसूली पर चढ़ाकर
जन्म का स्थानयूडिया (Judea ) ,रोमन साम्राज्य
मृत्यु का स्थानयेरुसलेम (जेरूसलम), Judea, रोमन साम्राज्य
प्रसिद्धिईसाई धर्म के संस्थापक

  

Top 10 Quotes On Jesus Christ  in Hindi

  1. क्योंकि भगवान दुनिया से इतना प्रेम करते थे कि उन्होंने अपना इकलौता पुत्र दे दिया, वो जो उसमे यकीन करता है मृत नहीं होगा बल्कि उसका जीवन चिरकालिक हो जायेगा ।
  2. हत्या न करना, आवश्यकता से अधिक धन न रखना, कभी चोरी नही करना और झूठ का साथ न देना ईश्वर की आज्ञा का पालन करने के समान है ।
  3. मैं तुमसे इसलिए कहता हूँ.. अगर आप मागते है तो जरुर मिलेगा अगर खोजते है तो जरुर प्राप्त भी होंगा इसलिए मै कहता हु ईश्वर के दरवाजे खटखटाओ ईश्वर तुम्हारी जरुर सुनेगा और तुम्हारे लिए दरवाजे खोल दिए जायेगे
  4. अगर सच में सही होना चाहते हो तो अपनी सारी सम्पति का त्याग करके मेरे शरण में चले आओ, स्वर्ग में तुम्हे खजाना मिलेगा।
  5. चलो तुममे से एक ; जो पापी ना हो वो पत्थर मारने वाला पहला व्यक्ति होना चाहिए ।
  6. जो तुम्हारे अंदर है उसे बाहर ले आओ और अगर इसे बाहर नही लाते हो तो वह तुम्हे अंदर ही अंदर नष्ट कर देंगा ।
  7. मैं मार्ग हुँ , सत्य हुँ और जीवन हुँ मुझसे हुए बिना कोई परम पिता तक नहीं पहुँच सकता ।
  8. मैं तुमसे कहता हूँ की अपने दुश्मनो से प्यार करो और उनके लिए प्रार्थना करो जो तुमको सताते है. इससे तुम उस पिता की संतान बन जाओगे तो स्वर्ग में है. वह अपना सूर्य बुराई और अच्छाई दोनों पर डालता है और न्यायी व अन्यायी दोनों पर अपनी वर्षा करता है।
  9. मै तुम्हे आज एक नई आज्ञा देता हूं: एक दूसरे से प्यार करो। जैसा कि मैंने तुमसे प्यार किया है, इसलिए आप सभी को एक दूसरे से प्रेम करना चाहिए।   परन्तु मैं तुम से कहता हूं, अपने शत्रुओं से प्रेम करो और उन लोगों के लिए प्रार्थना करो जो तुम्हें सताते हैं, ताकि आप स्वर्ग में अपने पिता परमात्मा के सच्चे पुत्र बन सकें जैसे मै हूँ । वह अपने पुत्रो को बुराई से बचाता है।
  10. हत्या न करना, आवश्यकता से अधिक धन न रखना, कभी चोरी नही करना और झूठ का साथ न देना ईश्वर की आज्ञा का पालन करने के समान है।

प्रभु यीशु के कुछ अनमोल वचन –

  • कल के बारे में चिंता मत करो, कल को अपने लिए चिंतित होने दो. हर दिन की अपनी परेशानी उस दिन के लिए पर्याप्त होती है।
  • जिस तरह पिता अपने पुत्र से प्रेम करता है ठीक उसी तरह मैने भी तुमसे प्रेम किया ।
  • जो अपनी आवश्यकता से अधिक धन रखता है, वह चोर है ।
  • हर कोई जो स्वयं की प्रशंसा करता है इसे विनम्र किया जाएगा और हर कोई जो स्वयं को विनम्र करता है उसकी सराहना की जाएगी ।
  • मेरे लिए अपने दिल के दरवाजे खोलो मै तुम्हारे लिए स्वर्ग के दरवाजे खोल दूंगा।
  • शत्रु से प्रेम करना और घृणा रखने वालो के प्रति भी मधुर होना आपके विनम्र होने का परिचायक है।
  • यदि कोई आदमी प्यासा है तो उसे मेरे पास आने दो और पीने दो । मैं जगत में ज्योति लेकर आया हूं ।
  • चिकित्सक की जरूरत तो बीमार को होती है मै पवित्र लोगो के लिए नही बल्कि पापियों के पश्चाताप के लिए इस धरती पर आया हुँ।
  • इसलिए कल के लिए उत्सुक न हों, क्योंकि कल खुद के लिए चिंतित होगा। प्रत्येक दिन की अपनी बुराई पर्याप्त है ।
    मुझे अपने जीवन, अपनी दुनिया में आने दो. मुझ पर आश्रित रहो, ताकि तुम सच में जीवित हो सको

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *