Hindi Shayari

गौ माता शायरी – Gau Mata Shayari in Hindi – गाय पर शायरी – Slogan on Mother Cow with Images

जैसा की हम सब जानते ही है की भारत में गाय का बहुत महत्व है| यह सिर्फ एक जीव ही नहीं देवी माँ की सवारी भी है| हिन्दू धर्म में गाय की पूजा की जाती है और उन्हें गाय माता के नाम से पुकारा जाता है| परन्तु गाय माता की पूजा करने वाले कुछ लोग उनके साथ बहुत अत्याचार करते है| यह लोग कुछ चंद पैसो के लिए इन्हे बुच्चाड्खानो में बेच देते है| गाय माता का संरक्षण करना हम सभ हिन्दुओ का धर्म है| आज के इस पोस्ट में हम आपके लिए गया माता पर हिंदी शायरी, गाय के लिए शायरी, गया संरक्षण पर हिंदी शायरी, गाय माता पूजा शायरी, आदि की जानकारी देंगे |

गौ माता पर शायरी

तो आइए अब हम आपको गौ रक्षा शायरी, गौ माता status, गौ माता की शायरी, गौ माता श्लोक, गौ माता के नारे, गौ रक्षा पर कविता, आदि से सम्भंदित जानकारी देते है|

गायों की सेवा करो, रोज नवाओ शीश ।
खुश होकर देंगी तुम्हें, वे लाखों आशीष ।।

बछड़े उनके जोतते, खेत और खलियान ।
जिनसे पैदा हो रहे, रोटी-सब्जी-धान ।।

Gau Mata Shayari

घास-फूस खाकर करें, दूध, दही की रेज ।
इसी वजह से सज रही,मिष्ठानों की सेज ।।

गोबर करता है यहाँ, ईधन का भी काम ।
गो सेवा जिसने करी, हो गये चारो धाम ।।

गौ माता की शायरी

गो माता करतीं सदा, भव सागर से पार ।
इनकी तुम सेवा करो, जीवन देंगी तार ।।

गोबर से बढ़िया नही, खाद दूसरी कोय ।
डालोगे गर यूरिया, लाख बीमारी होय ।।

Gau Mata Ki Shayari

गो पालीं तब ही बने, कान्हा जी गोपाल ।
दूध-दही से वे करें, सब को मालामाल ।।

गायों की सेवा करो, और बचाओ जान ।
कान्हा आगे आयेंगे,सुख की छतरी तान ।।

Shayari On Mother Cow In Hindi Font

बची नहीं गायें अगर, ऐसा होगा हाल ।
तरसेंगे फिर दूध को,इस माटी के लाल ।।

जब भी हो अंतिम समय,करिये गैया दान ।
हमको यह समझा रहे, अपने वेद पुरान ।।

गौ माता एसएमएस

गाय हमारी माता है और हम है इसके बच्चे,
देखो तो सही, माँ कितनी सच्ची है और बच्चे कितने गंदे,
और बच्चे कितने गंदे |

क्या हम काबिल हैं कहलाने के इसके प्यारे बच्चे,
माँ हमारी कितनी काबिल पर बच्चे इसके कितने कच्चे,
पर बच्चे इसके कितने कच्चे |

Gaay Mata Par Shayari

वो हमें सींचती है अपना अमृत सा दूध देकर,
फिर भी हमारा पेट नहीं भरता इसका सबकुछ लेकर,
इसका सबकुछ लेकर |

क्या हम बच्चे इतने नादान, की कर नहीं सकते सबकुछ आसान,
वो तो है तत्पर हमारे लिए, पर क्या हम हो पाए है उसके,
आज, अभी और इसी समय, पूछो अपने दिल से,
गर कहते हो माँ उसे, तो मानते क्यों नहीं माँ उसे |

Gau Mata Shayari In Hindi

गर्व से कहो गाय हमारी माता है,
और हम उसके अटूट सहारा हैं,
हम उसके अटूट सहारा हैं ||

वाह-री-वाह गईया देख तू अपना नसीब!
तू है यहाँ लोगों के ह्रदय के कितने करीब!!

गौ माता शायरी इन हिंदी

Gau Mata Shayari in Hindi

दाने चुन-चुन के चटोरे खा गए,
तेरे हिस्से में हरे छिलके आ गए!!
गौ-हत्या के गा के नग़मे यहाँ,
कितने बे-नाम, नाम कमा गए!!

दान-धर्म के नाम पे तुझे हतिया गए,
ले जाके कट्टी-खानों में लटका गए!!
देख कितने बेशर्म है तुझे पूजने वाले,
तेरे नसीब का जो चारा भी पचा गए!!

गौ माता पर शायरी

बड़े बुज़ुर्ग पुरानी परम्परा निभा गए,
गाय हमारी माँ है ये पाठ सिखा गए!!
मगर इंसान की खाल में कुछ भेड़िये,
माँस की वासना में गौ-माँस ही खा गए!!

ग्वाला दूध दुह चुका था
और अब थन को,
बूंद- बूंद निचोड़ रहा था.
उधर खूंटे से बंधा बछड़ा
भूख से बिलबिला रहा था.

गौ माता शायरी हिंदी

फिर भी इसकी भूख
नहीं मिटती, पेट नहीं भरता.
मुझे तो बुढापे तक
सहनी है इसकी पिटाई.
जब हो जाउंगी अशक्त.

ले जाएगा मुझे कोई कसाई.
फिर भी भूल जाती सबकुछ ,
जब यह पुचकारता है
मुझे कहता है -‘माँ’और’माई’.

Leave a Comment