Nibandh

विश्व स्वास्थ्य दिवस पर निबंध 2019 – World Health Day Essay in Hindi – वर्ल्ड हेल्थ डे निबंध

World Health Day Hindi Essay

World Health Day 2019: विश्व स्वास्थ्य दिवस विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रायोजन के साथ-साथ अन्य संबंधित संगठनों के प्रायोजन के तहत हर साल 7 अप्रैल को एक वैश्विक स्वास्थ्य जागरूकता दिवस मनाया जाता है। 1948 में, डब्ल्यूएचओ ने प्रथम विश्व स्वास्थ्य सभा आयोजित की। इस साल डब्ल्यूएचओ की 70 वीं वर्षगांठ है।

विश्व स्वास्थ्य दिवस कब मनाया जाता है

विश्व स्वास्थ्य दिवस 2019 को दुनिया भर में 7 अप्रैल सोमवार को मनाया जायेगा। 7 April in Hindi stands for Health Day.

Vishwa Swasthya Diwas par Nibandh

Vishwa Swasthya Diwas Nibandh इस प्रकार है:

‘विश्व स्वास्थ्य दिवस’ प्रत्येक वर्ष 7 अप्रैल को मनाया जाता है। 7 अप्रैल, 1948 को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्‍ल्‍यू०एच०ओ०) की स्थापना की गई थी। सम्पूर्ण विश्व में सफल जीवन के लिए स्वास्थ्य के महत्व को समझते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्‍ल्‍यू०एच०ओ०) की स्थापना के दिन 7 अप्रैल को सम्पूर्ण विश्व में विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है।

कहते हैं कि स्वास्थ्य ही जीवन है। किन्तु आज की व्यस्त एवं तनावग्रस्त जिंदगी में मानव अपने स्वास्थ्य पर पूर्ण ध्यान नहीं दे पा रहा है। काम, व्यस्तता और तनाव के कारन मनुष्य जाति के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। इसी जागरूकता के उद्देश्य को लेकर विश्व स्वास्थ्य दिवस प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है।

विश्व स्वास्थ्य दिवस के दिन स्वास्थ्य से सम्बंधित विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं। विभिन्न कार्यक्रमों एवं गोष्ठियों के द्वारा जन-साधारण को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक किया जाता है। मच्छर के प्रकोप को बढ़ने से रोकने के लिए विभिन्न इलाकों में एंटी लार्वा व कीटनाशक का छिड़काव कराया जाता है। संक्रामक रोगों की रोकथाम के लिए आम आदमी को जागरूक किया जाता है। वेक्टर जनित रोगों से बचाव के लिए इस दिन जिला व ब्लॉक स्तर पर कार्यशाला आयोजित की जाती हैं। विश्व स्वास्थ्य दिवस के दिन शिक्षा विभाग के सहयोग से विभिन्न स्कूलों में रोगों के बारे में जागरूकता कैम्प, वाद-विवाद प्रतियोगता, प्रश्नोत्तरी आदि के कार्यक्रम भी आयोजित किये जाते हैं।

विश्व स्वास्थ्य दिवस हिंदी निबंध

Vishwa Swasthya Diwas par Nibandh

वैश्विक स्वास्थ्य के महत्व की ओर बड़ी संख्या में लोगों का ध्यान आकृष्ट करने के लिये विश्व स्वास्थ्य संगठन के नेतृत्व में हर वर्ष 7 अप्रैल को पूरे विश्व भर में लोगों के द्वारा विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है। डबल्यूएचओ के द्वारा जेनेवा में वर्ष 1948 में पहली बार विश्व स्वास्थ्य सभा रखी गयी जहाँ 7 अप्रैल को वार्षिक तौर पर विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाने के लिये फैसला किया गया था। विश्व स्वास्थ्य दिवस के रुप में वर्ष 1950 में पूरे विश्व में इसे पहली बार मनाया गया था। डबल्यूएचओ के द्वारा अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न प्रकार के खास विषय पर आधारित कार्यक्रम इसमें आयोजित होते हैं।

स्वास्थ्य के मुद्दे और समस्या की ओर आम जनता की जागरुकता बढ़ाने के लिये वर्षों से मनाया जा रहा ये एक वार्षिक कार्यक्रम है। पूरे साल भर के स्वास्थ्य का ध्यान रखने के लिये और उत्सव को चलाने के लिये एक खास विषय का चुनाव किया जाता है। विश्व स्वास्थ्य दिवस वर्ष 1995 के खास विषयों में से एक था वैश्विक पोलियो उन्मूलन। तब से, इस घातक बीमारी से ज्यादातर देश मुक्त हो चुके हैं जबकि दुनिया के दूसरे देशों में इसकी जागरुकता का स्तर बढ़ा है।

वैश्विक आधार पर स्वास्थ्य से जुड़े सभी मुद्दे को विश्व स्वास्थ्य दिवस लक्ष्य बनाता है जिसके लिये विभिन्न जगहों जैसे स्कूल, कॉलेजों और दूसरे भीड़ वाले जगहों पर दूसरे संबंधित स्वास्थ्य संगठनों और डबल्यूएचओ के द्वारा सालाना विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं। विश्व में मुख्य स्वास्थ्य मुद्दों की ओर लोगों का ध्यान दिलाने के साथ ही विश्व स्वास्थ्य संगठन की स्थापना को स्मरण करने के लिये इसे मनाया जाता है। वैश्विक आधार पर स्वास्थ्य मुद्दों को बताने के लिये यूएन के तहत काम करने वाली डबल्यूएचओ एक बड़ी स्वास्थ्य संगठन है। विभिन्न विकसित देशों से अपने स्थापना के समय से इसने कुष्ठरोग, टीबी, पोलियो, चेचक और छोटी माता आदि सहित कई गंभीर स्वास्थ्य मुद्दे को उठाया है। एक स्वस्थ् विश्व बनाने के लक्ष्य के लिये इसने एक महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है। वैश्विक स्वास्थ्य रिपोर्ट के बारे में इसके पास सभी आँकड़े मौजूद हैं।

World Health Day Hindi Essay

विश्व स्वास्थ्य दिवस कैसे मनाया जाता है

लोगों के स्वास्थ्य मुद्दे और जागरुकता संबंधित कार्यक्रम के आयोजन के द्वारा कई जगहों पर विभिन्न स्वास्थ्य संगठनों सहित सरकारी, गैर-सरकारी, एनजीओ के द्वारा विश्व स्तर पर विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है। खबर, प्रेस विज्ञप्ति आदि साधन के द्वारा मीडिया रिपोर्ट के माध्यम से अपने क्रियाकलाप और प्रोत्साहन पर भाग लेने वाले संगठन रोशनी डालते हैं। विश्व भर के स्वास्थ्य मुद्दों पर सहायता के लिये अपनी प्रतिज्ञा के साथ विभिन्न देशों से स्वास्थ्य प्राधिकारी उत्सव में भाग लेते हैं। मीडिया क्षेत्र की मौजूदगी में अपने स्वास्थ्य को दुरुस्त रखने के लिये लोगों को बढ़ावा देने के लिये स्वास्थ्य के सम्मेलन में विभिन्न प्रकार के क्रियाकलाप किये जाते हैं। विश्व स्वास्थ्य दिवस के लक्ष्य को पूरा करने के लिये विषयों से संबंधित चर्चा, कला प्रदर्शनी, निबंध लेखन, प्रतियोगिता और पुरस्कार समारोह आयोजित किये जाते हैं।

विश्व स्वास्थ्य दिवस क्यों मनाया जाता है

तंददुरुस्त रहन-सहन की आदत के प्रोत्साहन और लोगों के जीवन के लिये अच्छे स्वास्थ्य को जोड़ने के द्वारा जीवन प्रत्याशा को बढ़ाने में विश्व स्वास्थ्य दिवस ध्यान केन्द्रित करता है। एड्स और एचआईवी से मुक्त और स्वस्थ दुनिया बनाने के लिये उन्हें स्वस्थ बनाये और बचाने के लिये इस कार्यक्रम के द्वारा आज के जमाने के युवा को भी लक्ष्य बनाया जाता है।

खून चूसने वाले और रोगाणु के कारण बीमारीयों के व्यापक फैलाव से मुक्त विश्व बनाने के लिये डबल्यूएचओ के द्वारा बीमारी फैलाते वेक्टर जैसे मच्छर (मलेरिया, डेंगू बुखार, फाईलेरिया, चिकनगुनिया, पीला बुखार आदि) चिचड़ी, कीट, सैंड फ्लाईस, घोंघा आदि को भी लोगों की नजर में ला रही है। वेक्टर और यात्रीयों द्वारा एक देश से दूसरे देश में वेक्टर के जन्म से फैलने वाली बीमारी से ये उपचार और रोकथाम उपलब्ध कराती है। बिना किसी बीमारी के जीवन को बेहतर बनाने के लिये लोगों की स्वास्थ्य समस्याओं के लिये अपना खुद का प्रयास लगाने के लिये वैश्विक आधार पर डबल्यूएचओ विभिन्न स्वास्थ्य प्राधिकारीयों को मदद देता है।