विश्वकर्मा जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं 2020 – Happy Vishwakarma Puja Wishes, Status, Messages & Texts with Images

विश्वकर्मा जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं

Vishwakarma Puja 2020: विश्वकर्मा पूजा को भगवान विश्वकर्मा के जन्म को चिह्नित करने के लिए मनाया जाता है | उनको ब्रह्मांड के निर्माता भी कहा जाता है। विश्वकर्मा पूजा या विश्वकर्मा जयंती के रूप में भी जाना जाता है| यह त्योहार हर साल कर्नाटक, असम, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों में बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। इस दिन पर कारखानों और औद्योगिक क्षेत्रों में काम करने वाले लोग अपने संबंधित क्षेत्रों में सुरक्षित कार्य व सफलता के लिए भगवान विश्वकर्मा बाबा से प्रार्थना करते हैं। कारीगर इस दिन भगवान विश्वकर्मा की पूजा करने के अलावा अपने औजारों की पूजा करते हैं और प्रभु का आशीर्वाद लेते हैं। आज हम आपके सामने vishwakarma jayanti quotes, Vishwakarma Day Wishes, Status, कोट्स, मैसेज, SMS & Shayari with images in Hindi & English की जानकारी लाये हैं जिसे आप WhatsApp और Facebook पर अपने engineer friends के साथ शेयर कर सकते हैं|

विश्वकर्मा जयंती 2020 में कब है

विश्वकर्मा पूजा की तारीख 16 सितम्बर 2020 है और इस दिन बुधवार है | यानी की विश्वकर्मा पूजा के तारीख के हैं १६ सितम्बर २०२० (बुधवार) | यह दिवस आश्विन मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मनाया जाता है | इस दिन औजार, मशीन और तथा अस्त्र-शस्त्रों की पूजा की जाती है|

विश्वकर्मा पूजा की हार्दिक शुभकामनाएं


विश्वकर्मा जी की ज्योत से नूर मिलता है सबके दिलों को सुरूर मिलता है, जो भी नाम लेता है भगवान विश्वकर्मा का उसे कुछ न कुछ जरूर मिलता है विश्वकर्मा पूजा की हार्दिक शुभकामनाएं
Click To Tweet


विश्‍व रचयिता भगवान विश्वकर्मा जी की जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं... Happy Vishwakarma Puja 2020
Click To Tweet

विश्वकर्मा पूजा स्टेटस इन हिंदी


विश्वकर्मा जी की सदा हो जय जयकार करते हैं सदा सब पर उपकार इनकी महिमा है सबसे न्यारी कुछ अर्ज सुनो भगवान हमारी हैप्पी विश्वकर्मा पूजा 2020
Click To Tweet

विश्वकर्मा जी की कृपा से आप जीवन
और व्‍यापार में खूब तरक्‍की करें
Happy Vishwakarma Pooja 2020

विश्वकर्मा पूजा श्लोक

Vishwakarma Puja Wishes


ब्रह्म विद्या धारिणी भुवना माता अष्टम वसु महर्षि प्रभास पिता पुत्र विश्वकर्मा शिल्प शास्त्री कर्म व्यापार जगत दृष्टि
Click To Tweet

Vishwakarma Puja Greetings


तुम हो विश्व के पालन करता हमारे हो तुम दुख हरता हर पल नाम तुम्हारा जपते हम हर मुश्किल को दूर करते तुम
Click To Tweet


एक दो तीन चार विश्वकर्मा जी की जय जय कार पांच छः सात आठ विश्वकर्मा जी करो उपकार
Click To Tweet


इस दुनिया में छाई है आपकी ही सुंदर रचना सुख और दुःख में हम नाम आपका हरदम जपना
Click To Tweet


जय जय श्री भुवना विश्वकर्मा कृपा करे श्री गुरुदेव सुधर्मा श्रीव अरु विश्वकर्मा माहि विज्ञानी कहे अंतर नाहि
Click To Tweet

Vishwakarma Puja quotes


आपके दर्शन को हम भक्त तरसें हर दुखियारे की विपदा दूर करो संकट-मोचन तुम सबके दुख हरो ध्यान धर कर प्रभु का, सकल सिद्धि मिले मन से दुविधा दूर हो अपार शक्ति मिले
Click To Tweet


तुम हो सकल सृष्टि कर्ता ज्ञान सत्य जग हित धर्ता तुम्हारी दृष्टि से नूर है बरसे
Click To Tweet

विश्वकर्मा पूजा की शुभकामनाएं


धन, वैभव, सुख–शान्ति देना भय, जन–जंजाल से मुक्ति देना, संकट से लड़ने की शक्ति देना हे विश्वकर्मा, हे विश्वकर्मा... विश्वकर्मा पूजा की हार्दिक शुभकामनाएं
Click To Tweet

विश्वकर्मा जयंती की शुभकामनाएं


ॐ विश्वकर्मणे नमः निर्बल हैं तुझसे बल मांगते हैं श्रद्धा का प्रभु जी फल मांगते हैं हैप्पी विश्वकर्मा जयंती 2020
Click To Tweet

विश्वकर्मा जयंती विशेष


निर्बल हैं तुझसे बल मांगते हैं करुणा का प्रयास से जल मांगते हैं श्रद्धा का प्रभु जी फल मांगते हैं
Click To Tweet

विश्वकर्मा भगवान जयंती के इस शुभ दिन पर आइये देखिए

विश्वकर्मा जयंती शुभेच्छा


विश्वकर्मा की करो जयकार करते सदा सब पर उपकार इनकी महिमा सबसे है न्यारी हे भगवान अर्ज़ सुनो हमारी
Click To Tweet

विश्वकर्मा जयंती स्टेटस इन हिंदी


तुम हो सकल सृष्टि कर्ता ज्ञान सत्य जग हित धर्ता तुम्हारी दृष्टि से नूर है बरसे आपके दर्शन को हम भक्त तरसें
Click To Tweet

Vishwakarma Jayanti Wishes


निर्बल हैं तुझसे बल मांगते हैं करुणा का प्रयास से जल मांगते हैं श्रद्धा का प्रभु जी फल मांगते हैं
Click To Tweet

विश्वकर्मा पूजा बधाई संदेश


विश्वकर्मा की ज्योति से नूर मिलता है सबके दिलों को सुरूर मिलता है जो भी नाम लेता है विश्वकर्मा का उसे कुछ न कुछ ज़रूर मिलता है
Click To Tweet


यह मान्यता है कि प्राचीन काल में सभी का निर्माण विश्वकर्मा ने ही किया था. 'स्वर्ग लोक', सोने का शहर - 'लंका' और कृष्ण की नगरी - 'द्वारका', सभी का निर्माण विश्वकर्मा के ही हाथों हुआ था. कुछ कथाओं के अनुसार भगवान विश्वकर्मा का जन्म देवताओं और राक्षसों के बीच हुए समुद्र मंथन से माना जाता है.
Click To Tweet

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *