Hindi Shayari

महाराणा प्रताप शायरी – Maharana Pratap Punyatithi Shayari in Hindi

maharana pratap Punyatithi shayari
Spread the love

महाराणा प्रताप जो की महान राजा थे उनका जन्म 9 मई 1540 को राजस्थान के कुम्भलगढ़ में हुआ था। उनके पिता महाराणा उदय सिंह द्वितीय थे और उनकी मां का नाम रानी जीववंत कंवर था। महाराणा उदय सिंह द्वितीय ने चित्तौर में अपनी राजधानी के साथ मेवार के राज्य पर शासन किया था। महाराणा प्रताप पच्चीस पुत्रों में से सबसे बड़े थे और इसलिए उन्हें राजा बनाया गया था| आज उनके जन्मदिवस maharana pratap Punyatithi पर हम लाये हैं राणा परताप शायरी, महाराण प्रताप पुण्यतिथि की शायरी, quotes shayri , banna baisa shayri , Love shayari , attitude status आदि|

maharana pratap punyatithi shayari

maharana pratap punyatithi date: महाराणा प्रताप जी की पुण्यतिथि २०२२ इस वर्ष 2022 में 19 जनवरी यानी आज है| आइये जाने maharana pratap punyatithi पर हम लाये हैं महाराणा प्रताप पुण्यतिथि शायरी 2022,Maharana pratap Shayri, Maharana Pratap punyatithi Shayari in Hindi for WhatsApp & Facebook with Images, राजपूत शायरी हिन्दी|


हे प्रताप मुझे तु शक्ती दे,दुश्मन को मै भी हराऊंगा।
मै हु तेरा एक अनुयायी,दुश्मन को मार भगाऊंगा॥
Copy Tweet
Copied Successfully !

है धर्म हर हिन्दुस्तानी का,कि तेरे जैसा बनने का।
चलना है अब तो उसी मार्ग,जो मार्ग दिखाया प्रताप ने॥
Copy Tweet
Copied Successfully !

maharana pratap ki punyatithi par shayari


Tera Prakop sare Sansaar ka Mahapralay ho,
Teri Prasannata hi Anand ka Vishay ho,
wah bhakti de ki Bismil Sukh mai tujhe na bhule,
wah sakti de ki dukh me kayar na ye dil ho.
Copy Tweet
Copied Successfully !

धन्य हुआ रे राजस्थान,जो जन्म लिया यहां प्रताप ने।
धन्य हुआ रे सारा मेवाड़, जहां कदम रखे थे प्रताप ने॥
Copy Tweet
Copied Successfully !

फीका पड़ा था तेज़ सुरज का, जब माथा उन्चा तु करता था।
फीकी हुई बिजली की चमक, जब-जब आंख खोली प्रताप ने॥
Copy Tweet
Copied Successfully !

maharana pratap punyatithi 2022 shayari


नित्य, अपने लक्ष्य,परिश्रम,और आत्मशक्ति को याद करने पर सफलता का मार्ग सरल हो जाता है।
Copy Tweet
Copied Successfully !

अत्यंत विकट परिस्तिथत मे भी झुक कर हार नही मानते। वो हार कर भी जीते होते है।
Copy Tweet
Copied Successfully !

सत्य,परिश्रम,और संतोष सुखमय जीवन के साधन है। परन्तु अन्याय के प्रतिकार के लिए हिंसा भी आवश्यक है।
Copy Tweet
Copied Successfully !

maharana pratap shayari in hindi


Maharana Pratap was an epitome of glorious rajput tradition of our country,
the mannerism and valour of rajputs has been a soure of inspiration to one and all.
Copy Tweet
Copied Successfully !

हल्दीघाटी के युध्द ने मेरा सर्वस्व छीन लिया हो। पर मेरी गौरव और शान और बढा दिया।
Copy Tweet
Copied Successfully !

Maharana Pratap Punyatithi Shayari hindi


Chandani chand ban gayi,
Aandhi Toofan ban gayi,
Jis talwar ki nok par jeeta tha Bharat ko,
wo talwar hi rajputana ki shaan ban gayi.
Copy Tweet
Copied Successfully !

जो सुख मे अतिप्रसन्न और विपत्ति मे डर के झुक जाते है,
उन्हे ना सफलता मिलती है और न ही इतिहास मे जगह।
Copy Tweet
Copied Successfully !

Dhanya Hua re rajasthan jo Janm liya yaha Pratap ne,
Dhanya hua re Mewar jo kadam rakhe yaha pratap.
Copy Tweet
Copied Successfully !

maharana pratap ki shayari


अगर इरादा नेक और मजबूत है। तो मनुष्य कि पराजय नही विजय होती है।
Copy Tweet
Copied Successfully !

अपने अच्छे समय मे अपने कर्म से इतने विश्वास पात्र बना लो कि बुरा वक्त आने पर वो उसे भी अच्छा बना दे।
Copy Tweet
Copied Successfully !

कष्ट,विपत्ती और संकट ये जीवन को मजबूत और अनुभवी बनाते है। इनसे डरना नही बल्कि प्रसन्नता पूर्वक इनसे जुझना चाहिए।
Copy Tweet
Copied Successfully !

maharana pratap par shayari


सूरज का तेज भी फीका पड़ता था,
जब राणा तू अपना मस्तक ऊँचा करता था,
थी राणा तुझमें कोई बात निराली
इसलिए अकबर भी तुझसे डरता था
Copy Tweet
Copied Successfully !

रण बीच चौकड़ी भर-भर कर
चेतक बन गया निराला रे
महाराणा प्रताप के घोड़े से
पड़ गया हवा का पाला रे
Copy Tweet
Copied Successfully !

maharana pratap ki punyatithi


Hay Rana Thari Hukara Sun Sun,
Akbar Kampyooo Jaaay,
Ambra may Jaya Bijli Chamke,
Aithe Thari Talwari Chamki Jaye.
Copy Tweet
Copied Successfully !

अपनी कीमती जीवन को सुख और आराम कि जिन्दगी बनाकर कर नष्ट करने से बढिया है कि अपने राष्ट्र कि सेवा करो।
Copy Tweet
Copied Successfully !

Maharana Pratap Shayari Image

Maharana Pratap Punyatithi par Shayari


jab jab teri talwar uthi, to Dusman toli dol gayi,
Fiki padi dahad sher ki, jab jab tune hunkar bhari.
Copy Tweet
Copied Successfully !

Maharana Pratap Punyatithi hindi shayari


Hassen to bahut hote hai par sabhi,
Rani Padmini jaise nahi hate,
Poot to sabhi hote hai par,
Maharana Pratap Jaise Rajput Nahi Hote.
Copy Tweet
Copied Successfully !

महाराणा प्रताप पर शायरी | Shayari on Maharana Pratap


अगर सर्प से प्रेम रखोगे तो भी वो अपने स्वभाव के अनुसार डसेगाँ ही।
Copy Tweet
Copied Successfully !

Karta hun Naman mai pratap ko, jo veerta ka prateek hai.
tu loh purush, tu Matr Bhakt hai, Tu akhandta ka prateek 
Copy Tweet
Copied Successfully !

बेस्ट महाराणा प्रताप शायरी


चेतक पर चढ़ जिसने , भाला से दुश्मन संघारे थे…
मातृ भूमि के खातिर , जंगल में
कई साल गुजारे थे…
झुके नही वह मुगलोँ से,अनुबंधों को ठुकरा डाला…
मातृ भूमि की भक्ति का, नया प्रतिमान बना डाला…
हल्दीघाटी के युद्ध में, दुश्मन में कोहराम मचाया था…
देख वीरता राजपूताने की , दुश्मन भी थर्राया था…
बलिदान पर राणा के, भारत माँ ने, लाल देश का खोया था…
वीर पुरुष के देहावसान पर, अकबर भी फफक कर रोया था…
भारत माँ का वीर सपूत, हर हिदुस्तानी को प्यारा हे…
कुँअर प्रताप जी के चरणों में, सत सत नमन हमारा हे..
Copy Tweet
Copied Successfully !