Maa Saraswati Shayari In Hindi 2018 – Puja SMS, Wishes, Quotes – सरस्वती पूजा शायरी

हिन्दू धर्म में कई देवी देवता है जिसमे की हर देवी तथा देवता का हमारे जीवन में अलग-2 महत्व है इसीलिए इसमें ज्ञान, संगीत और कला की देवी माता सरस्वती भी है जिनका हिन्दू धर्म में अलग ही महत्व है | सरस्वती माता की पूजा बसंत लगते ही बसंत पंचमी के दिन की जाती है सरस्वती माता की पूजा की वजह से बसंत के मौसम का महत्व और अधिक बढ़ जाता है इसीलिए हम आपको सरस्वती माता के ऊपर कुछ शायरियो के बारे में बताते है जिन शायरियो को पढ़ने के लिए आप यहाँ से पढ़ सकते है |

Saraswati Pooja Shayari


ज़माने भर की याद में मुझे ना भुला देना,
जब कभी याद आये तो ज़रा मुस्कुरा लेना,
ज़िंदा रहे तो फिर मिलेंगे,
वर्ना बसंत पंचमी में एक पतंग मेरे नाम का भी उड़ा लेना।
Click To Tweet

ज़िन्दगी गर
दोराहे से गुजरती है
वो चौखट ही है तेरी माँ
जहां यह दिल सुकून पाता है
Click To Tweet

पीले पीले सरसों के फूल,
पीली उड़े पतंग,
रंग बरसे पीला और छाये सरसों सी उमंग।
आपके जीवन में रहे सदा बसंत के रंग।
Click To Tweet

सहस शील हृदय में भर दे
जीवन त्याग से भर दे,
संयम सत्य स्नेह का वर दे
माँ सरस्वती आपके जीवन में उल्लास भर दे!
Click To Tweet

Maa saraswati ki shayari


महफ़िल सजती हैं
चराग़ रोशन होते हैं
हम तेरे बिना
ज़िन्दगी में अधूरे
अधूरे से होते हैं
कैसे कहें माँ
हर पल बस तेरे ही
ख़यालों में डूबे रहते हैं
जीवन की कश्ती
एक तेरे ही भरोसे
हम सागर में तरते हैं
Click To Tweet

Saraswati Puja Ki Shayari – Saraswati Puja Shayari In Hindi


वीणा लेकर हाथ में,
सरस्वती हो आपके साथ में,
मिले मां आर्शीवाद आपको  हर  दिन,
हर वार हो मुबारक बसंत पंचमी का त्यौहार,
Click To Tweet

माता तेरे चरणों मे
भेंट हम चढ़ाते हैं
कभी नारियल तो
कभी फूल चढ़ाते हैं
और झोलियाँ भर भर के
तेरे दर से लाते हैं
Click To Tweet

किस्से कहानी
बन जाएंगे हम भी कभी
रहमत है तेरी माँ
पास होती है तू
तो जीने में जुनून आता है
Click To Tweet
saraswati puja sayari in hindi

कैसे कहूँ की
जी नहीं सकता
माँ तेरी कृपा बिना
मेरा जीवन जीवन नहीं
माँ तेरी श्रद्धा बिना
Click To Tweet

सोचा करता था माँ
तेरी कृपा बिना
कैसे ज़रूरते होंगी पूरी
तेरा आशीर्वाद
मिला जो माँ
तो नही रही
कोई हसरत अधूरी
Click To Tweet

सरस्वती माँ शायरी – Maa Saraswati Photo Shayari


सहस शील हृदय में भर दे,
जीवन त्याग से भर दे,
संयम सत्य स्नेह का वर दे,
माँ सरस्वती आपके जीवन में उल्लास भर दे।
Click To Tweet

लेके मौसम की बहार,
आया बसंत ऋतू का त्योहार,
आओ हम सब मिलके मनाये,
दिल में भर के उमंग और प्यार,
Click To Tweet

विद्या दायिनी, हंस वाहिनी माँ भगवती
तेरे चरणों में झुकाते शीष हे देवी
कृपा कर हे मैया दे अपना आशीष
सदा रहे अनुकम्पा तेरी रहे सदा प्रविश
Click To Tweet
Saraswati puja wishes in hindi

श्वेताम्बर हैं जिसका
हंस हैं वहाँ जिसका
वीणा, पुराण जो धारण करती
ऐसी माँ शारदा मैं करू तेरी भक्ति
Click To Tweet

कमल पुष्प पर आसीत माँ
देती ज्ञान का सागर माँ
कहती कीचड़ में भी कमल बनो
अपने कर्मो से महान बनो
Click To Tweet
Saraswati Shayari

Saraswati Vandana Shayari


तू स्वर की दाता हैं,
तू ही वर्णों की ज्ञाता.
तुझमे ही नवाते शीष,
हे शारदा मैया दे अपना आशीष.
Click To Tweet

बिन बुलाए भी जहां
जाने को जी चाहता है
वो चौखट ही है तेरी माँ
जहां यह बंदा सुकून पाता है
Click To Tweet

सरस्वती पूजा का यह प्यारा त्यौहार,
जीवन में खुशी लाएगा अपार,
सरस्वती विराजे आपके द्वार,
शुभकामनाएं हमारी करें स्वीकार।
Click To Tweet
Saraswati puja sms in hindi

माँ जब भी तुझको पुकारा है
बिन मांगे सब पाया है
ए माँ मेरी गुनाहों को
मेरे मैं कुबूल करता हूँ
मोक्ष दे दे मेरी माँ
बस यही आशा रखता हूँ
Click To Tweet

किताबों का साथ हो,
पेन पर हाथ हो,
कोपिया आपके पास हो,
पढाई दिन रात हो,
जिंदगी के हर इम्तिहान में आप पास हो।
Click To Tweet

मिलते हैं हज़ारों से
पर एक है जो
हमेशा याद आता है
वो चौखट ही है तेरी माँ
जहां यह बंदा सुकून पाता है
Click To Tweet

Saraswati God Shayari


हो जाओ तैयार, माँ सरस्वती आने वाली है।
सजा लो दरबार माँ सरस्वती आने वाली हैं।
तन,मन और जीवन हो जायेगा पावन,
माँ के कदमो की आहट से
गूँज उठेगा आँगन।
Click To Tweet
सरस्वती गीत इन हिंदी

मेरे दिल मे आज क्या है
माँ कहो तो मैं सुना दूँ
माँ तुझे देखता रहूं मैं
तेरी सेवा में जीवन बिता दूं
आते जाते जो मिलता है
अपना लगता है
माँ के ख़यालों में रहते हैं जबसे
जीवन स्वर्ग से लगता है
Click To Tweet
सरस्वती पूजा स्पीच इन फेयरवेल पार्टी इन हिंदी

मुद्दतों से चाहत थी मेरी
तेरे चरणों मे जगह पाने की
मुद्दतों से चाहत थी मेरी
तेरे कदमों में जगह पाने की
कब से चाहत थी मेरी
माँ के गीत गुनगुनाने की
मैं मैं ना रहा
तू तू ना रहा
सब अपने हो गए
माँ की नज़रों में जो देखा
सब सपने सच हो गए
बहुत दूर अभी जाना है
पर चिंता नही चिंतन का
दामन थामा है
क्योंकि माँ ने मेरी
मुझे अपना माना है
Click To Tweet
maa sarswati shayri

रोशनी माँ तेरे प्यार की
पल पल महसूस करूं
तुझसे है आस मेरी माँ
तभी तो
करम करके धीरज धरूं
Click To Tweet

ना कोई भेंट मांगे तुमसे,
न कोई चढ़ावा,
उसके दमन को बस थाम लो,
जीवन में जब जब ये अवसर है आया।
Click To Tweet

Mata Puja Shayari In Hindi – Saraswati Mata Shayari


Maa Saraswati aapko sadaiv, illness
good thought pradan karti rahe..
Maa Saraswati ki blessing aap par sada rahe
Click To Tweet

Peele peele sarson ke phool, ampoule
peeli ude patang,
rang barse peela aur chhaye sarson si umang.
Aapke jeevan main rahe sadaa Basant ke rang.
Click To Tweet
Saraswati ji ke liye shayri in hindi

Saraswati Puja ka ye pyara tyohar,
Jeewan me layega khushi apaar,
Saraswati viraje aapke dwar,
Shubh kaamna hamari kare sweekar.
Click To Tweet

Lo Basant@ Phir Aayi, Phoolon Par Rang Laayi,
Chalo beh Darang, Lab-e-Aab-e-Zang,
Baje Jal-Tarang, Man Par Umang Chhaayi;
Lo Basant Phir Aayi!
Click To Tweet

Saraswathi Namasthubhyam,
Varadey Kaamarupinee!
Vidhyarambham Karishyami,
Sidhir bhavathu mey sada !
Click To Tweet
सरस्वती पूजा विधि एवम शायरी


Kuch bhi likhne se pahle karuN main
Us Maa Sarswati ko namskaar
Mujh per bani rahe chaya jiski
Us Maa Sarswati ko namskaar
Meri kalam ko di takat jisne
Us Maa Sarswati ko namskaar
Banaya mujhe es laayak jisne
Us Maa Sarswati ko namskaar
JamiN se uthaker yahaN tak pahuchaya jisne
Us Maa Sarswati ko namskaar
Her kalam ko de nayi takat,
Raj ka her kalam ki taraf se
Us Maa Sarswati ko namskaar......
Click To Tweet
Speech on Saraswati Maa in Hindi

पूज्य पांडुरंग शास्त्री आठवले
या कुन्देन्दुतुषारहारधवला या शुभवस्त्रावृता
या वीणावरदण्डमण्डितकरा या श्वेतपद्मासना
या ब्रह्माच्युतशंकरप्रभृतिभिदैवै सदा वन्दिता
सा मां पातु सरस्वती भगवती निःशेषजाड्यापहा॥
जो कुन्द पुष्प, चँद्र, तुषार और मुक्ताहार जैसी धवल है, जो शुभ्र वस्त्रों से आवृत्त है, जिसके हाथ वीणारूपी वरदंड से शोभित हैं, जो श्वेत पद्म के आसन पर विरजित है, जिसे ब्रह्मा, विष्णु और महेश जैसे मुख्य देव वंदन करते हैं, ऐसी निःशेष जड़ता को दूर करने वाली भगवती सरस्वती! मेरा रक्षण करे।
सरस्वती के स्वरूप वर्णन में ही सच्चे सारस्वत के लिए मार्गदर्शन है। सरस्वती कुन्द, इन्दु, तुषार और मुक्तहार जैसी धवल हैं, सच्चा सारस्वत भी वैसा ही होना चाहिए। कुन्द पुष्प सौरभ फैलाता है, चँद्र शीतलता देता है, तुषारबिन्दु, सृष्टिका सौंदर्य बढ़ाता है और मुक्ताहार व्यवस्था का वैभव प्रकट करता है। सच्चे सारस्वत का जीवन सौरभयुक्त होना चाहिए।
पुष्प की सुगंध जिस तरह सहज फैलती है, उसी तरह उसके ज्ञान की सुगंध शांति प्रदान करती है उसी तरह सरस्वती का सच्चा उपासक अनेक लोगों के संतप्त जीवन में शांति का स्त्रोत बहाता है। वृक्ष के पत्ते पर पड़ा हुआ ओसबिन्दु मोती की शोभा धारण करके वृक्ष के सौंदर्य को बढ़ाता है, उसी तरह सरस्वती के सच्चे उपासक के अस्तित्व से संसार वृक्ष की शोभा बढ़ती है।
ऐसे मानव के लिए कहना पड़ता है कि 'जयति तेऽधिकं जन्मना जगत्‌।' हार याने कुक्ताहार। अकेले मोती से मोतियों का हार ज्यादा सुंदर लगता है। सरस्वती के उपासकों को भी इस तरह एक साथ, एक सूत्र में बँधकर काम करने की तैयारी रखनी चाहिए। विद्वानों की शक्ति का ऐसा योग किसी भी महान कार्य को सुसाध्य बनाता है।
Click To Tweet
Related Search:
saraswati vandana ka cotation, quotes, quotation
loading...

You may also like...

1 Response

  1. Singer Munna Kumar says:

    Jai maa ??????? ???? ??? ???? ??? ???? ??? ????

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *