Hindi Lekh

क्रिसमस क्यों मनाया जाता है — Christmas in Hindi

Christmas in Hindi

Christmas day 2020:इस साल 25 दिसंबर बुधवार के दिन मनाया जायेगा | ईसाई लोग इस दिन को प्रभु यीशु के जन्मदिन को त्यौहार के रूप में मनाते है | देश विदेश में इस दिन को बड़े हर्षोल्लास से मनाया जाता है |
क्रिसमस के दिन लोग एक दूसरे को बधाई देते है बच्चो को उपहार देते है और क्रिसमस ट्री को सजाते है |इस दिन लोग गिरजा घरो में जाते है और ईश्वर की प्राथना करते है | अपनों घरो को सजाते है |बच्चे ख़ुशी से क्रिसमस स्टोरी सुनते है |

आइये जानते हैं क्रिसमस से जुडी कुछ अन्य जानकारी |

क्रिसमस डे इन हिंदी में जानने के लिए यह देखे Essay on Christmas in hindi

Christmas the meaning

क्रिसमस(Christmas) का अर्थ कहीं न कहीं क्रिसमस नाम में ही छुपा है | क्रिस्टेस मैसी या “क्राइस्ट्स मास,” के लिए एक पुराना अंग्रेजी शब्द “मसीह के लिए उत्सव” है। अगर पारंपरिक दिसंबर के महीने में आने वाले त्योहार के अनुसार क्रिसमस का सही अर्थ यीशु मसीह के जन्म का जश्न मनाना व उनके लिए सम्मान प्रकट करना है। प्रभु यीशु मसीह देवत्व व दान के लिए एक आदर्श उदाहरण हैं और दुनिया पर उनके प्रभाव का बहुत ही महत्व माना गया है।

क्रिसमस का महत्व

ईसाई धर्म के लोगों के लिए क्रिसमस का बहुत महत्व माना गया है क्यूंकि इसी दिन उनके प्रभु यीशु मसीह का जन्म हुआ था | क्रिश्चियन समुदाय के लोग हर साल 25 December को क्रिसमस का त्योहार मनाते हैं। क्रिसमस का यह त्योहार ईसा मसीह के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है। क्रिसमस क्रिश्चियन समुदाय का सबसे बड़ा और खुशी का त्योहार है | क्रिसमस के दिन को बड़ा दिन भी कहा जाता है। लोग क्रिसमस के 15 दिन पहले से ही इसकी तैयारियों में जुट जाते हैं। घरों की सफाई की जाती है, नए कपड़े खरीदे जाते हैं, विभिन्न प्रकार के व्यंजन बनाए जाते हैं। इस दिन के लिए विशेष रूप से चर्चों को सजाया जाता है। क्रिसमस के कुछ दिन पहले से ही चर्च में अलग-अलग कार्यक्रम शुरु हो जाते हैं जो नए साल तक चलते हैं।

क्रिसमस का त्योहार – क्रिसमस डे कब है ?

हर साल दिसंबर 25 दिसंबर को क्रिसमस मनाया जाता है|इसाई धर्म के लोगों के लिए क्रिसमस का दिन बहुत महत्व रखता है इसलिए इसे बड़ा दिन भी कहा जाता है | इस दिन प्रभु यीशु मसीह का जन्म हुआ था जिसके उपलक्ष में बड़े धूम धाम से देश-विदेश में यह त्यौहार मनाया जाता है | आज के समय में केवल इसाई धर्म के लोग ही नहीं बल्कि हर कोई क्रिसमस को अपने-अपने तरीके से मनाता है | विदेशों में यह त्यौहार और भी ज्यादा प्रचलित है और वहां भी बहुत तैयारियों और कार्यक्रमों के साथ इस दिन को मनाया जाता है |इस साल क्रिसमस 25 दिसंबर मंगलवार को पड़ रहा है |

Christmas celebration

क्रिसमस कैसे मनाया जाता है ?

क्रिसमस की तैयारियां 15 दिन पहले से ही शरू हो जातीं हैं, लोग अपने-अपने घरों को सजाते हैं व घरों की साफ़-सफाई भी करते हैं | क्रिसमस के दिन विशेष व्यंजन भी बनाये जाते हैं, इस दिन केक भी बनाया जाता है और कहा जाता है की बिना केक के क्रिसमस अधूरा होता है | लोग अपने घरों में क्रिसमस ट्री लगागर उसको सजाते हैं | इस दिन बच्चों को उपहार भी दिए जाते हैं |बच्चो को क्रिसमस ट्री की कहानी सुनाई जाती है | इस ख़ास तौर से चर्चों को सजाया जाता है और क्रिसमस की पूर्व रात्रि पर लोग चर्च जाकर प्रार्थनाएं करते हैं व एक दुसरे को बधाइयां देते हैं |स्कूल में बच्चो को krishmish day की इनफार्मेशन दी जाती है | क्रिसमस की सुबह चुचों में विशेष तरीके से प्रार्थनाएं व अर्चना की जातीं हैं | चर्च में क्रिसमस के गीत गाये जाते हैं और इस दिन अन्य धर्म के लोग भी चर्च आते हैं व मोमबत्तियां जलाकर प्रभु से प्रार्थना करते हैं | क्रिसमस के दिन लोग सांता क्लॉज़ की ड्रेस पहनकर बच्चों को गिफ्ट देते हैं |

Leave a Comment