kavita Tyohaar

महावीर जयंती पर कविता 2018 – Poem on Mahavir Jayanti in Hindi – Mahavir jayanti poems in hindi – Mahaveer Swami Kavita

स्वामी महावीर जी जैन धर्म के गुरु थे| वे जैन धर्म के 24 वे तीर्थकर थे| वे ही एकमात्र कारण थे की जैन धर्म को पूरी दुनिया में जाना जाता है| उन्होंने जैन धर्म के लोगो को सत्य और अहिंसा के रास्ते पर चलना सिखाया था| इस वर्ष महावीर जयंती 29 मार्च 2018 को है| इस दिन को जैन धर्म के लोग संत महावीर के जन्मदिन के रूप में मनाते है| इस पर्व को विश्व भर के सभी जैन समाज द्वारा बड़े धूम धाम से मनाते है| इस पर्व के उपलक्ष में आज हम आपको महावीर जयंती पर कविताए, mahavir jayanti poems in hindi, भगवान महावीर जी इंग्लिश पोएम, महावीर जी पर हिंदी काव्य आदि की जानकारी देंगे|

Mahavir Jayanti Poem in Hindi

आज इस आर्टिकल में हम आपके लिए mahaveer jayanti poems, हिंदी कविताए, गीत, महावीर जयंती पर काव्य, महावीर जयंती कविता इन हिंदी, मराठी, गुजराती, तमिल, तेलगु, आदि की जानकारी देंगे जिसमे शामिल होंगे mahavir jayanti celebration song, भगवान महावीर के अनमोल वचन, प्रभु महावीर के विचार व भगवान महावीर के सिद्धांत जो की 2008, 2009, 2010, 2011, 2012, 2013, 2014, 2015, 2016, 2017, 2018 का पूर्ण कलेक्शन है| साथ ही आप महावीर जयंती पर निबंधमहावीर जयंती स्टेटस अवश्य देखें|

जियो और जीने दो”
कथन से विश्व विख्यात्
क्रांतिकारी महापुरुष श्री महावीर जयंती पर
करें हम स्मरण उनके जीवन का
करें आचरण उनके विचारों का
साधना, तपस्या और अहिंसा के बल पर
सत्य का किया साक्षात्कार भगवान महावीर ने
करें हम सब इसका प्रचार-प्रसार
मानवता के दीप जले हमेशा प्रज्ज्वल
आज जब हिंसा का तांडव नृत्य सर्वत्र व्याप्त है,
क्यों ने करें हम सबको सचेत
“जियो और जीने दो” – महामंत्र को अपनाएं
हिंसा को छोड़ अहिंसा को अपनाएँ
विश्व जन समुदाय को सचेत करें हम-
“जो विश्व को जीता
वह सिकंदर
जो खुद को जीता
वह मस्त खलंदर ।“
महावीर के संदेश को करें हम आत्मसात ।
बने हम आत्म-संयमी
जग में पनपे ममता-मानवता ।

Mahavir Jayanti Kavita In Hindi

भगवान महावीर जयंती कविता इन हिंदी इस प्रकार हैं:

Poem on Mahavir Jayanti in Hindi

आओ बच्चो मिलकर आओ
आज तुम्हें कुछ बातें बताऊँ
महावीर के जन्मदिवस पर
उनके कुछ उपदेश सुनाऊँ
कभी किसी से झूठ न बोलो
सच्च के लिए अपना मुँह खोलो
जब भी कभी बोलना चाहो
तो पहले शब्दों को तोलो
रखो सदा ही सच्च को साथ
चाहे दिन हो चाहे रात
किसी की कभी न करो बुराई
मीठी वाणी मे सबकी भलाई
कभी कोई गलती कर जाओ
तो माफी से मुक्ति पाओ
माफी माँगना या फिर करना
नहीं कभी कोई इससे डरना
रखो सबसे मैत्री भाव
छोड़ो सबपे यह प्रभाव
क्षमा से बडा न कोई उपहार
होते इससे उच्च विचार
कभी न हिंसा किसी पे करना
सबसे ही मिलजुल कर रहना
सबमें एक ही जैसी जान
नहीं करना किसी का अपमान
छोड़ो सारे वैर-विरोध
कभी न मन में लाना क्रोध
बच्चो यह सब बातें समझना
अच्छाई के मार्ग पर चलना
महावीर के शुभ वचनों का
जीवन में सब पालन करना

Mahavir Jayanti Kavita

यहाँ से आप Mahaveer Jain poem in Hindi language & Hindi Font स्टूडेंट्स के लिए (शब्दों) में देख व pdf डाउनलोड कर सकते हैं| साथ ही class 1, class 2, class 3, class 4, class 5, class 6, class 7, class 8, class 9, class 10, class 11, class 12 के बच्चे इन्हे अपने स्कूल फंक्शन celebration व प्रोग्राम में सुना सकते हैं|साथ ही आप व अवश्य देखें|साथ ही आप महावीर जैन पिक्टुरेस, Mahavir Jayanti Hindi ShayariMahaveer Jain Wishes अवश्य देखें|

एक जीवन
एक जानवर/ एक इन्सान
जानवर / निरीह, मूक, व असहाय ।
काटा,चमड़ा उतारा
लटका दिया दुकानदार ने
इन्सानो के बाजार मे
इन्सानी भूख के लिए ॥
इन्सान / विश्व शांति, विश्वबंधुत्व
अहिंसा प्रेम ,करूणा
संवेदनाओं का अथाह सागर
आह!सागर
सागर / गागर
गागर/सागर ॥
एक हत्या एक जानवर/ एक इन्सान
बहता खून, तड़फडाता शरीर
खून की लाली और
कटने का दर्द
दोनो एक है ,मगर
एक के लिए है आंसू
दूसरे के लिए है
एक क्रूर मुस्कान ॥
एक हत्या एक जानवर/ एक इन्सान
इन्सान हाय कलेजा /
कितना पत्थर,कठोर,निर्मम
आलोचनाएं, भत्सर्नाएंऔर सजाएं
जानवर हाय कलेजा/
कितना लजीज,स्वादिट और उम्दा
कृपादृटि,प्रशंसा,और पुरूस्कार ॥
इन्सान/जिसका खाया,
उससे किया दगा
जानवर/जिसका खाया,या न भी खाया
उसके लिए दे दिया सर्वस्व ॥
जानवर तो पशु है
पशु / हिंसा ,वहशीपना,असहिएाुता
पशु/ न तरतीब,न तहजीब न तमीज
पशु/न भूत, न वर्तमान,न भविय
पशु/न इतिहास,न सभ्यता, न संस्कृति
पशु/कुछ भी नहीं/सब कुछ
सभी कुछ ।
इन्सान/ सब कुछ/सभी कुछ
परन्तु कुछ भी नहीं
ओछा,कृतघन व नंगा ॥

Mahavir jayanti poems in hindi

Poem on Lord Mahavir in Hindi

आज हम आपके लिए लाये हैं Mahavir Jayanti poems in hindi language & font, महावीर जयंती शायरी, songs, geet, Mahavir Jayanti Messages, महावीर जयंती पर गीत और कवितायें आदि जिन्हे आप pdf download कर अपने रिश्तेदार, facebook friends, whatsapp groups, dost, परिवार जन व बेस्टफ्रेंड को व्हाट्सप्प व एफबी पर सेंड कर सकते हैं|

युग की है यही पुकार,
फिर हो महावीर अवतार
जियो और जीने दो, गूँजे
हर घर, मंदिर, हर द्वार
युग की है यही पुकार,
फिर हो महावीर अवतार
सत्य, अहिंसा धर्म हो
मिट जाए अत्याचार
युग की यही पुकार,
फिर हो महावीर अवतार
हे वीर ,अतिवीर,सन्मति
हे महावीर, हे वर्धमान
प्राणियों की सुनो पुकार
कर दो सबका कल्याण
गाय और सिंह एक घाट
फिर साथ पिएँ पानी
दिगंबर श्वेतांबर भेद मिटा
जैन उर धरें माँ जिनवाणी
युग की है यही पुकार,
फिर हो महावीर अवतार
महावीर के उपदेशों पर
चले सारा संसार
युग की है यही पुकार,
फिर हो महावीर अवतार

महावीर जयंती कविता इन हिंदी

अक्सर लोग महावीर जयंती के अवसर महावीर जैन जयंती पर श्लोक , Mahavir ji shlok, महावीर जयंती पर शेरो शायरी, महावीर जयंती के कोटेशन, Mahavir Jayanti songs, Mahavir Jayanti cards, images, wallpapers, quotes, महावीर जी की जयंती के दोहे पर भी सर्च करते हैं|

आज तुम्हें कुछ बातें बताऊँ
महावीर के जन्मदिवस पर
उनके कुछ उपदेश सुनाऊँ
कभी किसी से झूठ न बोलो
सच्च के लिए अपना मुँह खोलो
जब भी कभी बोलना चाहो
तो पहले शब्दों को तोलो
रखो सदा ही सच्च को साथ
चाहे दिन हो चाहे रात
किसी की कभी न करो बुराई
मीठी वाणी मे सबकी भलाई
कभी कोई गलती कर जाओ
तो माफी से मुक्ति पाओ
माफी माँगना या फिर करना
नहीं कभी कोई इससे डरना
रखो सबसे मैत्री भाव
छोड़ो सबपे यह प्रभाव
क्षमा से बडा न कोई उपहार
होते इससे उच्च विचार
कभी न हिंसा किसी पे करना
सबसे ही मिलजुल कर रहना
सबमें एक ही जैसी जान
नहीं करना किसी का अपमान
छोड़ो सारे वैर-विरोध
कभी न मन में लाना क्रोध
बच्चो यह सब बातें समझना
अच्छाई के मार्ग पर चलना
महावीर के शुभ वचनों का
जीवन में सब पालन करना

Lord Mahavir Jayanti Poem in Hindi

इन Mahaveer ji ki kavita को आप Hindi, Urdu, sindhi, jainism, snaskrit, Punjabi, Marathi, Gujarati, Tamil, Telugu, Nepali, sindhi, Kannada व Malayalam hindi language व hindi Font में आप Facebook, WhatsApp व Instagram पर post व शेयर कर सकते हैं|

Tu karta woh he jo tu chahta hai
Par hota he woh jo me chahta hu
Tu woh kar jo me chahta hu
Fir wo hoga jo tu chahta ha
Inse sikho
Seva=Shravan se
Mitrata=krishan se
Maryada=Ram se
Daan=Karan se
Lakshay=Eklavya se
Ahinsa=Buddha se
Tapasya=Mahavir se

Related Search:
stavan , wikipedia in hindi , paryushan 2015 , 14 dreams , 1979 , 1996 , 2018 bank holiday , 2016 wikipedia , 2016 pics , short essay in english , essay in marathi , biography in hindi , buddha , bank holiday 2018 , ke baare mein , marathi , in gujarati , biography , article in hindi , fusion dance 2014 , hindi shayari ,का फोटो , kab hai ,के फोटो ,का महत्व , marathi mahiti , in gujarati language , kab manaya jata hai jain , 2015 , in hindi wikipedia , tamil nadu holiday , is celebrated by , in paryushan 2015 , jain , in marathi language , messages in marathi, , images , in hindi , in 2017 , status , information in marathi , photos , greetings essay on , in hindi , quotes , wishes ,

Leave a Comment