मतलबी लोग शायरी

मतलबी लोग शायरी – मतलबी दुनिया शायरी इन हिंदी – Matlabi Dosti Shayari – Selfish Friends

Posted by

अक्सर हमारी ज़िन्दगी में ऐसा समय आता है जब हमें लगता है कोई हमारा अपना हमारे साथ सिर्फ इसलिए था क्योंकि उससे हमें फायदा था| ऐसे में हर किसी को बुरा लग सकता है और ऐसे में आपका मन करता है खुद के अंदर की feelings को एक्सप्रेस करने का| इसलिए आज हम आपके लिए लाये हैं मतलबी लोग शायरी, एसएमएस, संदेश, मेसेज समझ collection , मेसेज, कोट्स, स्टेटस, उद्धरण, एसएमएस, साहरी, sayaree जिसे की आप अपने गर्लफ्रेंड, बॉयफ्रेंड, प्रेमी, प्रेमिका, पति, पत्नी, दोस्त, या आदि के साथ फेसबुक, व्हाट्सप्प या अन्य किसी सोशल साइट्स पर शेयर कर सकते हैं।

मतलबी दुनिया शायरी इन हिंदी

दुनिया बहुत मतलबी है शायरी इस प्रकार है:

मतलबी दुनिया शायरी इन हिंदी

मतलबी लडकी से अच्छी तो मेरी सिगरेट हे यारो……..
जो मेरे होठ से अपनी जिंदगी शुरू करती हे..
ओर मेरे कदमो के नीचे अपना दम तोड देती हे…!

अपने मतलब के लिये लोग, कितना बदल जाते हैं
वे अपनों को पीछे धकेल कर, आगे निकल जाते हैं
कोई मरता भी हो तो उनकी बला से,
वो तो लाशों पर पाँव रखकर, आगे निकल जाते हैं

कोहनी पर टिके हुए लोग,
टुकङों पर बिके हुए लोग,
करते हैं बरगद की बातें
ये गमले में उगे हुए लोग

दुनिया बहुत मतलबी है,
साथ कोई क्यों देगा,
मुफ्त का यहाँ कफ़न नहीं मिलता,
तो बिना गम के प्यार कौन देगा।

मतलबी रिश्ते शायरी

प्यासी ये निगाहें तरसती रहती है
तेरी याद मे अक़्सर बरसती रहती है
हम तेरे खयालों मे डूबे रहते है
और ये ज़ालिम दुनियां हम पर हंसती रहती है

तेरी रुस्वाई से मुझे एक सबक मिला है
दुश्मन भी इतना नहीं करता जितना
तूने दोस्त बनके किया है।

कभी मतलब के लिए
तो कभी बस, दिल्लगी के लिए
हर कोई मुहब्बत ढूंढ रहा है
यहाँ ज़िन्दगी के लिये

मतलबी लोग sms

मतलबी दुनिया में लोग अफसोस से कहते है की,
कोई किसी का नही…?
लेकीन कोई यह नहीं सोचता की हम किसके हुए…

मज़बूत होने में मज़ा ही तब है,
जब सारी दुनिया कमज़ोर कर देने पर तुली हो..

सिखा दिया दुनिया ने मुझे अपनों पे भी शक करना
मेरी फ़ितरत में तो था गैरों पे भरोसा करना

कैसे करू भरोसा गैरो के प्यार पर,
अपने ही मजा लेते अपनो की हार पर

sab matlabi hai

मतलबी रिश्ते शायरी

मतलबी लोग स्टेटस

मसला यह भी है इस ज़ालिम दुनिया का ..
कोई अगर अच्छा भी है तो वो अच्छा क्यॅ है..

आज गुमनाम हूँ तो ज़रा फासला रख मुझसे..
कल फिर मशहूर हो जाऊँ तो कोई रिश्ता निकाल लेना..

देख के दुनिया अब हम भी बदलेंगे मिजाज़
रिश्ता सब से होगा लेकिन वास्ता किसी से नहीं

मतलबी स्टेटस

न जाने कैसी नज़र लगी है ज़माने की
अब वजह नहीं मिलती मुस्कुराने की

मेरी तारीफ करे या मुझे बदनाम करे,
जिसने जो बात करनी है सर-ए-आम करे

मतलबी लोग शायरी फोटो

मतलब की दुनिया शायरी

मुझको क्या हक, मैं किसी को मतलबी कहूँ..
मैं खुद ही ख़ुदा को, मुसीबत में याद करता हूँ !

ढूॅढना ही है तो परवाह करने वालों को ढॅूढ़ीये साहेब…
इस्तेमाल करने वाले तो ख़द ही आपको ढॅूढ़ लेंगे…

इंसान की अच्छाई पर सब खामोश रहते हैं
चर्चा अगर उसकी बुराई पर हो, तो गूॅगे भी बोल पङते हैं

मतलबी लोग शायरी फोटो

मतलबी दुनिया शायरी इन हिंदी

मुझको छोड़ने की वज़ह तो बता दे
मुझसे नाराज़ थे या मुझ जैसे हजारो थे !!

मतलबी दोस्त स्टेटस इन हिंदी

कुछ यूँ हुआ कि.जब भी जरुरत पड़ी मुझे
हर शख्स इतेफाक से.मजबूर हो गया !!

मुखौटे बचपन में देखे थे मेले में टंगे हुए
समझ बढ़ी तो देखा लोगों पे है चढ़े हुऐ

matlabi log shayari in hindi

दुनिया में सबको दरारों में से झांक ने की आदत है,
दरवाजि खुले रख दो, कोई आस पास भी नहीं दिखेगा

सबके दिलों में धङकना ज़रूरी नहीं होता साहब..
कुछ लोगों की अांखों में खटकने का भी एक अलग मज़ा हैं

मतलबी लोग sms

मतलबी लोग शायरी इन हिंदी

भुला देंगे तुम्हे भी जरा सब्र तो कीजिए
आपकी तरह मतलबी होने में जरा वक्त लगेगा !!

चिठ्ठी ना कोइ संदेश जाने वो कौन सा देश जहां तुम चले गए हो !
इस दिल पे लगा के ठेंस जाने वो कौन सा देश जहां तुम चले गए हो !!

मतलबी लोगों पर शायरी

कुछ मतलबी लोग ना आते,
तो जिंदगी इतनी बुरी भी ना थी !!

मैं सूरज के साथ रहकर भी भूला नहीं अदब…
लोग जुगनू का साथ पाकर मगरूर हो गये…

Matlabi hain log shayari

2 Lines Attitude Shayari इस प्रकार है:

तुम्हारे होगें चाहने वाले बहुत इस ‎कायनात‬ में,‬‬
मगर इस ‎पागल‬ की तो कायनात ही तुम हो..‬‬

Apne Haathon Se Yun Chehre Ko Chhupaate Kyun Ho,

Mujh Se Sharmaate Ho Tou Saamne Aatay Kyun Ho…

Tum Kabhi Meri Tarah Kar Bhi Lo Iqraar-E-Wafaa,

Pyar Karte Ho Tou Phir Pyar Chhupaate Kyun Ho…

Matlabi log shayari images

Selfish People Shayari in Hindi with Image इस प्रकार हैं:

matlabi log shayari images

 

Matlabi log ki shayari

झूठी दुनिया के झूठे लोग शायरी  इस प्रकार हैं:

न परेशानियां, न हालात न ही कोई रोग है,
जिन्होंने हमें सताया है और कोई नहीं वो झूठे लोग हैं।

पल भर लगता है किसी को अपना मानने में
इक उम्र लग जाती है फिर उन्हें जानने में
नकाब अच्छाई का रहता है छिपे हुए चेहरे में
देर लग ही जाती है अक्सर झूठे लोगों को पहचानने में।

Matlabi log boys shayari

दिखा दी है शीशे ने असलियत झूठे लोगों की
बनावटी चेहरे पहन कर अक्सर जो झूठी दुनिया में घूमते हैं।

matlabi log sad shayari

मैं भी झूठा, तू भी झूठा, झूठी है दुनिया सारी
झूठे हैं ये लोग सभी, झूठे हैं नर-नारी
झूठ ही सबका दाता, सबका झूठ ही पालनहार है
ऐसा कलयुग आया देखो झूठ हुआ सच पर भारी है ।

झूठी दुनिया के झूठे फ़साने हैं
लोग भी झूठे और झूठे ज़माने हैं
धोखे मिलते है हर कदम पर यहाँ
हर तरफ भीड़ है लेकिन अफ़सोस सब बेगाने हैं।

Matlabi Dosti Shayari

matlabi logo par shayari Whatsapp

ख्वाबों की दुनिया में अक्सर कोई आहत देता है,
दूर कर ग़मों को अक्सर चेहरे पर मुस्कराहट देता है
मगर अफ़सोस वो दुनिया और वहां के लोग झूठे हैं
वहां बिताया इक इक पल फिर भी अक्सर दिलों को राहत देता है।

सच्चाई बिक रही है इस झूठी दुनिया में
सच बोलने के लिए झूठे लोग बिकते हैं
कौन सुनता है चीखें मजबूर गरीब लाचारों की
जिसके पास ताकत है दौलत की वहीं इंसाफ टिकता है।

Matlabi log shayari in urdu

झूठे लोगों की दुनिया में सच्चाई की कीमत कौन जानेगा,
टूट कर बिखर जाएगा जो इनसे उलझने कि ठानेगा,
भलाई है दूर रहें ऐसे लोगों से जो अच्छाई का नाटक करते हैं
धकेल देंगे ये बुरे दौर अँधेरे में जो गिरेगा निकल न पाएगा।

मुस्कुराहटें चेहरों पर और दिल में फरेब है,
बातों के धनी हैं खाली इनकी जेब है
अजीब है ये झूठे लोग जो इधर-उधर घूमते हैं
समझते हैं जिसे ये खासियत अपनी वही इनका ऐब है।
(ऐब = दोष)

मतलबी लोग स्टेटस

Matlabi log shayari facebook

ये मत समझ कि तेरे काबिल नहीं हैं हम,
तड़प रहे हैं वो अब भी जिसे हासिल नहीं हैं हम.

बातें विश्वास और भरोसे की बेमानी सी लगती हैं,
झूठी दुनिया में वफादारी अनजानी सी लगती है
झूठे लोगों से भरी पड़ी हैं कहानियां यहाँ किताबों में
प्यार से बोल दे कोई तो मेहरबानी सी लगती है।

जरूर एक दिन वो शख्स तड़पेगा हमारे लिए…
अभी तो खुशियाँ बहोत मिल रही है उसे मतलबी लोगो से.

मतलबी लोग शायरी मराठी

हम मरना भी उस अंदाज़ में पसंद करते है..!
जिस अंदाज में लोग जीने के लिये तरसते है..!

अगर तुम अपने पापा की “परी” हो, तो हम
भी अपने बाप के “नवाब” है !

Related Search:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *