नरेंद्र मोदी पर निबंध – Short Essay on Narendra Modi in Hindi – Narendra Modi Par Essay Pdf

नरेंद्र मोदी पर निबंध

अगर हम भारत के बीते दस साल की बात करे तो हम जानेगे की बीते 5 साल में भारत देश की अर्थ व्यवस्था और अन्य बड़े देशो से सम्बन्ध में बहुत सुधार आया है| इसकी मुख्या वजह चार साल पहले प्रधान मंत्री बने श्री नरेंद्र मोदी जी है| उनके भारत की सरकार के सम्हालने से बीते कुछ सालो में बहुत विकास आया है| उनकी वजह से बड़े देश जैसे अमेरिका, रूस, जापान, चीन, आदि देशो से व्यापार और ट्रेडिंग के सम्बंद बहुत अच्छे हुए है| इसी वजह से विदेशी कंपनियां भारत में भारी मात्रा में निवेश करना चाहती है| आज के इस पोस्ट में हम आपको p.m narendra modi essay, narendra modi essay writing, narendra modi essay pdf, narendra modi essay in sanskrit, narendra modi essay 100 words, नरेंद्र मोदी एस्से हिंदी, नरेंद्र मोदी पर एस्से इन हिंदी, narendra modi essay in punjabi, essay on narendra modi 2016, essay on narendra modi in 400 words, आदि की जानकारी देंगे|

Narendra Modi Nibandh – 100 words

आइये अब हम आपको Essay on narendra modi in 500 words, narendra modi for essay, essay on narendra modi in 300 words, essay on narendra modi 10 lines, भारत देश महान निबंध, short essay on narendra modi 200 words, नरेंद्र मोदी पर कविता, essay on narendra modi in 100 words in hindi, narendra modi simple essay, narendra modi essay download, narendra modi essay 250 words, in 100 words, 150 words, 200 words, 400 words जिसे आप pdf download भी कर सकते हैं|

नरेंद्र मोदी का पूरा नाम नरेंद्र दामोदरदास मोदी है उनका का जन्म 17 सितंबर 1950 वडनगर गुजरात मे हुआ था। नरेंद्र मोदी एक भारतीय राजनीतिज्ञ है और वर्तमान मे भारत के 15 वे प्रधानमंत्री है| भारत के राष्ट्रपति ने 26 मई 2014 को नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री की शपथ दिलाई थी| नरेंद्र मोदी भारतीय जनता पार्टी के एक नेता भी है और भारत के प्रधानमंत्री बनने से पहले वह गुजरात के 2001 से 2014 तक मुख्यमंत्री थे और वाराणसी मे संसद के सदस्य भी थे| नरेंद्र मोदी दामोदरदास का जन्म एक गुजराती परिवार मे हुआ था और उनके परिवार की आर्थिक स्थिति सही नहीं थी उनके पिता दामोदरदास मूलचन्द मोदी चाये बेचने का काम करते थे और बचपन की उम्र से ही नरेंद मोदी अपने पिता के साथ काम करते थे और बाद मे उन्होंने अपना एक स्टाल ख़रीद लिया था|

नरेंद्र मोदी पर निबंध हिंदी में

मोदी सरकार न केवल दंगों को प्रभावी ढंग से न रुकवाने के लिए आलोचना का शिकार हुई बल्कि उस पर दंगो को भड़काने का भी आरोप लगाया गया| मोदी पर चारों ओर से मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने का दबाव बनने लगा था, तत्कालीन प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेई ने भी मोदी को “राजधर्म” का निर्वाह करने की नसीहत दी थी, लेकिन मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री पद पर बने रहें| वर्ष 2002 के दंगों ने मोदी के व्यक्तिगत को बदल कर रख दिया| अब तक हिंदुत्ववादी छवि को लेकर आगे बढ़ने वाले मोदी ने गुजरात दंगों के बाद अपना सारा ध्यान आरती विकास पर केंद्रित कर दिया, जिसका परिणाम यह हुआ कि उनके नेतृत्व में वर्ष 2012 और 13 तक आते-आते गुजरात राज्य के स्थान पर ब्रांड बन गया और मोदी के गुजरात विकास मॉडल की गूंज हर कहीं सुनाई देने लगी| मोदी को इसी विकास पुरुष की छवि ने उन्हें वर्ष 2014 के आम चुनावों में विजय दिलाकर प्रधानमंत्री के पद तक पहुंचा दिया तेरी जैसी बिछड़ी हुई जाती का एक चाय बेचने वाला लड़का भारत का प्रधानमंत्री बने यह बेमिसाल है वह किले से प्रधानमंत्री है जो इतनी गरीबी से उठे हैं|

आजाद भारत में जन्मे पहले प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी सही मायने में ‘युवा भारत’ के ‘युवा प्रधानमंत्री’ हैं| स्कूली दिनों में नाटकों में भाग लेने के शौकीन मोदी वक्त के साथ कदम मिलाकर चलने वालों में से हैं| यही वजह है कि भारत जैसे देश में जहां तमाम राजनीतिक दल प्रौद्योगिकी से दुरी रखने मे विश्वास रखते हैं| वही मोदी कंप्यूटर एवं इंटरनेट प्रौद्योगिकी का जमकर प्रयोग करते हैं| उन्होंने चुनाव प्रचार में भी सूचना प्रौद्योगिकी का भरपूर इस्तेमाल करते हुए जनता के एक बड़े वर्ग तक अपनी पहुंच बनाई है| वह जनता से जुड़ने के लिए सोशल नेटवर्किंग का सहारा लेते हैं|

Short Essay on Narendra Modi in Hindi

Narendra Modi Essay 150 Words

अक्सर class 1, class 2, class 3, class 4, class 5, class 6, class 7, class 8, class 9, class 10, class 11, class 12 के बच्चो को कहा जाता है write essay on narendra modi in 50 words, लेख एसेज, anuched, short paragraphs, pdf, Composition, Paragraph, Article हिंदी, some lines on pm modi in hindi, 10 lines on narendra modi in hindi, प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी पर हिंदी निबंध, short essay on narendra modi in hindi font, निबन्ध (Nibandh). यह 2007, 2008, 2009, 2010, 2011, 2012, 2013, 2014, 2015, 2016, 2017 का full collection है|

नरेंद्र मोदी के पिता का नाम दामोदरदास मूलचंद मोदी और माता का नाम हीराबेन मोदी है| नरेंद्र मोदी के माता और पिता ने कभी इसकी कल्पना भी नहीं की होगी की एक दिन उनका बेटा देश का प्रधानमंत्री बनेगा| नरेंद्र मोदी छोटी सी ही उम्र मे ही, वडनगर के रेलवे स्टेशन पर चाय बेचने में अपने पिता की मदद करते थे और थोड़े ही समय बाद वह अपने भाई के साथ अपनी टी स्टाल मै काम करने लगे| आठ वर्ष की उम्र मे ही नरेंद्र मोदी ने अपनी पढ़ाई के साथ-साथ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ज्वाइन कर लिया था । मोदी ने अपनी उच्चतर माध्यमिक शिक्षा 1967 मे वडनगर मे पूरी की|

वर्ष 1973 में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में प्रचारक के रुप में अपना कैरियर शुरु करने वाले मोदी ने अपनी प्रतिभा और मेहनत के बल पर वर्ष 1987 में भारतीय जनता पार्टी BJP में जगह बना ली थी| इसके बाद मोदी ने पार्टी में अनेक जिम्मेदारियों को सफलतापूर्वक निभाते हुए निरंतर अपना कद बढ़ाया| इसी का परिणाम है कि मोदी वर्ष 2001 में गुजरात के मुख्यमंत्री बनने के बाद मई 2000 तक इस पद पर बने रहे| नरेंद्र मोदी के राजनीतिक कैरियर में वर्ष 2002 बहुत महत्वपूर्ण था इस वर्ष गुजरात में सांप्रदायिक दंगे भड़के उठे हुए थे जिनमें 2000 से अधिक लोग मारे गए और कई हजार व्यक्ति घायल हुए थे| इन दंगों ने मोदी की छवि को दागदार बना दिया था|

Narendra Modi Par Nibandh in Hindi

नागरिकों से ‘लाइव चैट’ करके वाले पहले भारतीय राजनेता होने का गौरव भी मोदी को ही मिला| वह सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट “ट्विटर” पर सदैव सक्रिय रहते हैं| उनकी लोकप्रियता का अंदाजा इसी उद्देश्य से लगाया जा सकता है कि ट्विटर पर उनकी 30 मिलियन से भी अधिक फॉलोवर है और वे विश्व के ऐसे चतुर्थ राजनेता हैं जिनका ट्विटर पर सबसे अधिक प्रयोग किया जाता है|

नरेंद्र मोदी का मुख्य एजेंडा सिर्फ और सिर्फ तरक्की है| वह सबका साथ सबका विकास की विचारधारा की पक्षधर हैं| शायद यही कारण है कि भारत की जनता ने गुजरात दंगों को भुलाकर उन्हें प्रधानमंत्री के पद के रूप में इतनी बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है| हर सरकार अपने तरीके से देश के विकास के लिए कार्य करती है, किंतु नरेंद्र मोदी की सरकार से जनता की उम्मीदें बहुत ज्यादा है, क्योंकि भारत में संभवत पहली बार कोई लोकसभा चुनाव जाति-पाति तथा सांप्रदायिकता जैसे मुद्दों को छोड़कर विकास के मुद्दे पर लड़ा गया और जीता गया| इसलिए जनता अपने नए प्रधानमंत्री से यूपिये-2 के शासनकाल में आए ठहराव से मुक्ति पाने की अपेक्षा रखती है| लेस गवर्नमेंट, मोर गवर्नेंस और ‘नो रेड टेप’ ओन्ली रेड कारपेट पर जोर देने वाली मोदी को भी इसका आभास अवश्य होगा कि एक प्रधानमंत्री के रूप में उनके सामने महंगाई, बेरोजगारी, आर्थिक घाटा, भ्रष्टाचार जैसी अनेक चुनौती हैं जिनका समाधान उन्हें करना होगा|

Narendra Modi in Hindi Essay

आइये अब जाने narendra modi essay 200 words, narendra modi essay in 100 words, narendra modi essay in gujarati language, नरेंद्र मोदी एस्से इन इंग्लिश, narendra modi essay in telugu, narendra modi essay in hindi 200 words, narendra modi essay in english pdf, narendra modi easy essay, नरेंद्र मोदी एस्से, नरेंद्र मोदी एस्से इन हिंदी, narendra modi biography essay, narendra modi par essay in hindi, narendra modi essay topic, pm narendra modi essay in hindi, narendra modi ka essay, आदि से सम्बंद में| साथ ही Essay on save fuel for better environment and health in hindi भी देखें

भूमिकाः नरेन्द्र दामोदरदास मोदी 17 सितंबर 1950 को जन्मे भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री हैं। वे स्वतन्त्र भारत के 15वें प्रधानमंत्री हैं। उनके नेतृत्व में भारत के प्रमुख विपक्षी पार्टी भारतीय जनता पार्टी ने 2014 का लोकसभा चुनाव लड़ा और 282 सीटें जीतकर अभूतपूर्व सफलता प्राप्त की। एक सांसद के रूप में उन्होंने उत्तर प्रदेश की सांस्कृतिक नगरी वाराणसी एवं अपने गृह राज्य गुजरात के बड़ोदरा संसदीय क्षेत्र से चुनाव लड़ा और दोनों जगहों से जीत हासिल की।

इससे पूर्व वे गुजरात राज्य के 14वें मुख्यमंत्री रहे। उन्हें उनके काम के कारण गुजरात की जनता ने लगातार चार बार (2001-2014) मुख्यमंत्री चुना।

गुजरात विश्वविद्यालय से राजनीति विज्ञान में स्नातकोत्तर डिग्री प्राप्त विकास पुरूष के नाम से जाने जाते हैं और वर्तमान समय में देश के सबसे लोकप्रिय नेता हैं।

नरेन्द्र मोदी का जन्म तत्कालीन बम्बें राज्य के मेहशाना जिला स्थित बड़नगर ग्राम हीनाबेन मोदी और दामोदरदास मूलचन्द मोदी के एक मध्यम वर्ग परिवार में 17 सितम्बर 1950 को हुआ था। वे पूर्णतः शाकाहारी हैं।

भारत पाकिस्तान के बीच द्वितीय युद्ध के दौरान अपने तरूण काल में उन्होंने स्वेच्छा से रेलवे स्टेशनों पर सफर कर रहे सैनिकों की सेवा की। युवावस्था में वे छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में शामिल हुए और साथ ही साथ भ्रष्टाचार विरोधी नव निर्माण आन्दोलन में हिस्सा लिया।

एक पूर्ण कार्यकालिक आयोजक के रूप में कार्य करने के बाद उन्हें भारतीय जनता पार्टी में संगठन का प्रतिनिधि मनोनीत किया गया।किशोरावस्वथा में अपने भाई के साथ एक चाय की दुकान चला चुके मोदी ने अपनी स्कूली शिक्षा बड़नगर में पूरी की। उन्होंने आर.एस.ए. के प्रचारक रहते हुए 1980 में गुजरात विश्वविद्यालय से राजनीति विज्ञान में स्नातकोत्तर परीक्षा पास की।

अपने माता पिता की कुल छह सन्तानों में तीसरे पुत्र नरेन्द्र ने बचपन में रेलवे स्टेशन पर चाय बेचने में अपने पिता का भी हाथ बटाया। बड़नगर के ही एक स्कूल मास्टर के अनुसार नरेन्द्र हालांकि एक औसत दर्जे का छात्र था लेकिन वाद विवाद और नाटक प्रतियोगिताओं में उसकी बेहद रूचि थी।
13वें वर्ष की आयु में नरेन्द्र की सगाई जशोदाबेन चमनसाल के साथ कर दी गई। जब उनका विवाह हुआ तब वे मात्र 17 वर्ष के थे। नरेन्द्र मोदी के जीवनी लेखकों के अनुसार उन दोनों की शादी जरूर हुई परन्तु वे दोनों एक साथ कभी नहीं रहे। शादी के कुछ वर्षों बाद नरेन्द्र ने घर त्याग दिया और एक प्रकास से उनका वैवाहिक जीवन समाप्त सा हो गया।

Narendra Modi Essay In Marathi

Narendra Modi Par Essay Pdf

भारताचे 15 वे पंतप्रधान नरेंद्र मोदी हे श्री नरेंद्र मोदी यांचे पूर्ण नाव दहा आहे. त्याचा जन्म 17 सप्टेंबर 1950 रोजी झाला. 26 मे 2014 रोजी भारतीय पंतप्रधान होण्यापूर्वी नरेंद्र मोदी चार वेळा गुजरातचे मुख्यमंत्री होते. त्यांच्या नेतृत्वाखाली, भारतीय जनता पार्टीला तीन वेळा निवडणुकीत पराभव पत्करावा लागला.
गुजरातचे मुख्यमंत्री जाहीर केले की, पंतप्रधान आणि या निवडणुकीत भाजपचे पंतप्रधानपदाचे उमेदवार नरेंद्र मोदी अद्भुत व्यक्तिमत्व, करिष्माई वक्तृत्व साठी स्पर्धक निवडणूक स्पर्धा निवडणुकीत 2014 मध्ये भाजप नेतृत्व कोणत्या प्रशासक एक यशस्वी प्रामाणिक आणि कठीण राहते प्रतिमा, आणि म्हणून विकासाच्या मुकाबल्यात निवडणुकीच्या घोषणेस पात्रतेसाठी अभूतपूर्व पाठिंबा मिळाला आहे आणि पहिल्यांदाच भाजपा 282 जागा जिंकून पूर्ण बहुमत मिळवते ई

नरेंद्र मोदी एक प्रभावी काळ असून सुशिक्षित आहेत. त्यांनी राजकारणात एमए पदवी प्राप्त केली आहे.
आज, नरेंद्र मोदी हे भारताच्या इतिहासाचा यशस्वी शिखर मानले जातात. परंतु त्यांचे जीवन नेहमी इतके सोपे नसते. नरेंद्र मोदींच्या बालपणामुळे खूप संघर्ष झाला आहे. लहानपणापासून त्यांनी आपल्या वडिलांचे हात रेल्वे स्टेशनवर चहा विकण्याच्या कामात वितरित केले आणि शिक्षणासही शिक्षण घेतले. वाढल्यानंतर ते संघाचे सभासद झाले आणि नियमित शाखांमध्ये जाणे सुरू झाले.

Narendra Modi Essay in English

Full name of ‘Narendra Modi’ is Narendra Damodardas Modi. He was born on 17 September 1950 in Vadnagar, Mehsana district, Bombay State (present day Gujarat). His father’s name was Damodardas Mool Chand Modi and mother’s name is Hiraben. He was born into a middle class family. At the age of 13, he was engaged with Jasoda Ben Chaman Lal and when they were married, he was just 17.

At the age of eight Modi discovered the R.S.S., and began attending its local shakhas (training sessions). He made his focus on the social and cultural development organizations, national volunteer organization. He served flood victims in Gujarat in 1967. Narendra Modi played important roles on several occasions during his work with R.S.S. (Rashtriya Swayamsevak Sangh).

In 1987, Narendra Modi entered into the main political stream by joining the Bharatiya Janata Party (B.J.P.). Within a year he was appointed as General Secretary of the party’s Gujarat unit. He truly pioneered the challenging task of enabling the party workers, because of which the party started gaining political mileage. In October 2001, Narendra Modi was appointed as Chief Minister of Gujarat. In the 2007 elections the B.J.P. led by Modi once again got a massive majority. In the 2012 elections, the B.J.P. led by Modi once again gained a large majority. Modi sworn in as fourth consecutive Gujarat Chief Minister.

Narendra Modi Essay In Hindi

भारत के 15वें प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का पूरा नाम नरेंद्र दामोदर दस मोदी है. उनका जन्म 17 सितम्बर 1950 को हुआ था. 26′ मई 2014 को भारत का प्रधानमंत्री बनने से पहले नरेंद्र मोदी गुजरात के 4 बार मुख्यमंत्री रह चुके थे. उनके नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी को तीन बार चुनावों में गुजरात में जीत हासित हुई थी.
गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए उनकी छवि एक सफल, ईमानदार और कठोर प्रशासक की बनी जिसके चलते सन् 2014 के चुनाव में भाजपा ने उन्हें प्रधानमंत्री पद का दावेदार घोषित कर चुनाव लड़ा और भाजपा को इस चुनाव में नरेंद्र मोदी के चमत्कारिक व्यक्तित्व, करिश्माई भाषण शैली और विकास उन्मुख चुनाव घोषणा पात्र के चलते अभूतपूर्व समर्थन मिला और पहली बार भाजपा सम्पूर्ण बहुमत के साथ 282 सीटें जीतकर सत्ता में आई.

नरेंद्र मोदी प्रभावी वक्त है और सुशिक्षित हैं. उन्होंने राजनीति विज्ञान में एमए की योग्यता प्राप्त की है.
आज नरेंद्र मोदी को भारत के इतिहास का सफल शिखर पुरुष माना जाता है. किन्तु उनका जीवन हमेशा इतना आसान नहीं रहा है. नरेंद्र मोदी का बाल्यकाल बहुत संघर्ष पूर्ण बीता. बचपन में उन्होंने रेलवे स्टेशन पर चाय बेचने के काम में अपने पिता का हाथ बंटाया और साथ ही शिक्षा भी प्राप्त की. बड़े होने के बाद उन्होंने स्वयंसेवक संघ की सदस्यता ग्रहण की और नियमित शाखाओं में जाने लगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *