Hindi Shayari Hindi Status Messages Uncategorized

धोखेबाज दोस्त शायरी इन हिंदी – विश्वासघात शायरी – Dhokebaaz dost shayari in hindi & Urdu Download

आज के समय में दुनिया मतलब की हो गई हैं| दोस्त भी दोस्ती इसलिए करते हैं ताकि उनका मतलब निकल सके| कई बार ऐसा होता हैं की काम निकल जाने के बाद दोस्त हमे पहचानने से भी मना कर देते हैं| जिससे हमे बहुत ठेस पहुँचता हैं| हमारे इस पोस्ट से धोखेबाज दोस्त पर शायरी इन हिंदी, धोखेबाज दोस्त पर स्टेटस, गद्दार दोस्त पर शायरी, धोखेबाज इमेज, dosti me dhoka whatsapp status, गद्दार दोस्त स्टेटस, दोस्ती में धोखा शायरी इन हिंदी और हिन्दी धोखा शायरी की जानकारी ले सकते हैं जो आपके दिल को छू जाएंगी|

धोखेबाज दोस्त शायरी इन हिंदी

पहले ज़िंदगी छीन ली मुझसे,
अब वो मेरी मौत का भी फ़ायदा उठाती है,
मेरी क़बर पे फूल चढाने के बहाने,
वो किसी और से मिलने आती है..!!!

Pehle Zindagi Cheen Li Mujh Se,
Ab Wo Meri Mout Ka Bhi Fadia Uthati Hai,
Meri Qabar Pe Phool Chadhane Ke Bahane,
Woh Kisi aur Se Milne Ati Hai..!!!

Dhokebaaz shayari

समझ लेते हैं हम उनकी दिल की बात को,
वो हमें हर बार धोका देते है,
लेकिन हम भी मजबूर हैं दिल से,
जो उन्हें बार बार मौका देते हैं…!

Samjh Lete Hain Hum Unki Dil Ki Baat Ko,
Wo Humein Hr Baar Dhoka Dete Hai,
Lekin Hum Bhi Majbur Hain Dil Se,
Jo Unhein Bar Bar Mouka Dete Hain…!!!

विश्वासघात शायरी

तेरी दोस्ती ने दिए सुकून इतना,
कि तेरे बाद कोई भी अच्छा न लगे,
तुझे करनी हो बेवफाई तू इस अदा से करना,
कि तेरे बाद कोई भी बेवफा न लगे…!!!

Dhokha dost status in hindi

साथ ही Selfish Status in Hindi for WhatsAppमतलबी लोग शायरी भी देखें

Teri Dosti Ne Dia Sakoon Etna,
Keh Tery Baad Koi Bhi Acha Na Lage,
Tujhe Karni Ho Bewafai Tu Is Adda Se Krna,
Ke Tere Baad Koi Bhi Bewafa Na Lage…!!!

दोस्ती में धोका शायरी

अनजाने में दिल गँवा बैठे
इस प्यार में कैसे धोखा खा बैठे
उनसे क्या गिला करे, भूल तो हमारी थी
जो बिना दिल वालों से दिल लगा बैठे

Anjaane Me Dil Gavaa Baithe
Is Pyaar Me Kaise Dhoka Kha Baithe
Unse Kya Gila Kare, Bhool Toh Humari Thi
Jo Bina Dil Waalon Se Dil Lagaa Baithe

Dhokebaaz dost shayari in urdu

Pal Pal Uska Saath Nibhate Hum
Ek Ishare Pe Dunya Chhor Jate Hum
Samandar K Beech Me Pohanch Kar Fareib Kya Usne
Wo Kehte To Kinaare Pe Hi Doob Jate Hum

पल पल उसका साथ निभाते हम
एक इशारे पर दुनिया छोड़ जाते हम
समंदर के बिच में पहोच कर फरेब किया उसने
वो कहते तो किनारे पर ही डूब जाते हम

Dhokebaaz dost shayari in english

 

धोखेबाज दोस्त स्टेटस

Samjha Lo Apne Dil Ko Pyaar Na Kare
Meri Fitrat Hai Bewafai Izhar Na Kare
Humse Paoge Dhoka Tum Yaad Rekhna
Pehle Hee Kahte Hai Koi Humara Aetbaar Na Kare

गद्दार दोस्त शायरी

उसने तोडा वो ताल्लुक़ जो हमारी हर बात से था
उसको दुःख न जाने मेरी किस बात से था
सिर्फ ताल्लुक़ रहा, लोगों की तरह वो भी
जो अच्छी तरह वाकिफ मेरी हर बात से था

Dhokebaaz dost shayari in hindi

Us Ne Toda Woh Taluq Jo Humari Har Baat Se Tha
Us Ko Dukh Najane Meri Kis Baat Se Tha
Sirf Taluq Raha, Logo Ki Tarha Woh Bhi
Jo Achi Tarha Waqif Meri Har Baat Se Tha

दिल्लगी थी उसे हमसे मोहब्बत कब थी
महफ़िल-ए-गैर से उन्हें फुर्सत कब थी
हम थे मोहब्बत में लूट जाने के काबिल
उसके वादों में वो हक़ीक़त कब थी

Dhokebaaz dost shayari in english

Dil Lagi Thi Usey Hum Se Mohabbat Kab Thi
Mehfil-e-Gair Se Un Ko Fursat Kab Thi
Hum Thay Mohabbat Main Lut Jane K Qabil
Us K Wadoon Main Wo Haqiqat Kab Thi…

कदम कदम पर बहारो ने साथ छोडा ,
जरुरत पडने पर यारो ने साथ छोडा ,
बादा किया सितारोँ ने साथ निभाने का ,
सुबह होने सितारो ने साथ छोडा .

यू तो हर दिल में एक कशिश होती है
हर कशिश में एक ख्वाहिश होती है
मुमकिन नही सभी के लिए ताज महल बनाना
लेकिन हर दिल में एक मुमताज़ होती ह

मैं शिकायत क्यों करूँ, ये तो क़िस्मत की बात है..
तेरी सोच में भी मैं नहीं, मुझे लफ्ज़ लफ्ज़ तू याद है..!!

धोखेबाज दोस्त स्टेटस

 

ना जाने कैसे इम्तेहान ले रही है जिँदगी आजकल,मुक्दर, मोहब्बत और दोस्त तीनो नाराज रहते है.
मैं फिर से, ठीक तेरे जैसे की तलाश में हूँ..
गलती कर रहा हू लेकिन होशोहवास में हू
मैं तेरा कोई नहीं मगर इतना तो बता
ज़िक्र से मेरे, तेरे दिल में आता क्या है?
कुछ उम्दा किस्म के जज़्बात हैं हमारे,कभी दिल से समझने की तकलुफ़्फ़् तो कीजिए।

इतनी वफ़ादारी ना कर किसी से यूँ मदहोश होकर
दुनिया वाले एक खता के बदले सारी वफ़ाएं भुला देते ह
अगर आप किसी कों धोका देने में कामयाब हो गए
तो ये मत समजना की आप कितने चालाक है
ये सोचना की वो आप पर कितना विश्वास करता था

गद्दार दोस्त पर शायरी

मैंने उनसे प्यार किया,
यह मेरे प्यार की हद थी.
मैंने उनपे इतबर किया,
यह मेरे इतबर की हद थी.
मरकर भी खुली रही मेरी आखें,
यह मेरे इंतिज़ार की हद थी.

बेवफा सनम से तो सिग्रत्ती अची है,
बेवफा सनम से तो सिग्रत्ती एकही है ,
दिल जलती है, पर होतो से तो लगती ह

हमने आपकी यद् मे सिगरेट जलाई
मगर कम्भाकत ढूएने भी तेरी तस्वीर बनाई.

ई मेरे जुर्म गिनाने वाले
तेरे घर कोई आइना है क्या?

शाम होते ही चिरागों को बुझा देता हूँ
यह दिल ही काफ़ी है तेरी याद मैं जलने के लिए

Dhokebaaz shayari

 

किसी का हाथ लेकर हाथ मे जब तुम मिले हमसे,
तो कैसे टूट के बिखरा था मेरा मन आँखो मे,
ना समझो चुप है तो तुमसे कोई शिकवा नही बाकी,
हम अपने दर्द की नही रखते कोई पहचान आँखो मे,

कच्चे धागे सा इक झटके मे टूट जाए,
ऐसा दिल मुझे मिला है.
उस पर हर गहरा दर्द भी मुझे अपनो से मिला है.
जब-जब बनाना चाहा है किसी को अपना,
तोहफे मे बक्शी गयी मुझे बस जुदाई और रुसवाई है.
क्या हुआ जो आज फिर संग मेरे तन्हाई है.

bhai ke dhokha dene ke status

समजते थे हम उनकी हर एक बात को,
वो हर बार हमसे धोका देते थे,
पर हम भी वक़्त के हातो मजबूर थे,
जो हर बार उनको मौका देते थे.

मोहब्बत करने वालो मे भी अक्सर ये सिला देखा हे,
जिन्हे अपनी वफ़ा पे नाज़ था, उन्हे भी बेवफा देखा हे.

धोखेबाज इमेज

Dhokebaaz dost ki shayari 

 

हमने तो बेवफा के भी दिल से वफ़ा किया
इसी सादगी को देखकर सबने दगा किया
मेरी टिशनगी तो पी गयी हर जख्म के आँसू
गर्दिश मे आके हमने अपना घर बना लिया

गद्दार दोस्त स्टेटस

मोहब्बत मे जी गया कोई प्यार मे मर गया कोई,
मोहब्बत आग को सागर हे फिर भी उतार गया कोई,
प्यार मे ज़ख़्म का किस्सा बहोत पुराना हे दोस्तो,
ज़ख़्म दे गया कोई तो ज़ख़्म भर गया कोई .

मौत माँगते है तो जिन्दगी खफा हो जाती है, जहर लेते है तो वो भी दवा हो जाती है, तू ही बता ऐ दोस्त क्या करूँ, जिसको भी चाहा वो बेवफा हो जाती है.. ;

वो जो अपना था हुंसे है खफा,
पता नही किस से हुई थी क्या ख़ाता,
बे-वजह दिल नही टूट-ता किसी का,
तुम थे या हम थे बेवफा…

कैसी है यह हमारी तक़दीर,
हर तरफ दागा ही पाया है.
दिल मे तो है प्यार ही प्यार लेकिन,
हर तरफ बेवफाओ को ही पाया है.

Dhokhebaj dost shayari

इंनकार करते करते, इकरार कर बैठे,
हम तो एक बेवफा से प्यार कर बैठे.

कोई वादा नही फिर भी तेरा इंतेज़ार है,
जुदाई के बाद भी तुमसे प्यार है,
तेरे चेहरे की उदासी दे रही है गवाही,
मुजसे मिलने को तू अब भी बेकरार है.

Dhokebaaz dost ki shayari 

अब तो हम तेरे लिए अजनब हो गया
बातो के सिलसिले भी कम हो गया
खुशियो से जुआदा हमारे पास गम हो गया
क्या पता ये वक़्त बुरा है या बुरे हम हो गय

बड़ी हसीन थी ज़िंदगी..
जब ना किसीसे मुहब्बत ना किसी से नफ़रत थी!
ज़िंदगी में एक मोड़ ऐसा आया मुहब्बत उससे हुई
और नफ़रत सारी दुनिया से हो गयी.

मुहब्बत ज़िंदगी बदल देती है..
मिल जाए….तो भी..
ना मिले……..तो भी.. !

पत्थर से दिल लगाने से पहेले देख लेते,
की वो धड़क रहा हे के नही.
उनपर ऐतबार ना करते हम अगर,
तो ज़िंदगी मे ठोकर ना खाते हम कभी.

दोस्ती में धोखा शायरी इन हिंदी

हमारे द्वारा दी हुई Gaddari shayari in hindi language and hindi font, dhokebaaz dost status, gadar dost, शायरी, मेसेज, समझ collection, कोट्स, स्टेटस, विश (wishes), उद्धरण, farebi dost image, कविता, kavita, poem, एसएमएस, साहरी, sayaree, उद्धरण, messages, msg, मैसेज, एसएमएस हिंदी फॉण्ट, टाइटिल, Messages, Quotes को आप फेसबुक, व्हाट्सप्प पर अपने दोस्त व परिवार के लोगो के साथ साझा कर सकते हैं|आप चाहे तो तन्हाई भरी शायरी व Ishq Mein Mar Jana Shayari in Hindi भी देख सकता हैं |

वफ़ा के नाम से वो थोड़े अंजान थे,
किसी की बेवफ़ाई से शायद थोड़े परेशान थे,
जब हमने वफ़ा देनी चाही तब पता चला के,
हम खुद बेवफा के नाम से बदनाम थे. –

एक आग लगाई सिने मे मेरे,
और उसका माज़ा भी लेते रहे,
शोलो का तमाशा भी देखा उसने,
और आँचल से हवा भी देते रहे.

बेख़बर तुझे क्या खबर;
तेरी आँखों मई कैसा जमाल है;
तुझे देख ले जो बस इक नज़र;
उस की आँखों मे फिर यह सवाल है!

ग़मों की बरसात समेटे बैठा हूँ , किसी बेवफा से धोखा खाया बैठा हूँ , जाने कब देगा उपरवाला मुझे मौत , खुदा के भरोसा आस लगाये बैठा हू

शहर में हमदम पुराने बहुत थे नासिर;
वक़्त पड़ने पर मेरे काम ना आया कोई।

यू तो कोई तन्हा नही होता,
चाहकर किसी से कोई जुदा नही होता,
मोहब्बत को मजबूरिया ही ले डूबती है,
वरना खुशी से कोई बेवफा नही होता.

ज़ख़्म जब मेरे सिने के भर जाएँगे;
आँसू भी मोती बनकर बिखर जाएँगे;
ये मत पूछना किस किस ने धोखा दिया;
वरना कुछ अपनो के चेहरे उतर जाएँगे।

Dhokebaaz dost shayari punjabi

हमने अपनी सांसो पर उनका नाम लिख लिया,
नही जानते थे की हमने कुछ ग़लत किया,
वो प्यार का वादा हमसे करके मुकर गये,
खैर उनकी बेवफ़ाई से कुछ तो सबक लिया.

हर धड़कन मे एक राज़ होता है,
हर बात को बताने का एक अंदाज़ होता है,
जब तक ठोकर ना लगे बेवफ़ाई की,
हर किसी को आपने प्यार पे नाज़ होता है.

तुने जो मिटा डाला
था मुझको बेवफा;
मेरी पाक मुहब्बत की
एक तासीर अभी बाकी है।

हिन्दी धोखा शायरी

वो बेवफा मेरा इम्तिहान क्या लेगी,
मिलेगी नज़रो से तो नज़र तक झुका देगी,
उसे मेरी कबर पे दिया जलाने को मत कहेना,
वो तो नादान हे कही अपना हाथ जला देगी.

हर दिल का ज़ख़्म धो लेते हे,
आंशु ओ के जाम से.
इतनी बेवफ़ाई करो की,
नफ़रत हो जाए लड़की ओ के नाम से.

इश्क ए मोहब्बत मे कभी ऐसे तस्वीर भी होगी,
हमे क्या पता के किसी बेवफा के लिए शायरी भी लिखनी होगी .

Gaddar Dost Shayri

वफ़ा के नाम से वोह अनजान थे!
किसी की बेवफाई से शायद परेशान थे!
हमने वफ़ा देनी चाही तो पता चला!
हम खुद बेवफा के नाम से बदनाम थे!

मेरी मौत के सबब आप बने;
इस दिल के रब आप बने;
पहले मिसाल थे वफ़ा की;
जाने यूँ बेवफ़ा कब आप बने।

आप ये दोस्ती में दगा एसएमएस, संदेश, मेसेज समझ collection , मेसेज, कोट्स, स्टेटस, उद्धरण, एसएमएस, साहरी, sayaree जिसे की आप अपने गर्लफ्रेंड, बॉयफ्रेंड, प्रेमी, प्रेमिका, पति, dhokebaaz dost shayari in marathi, पत्नी, दोस्त, या आदि के साथ फेसबुक, व्हाट्सप्प या अन्य किसी सोशल साइट्स पर शेयर कर सकते हैं।

अपने दिल को आख़िर दुखाना है,
और बहारो मे घर सज़ाना है,
तो प्यार अक्सर एक बेवफा से करो,
अगर मोहब्बत को आजमाना है.

सब कुछ है मेरे पास पर दिल की दवा नहीं, दूर वो मुझसे हैं पर मैं खफा नहीं, मालूम है अब भी प्यार करते है मुझसे, वो थोडा सा जिद्दी है, मगर बेवफा नही

चाहने वालो को यू सताया नही जाता,
बेवफाओ को भी यू भुलाया नही जाता.
हम तो तुम्हारे ही है,तुम्हारे ही थे,
आपनो को यू ज़िंदगी मे तडपाया नही जाता.

बेवफा है दुनिया किसी का ऐतबार ना करो,
हर पल देते है धोका किसी से प्यार ना करो,
मिट जाओ बेशाक़ तनहा जी कर,
पर किसी के साथ का इंतज़ार ना करो.

वो जो अपना था हुंसे है खफा,
पता नही किस से हुई थी क्या ख़ाता,
बे-वजह दिल नही टूट-ता किसी का,
तुम थे या हम थे बेवफा…

1 Comment

Leave a Comment