देशभक्ति कविता 2016

Desh Bhakti Poem In Hindi – देश भक्ति पोएम इन हिंदी

Posted by

आपने कई प्रकार की कविताये पढ़ी होंगी और सुनी भी होंगी लेकिन क्या आप जानते है की हमारे कुछ देशभक्त कवि ऐसे भी हुए जिन्होंने की देश के ऊपर भी कई प्रकार की कविताये लिखी है | जिन कविताओं को पढ़ कर आपके अंदर से भी देश के लिए भक्ति भावना जाग उठेगी अगर आप भी कुछ बेहतरीन देशभक्ति की कविताये जानना चाहते है तो इसके लिए आप हमारी इस पोस्ट के माध्यम से कुछ बेहतरीन कविताये जान सकते है और उन्हें अपने अन्य दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते है |

देशभक्ति कविता 2016 | देश भक्ति पोयम्स इन हिंदी बय रबिन्द्रनाथ टैगोर

सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा। हम बुलबुलें हैं इसकी वह गुलिस्तां हमारा ॥ ग़ुर्बत में… Click To Tweet पन्द्रह अगस्त का दिन कहता – आज़ादी अभी अधूरी है। सपने सच होने बाक़ी हैं, राखी की शपथ न पूरी… Click To Tweet

देश प्रेम पर छोटी कविता

Maathe par giri-raj himalay Baccho apni shan hai dikhaata Charno mein bhaarat mata key Saagar bhi hai sheesh jhukaata Paschhim aur purab ke jungal mein Bhaag sher sab paye jaatey Nadiyo mein ghadiyaal magar sub Apnaa roop dikhaatey Mitti ore hawaa deti… Click To Tweet Nanhe nanhe pyaare pyaare, Gulshan ko mehakaane waale, Sitaare jamin par laane waale Hum bachche Hindustan ke. Naye jamaane ke diwaale, Toofaan se na darnw waale, Kahalaate hain himmat waale, Hum bachche Hindustan ke. Chalate hain hum shaan se, Bachate… Click To Tweet

देश भक्ति बाल कविता

प्यार तो हमने भी किया ,उसके लिए अपना दिल भी दिया। उसने हर बार की तरह, इस बार भी मुझे धोखा… Click To Tweet ये वक्त भी रूक जाएगा, आसमाँ झुक जाएगा, धरती कहे तू आ गया, कोई भी ना बच पाएगा, बहानें लहू हम आयें… Click To Tweet भारत के लाल आज झूम-झूम गाओ रे | सारा ही देश आज झूमा है मस्ती में, देखो ख़ुशी छाई है हर एक बस्ती में… Click To Tweet Desh Bhakti Poem In Hindi

यह भी देखें :  सुमित्रानंदन पंत Poems In Hindi - सुमित्रानंदन पंत की कविताएं

Poem On desh Bhakti In Hindi

यह देश हमारा है, हमारा है हमारा इस देश का कण कण हमें प्यारा हमें प्यारा इस देश के इतिहास में गौरव… Click To Tweet

सैनिकों पर हिंदी में देशभक्ति कविता

कर गयी पैदा तुझे उस कोख का एहसान है सैनिकों के रक्त से आबाद हिन्दुस्तान है तिलक किया मस्तक चूमा… Click To Tweet चंदन है इस देश की माटी तपोभूमि हर ग्राम है हर बाला देवी की प्रतिमा बच्चा बच्चा राम है || ध्रु || हर… Click To Tweet

भारत पर कविता

जब सूरज संग हो जाए अंधियार के, तब दीये का टिमटिमाना जरूरी है… जब प्यार की बोली लगने लगे बाजार में,… Click To Tweet यारा प्यारा मेरा देश, सजा – संवारा मेरा देश॥ दुनिया जिस पर गर्व करे, नयन सितारा मेरा देश॥ चांदी –… Click To Tweet

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *