देश भक्ति सांग – देशभक्ति के गीत संग्रह mp3 डाउनलोड – Deshbhakti d.j song – देश भक्ति गीत in written

देशभक्ति गीत: जैसे ही हमारे देश में किसी भी तरह का कोई नेशनल फेस्टिवल करीब आता है वैसे ही कई तरह के सांस्कृतिक कार्यक्रम स्कूलों व कॉलेजो में होना शुरू हो जाते है जिसमे की कई बच्चे हमारे महान स्वतंत्रता संग्रामियों की ड्रेस पहन कर उनकी एक्टिंग करते है व देशभक्ति के गांव पर एक्टिंग व नाचते है | इसीलिए हम आपको 26 जनवरी या 15 अगस्त के उपलक्ष्य में कुछ देशभक्ति के के गीत या सांग के बारे में बताते जिनको आप देख सकते तथा राष्ट्रीय त्योहारों पर बजा भी सकते है |

देशभक्ति बाल कविता | देश भक्ति गीत कविता

अगर आप राष्ट्रीय गीत, भोजपुरी देशभक्ति गीत desh bhakti.d.j देशभक्ति गीत mp3 देशभक्ति गीत भारत हमको जान से प्यारा है, देशभक्ति स्वागत गीत लिस्ट, वीडियो सांग, देश भक्ति गीत in written, देश भक्ति गीत pdf सांग्स desh bhakti song फिल्मी गीत, फ़िल्मी गीत, डाउनलोड, कविता मराठी में जानना चाहते है तो यहाँ से जान सकते है :

राष्ट्रीय गीत संग्रह


मेरा कर्मा तू, मेरा धर्मा तू तेरा सब कुछ मैं, मेरा सब कुछ तू हम्म्म आ आ…. हर करम अपना करेंगेx२ ऐ वतन तेरे लिए दिल दिया है जां भी देंगे ऐ वतन तेरे लिएx२ हर करम अपना करेंगे, तू मेरा कर्मा, तू मेरा धर्मा तू मेरा अभिमान है ऐ वतन महबूब मेरे तुझपे दिल क़ुर्बान हैx२ हम जिऐंगे और मरेंगे ऐ वतन तेरे लिए दिल दिया है जां भी देंगे ऐ वतन तेरे लिएx२ हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई, हमवतन, हमनाम हैं x२ जो करे इनको जुदा मज़हब नहीं इल्जाम है हम जिऐंगे और मरेंगे ऐ वतन तेरे लिए दिल दिया है जां भी देंगे ऐ वतन तेरे लिए आ आ… तेरी गलियों में चलाकर नफ़रतों की गोलियां लूटते हैं कुछ लुटेरे दुल्हनों की डोलियां लुट रहे है आप वो अपने घरों को लूट कर खेलते हैं बेखबर अपने लहू से होलियां हम जिऐंगे और मरेंगे ऐ वतन तेरे लिए दिल दिया है जां भी देंगे ऐ वतन तेरे लिएx२
Click To Tweet

देशभक्ति गीत मेरा रंग दे बसंती चोला – देश भक्ति गीत लिखित


मेरा रंग दे.. मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे मेरा रंग दे बसंती चोला रंग दे, रंग दे.. रंग दे बसंती चोला माये रंग दे निकले हैं वीर जिया ले यूँ अपना सीना ताने हंस-हंस के जान लुटाने आज़ाद सवेरा लाने मर के कैसे जीते हैं, इस दुनिया को बतलाने तेरे लाल चलें हैं माये, अब तेरी लाज बचाने मर के कैसे जीते हैं, इस दुनिया को बतलाने तेरे लाल चलें हैं माये, अब तेरी लाज बचाने आज़ादी का शोला बन के खून रगों में डोला मेरा रंग दे… मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे मेरा रंग दे बसंती चोला रंग दे, रंग दे.. रंग दे बसंती चोला माये रंग दे दिन आज तो बड़ा सुहाना मौसम भी बड़ा सुनहरा हम सर पे बाँध के आये बलिदानों का ये सेहरा बेताब हमारे दिल में इक मस्ती सी छायी है ऐ देश अलविदा तुझको कहने की घडी आई है महकेंगे तेरी फिज़ा में हम बन के हवा का झोंका किस्मत वालों को मिलता ऐसे मरने का मौका निकली है बरात सजा है इंक़लाब का डोला मेरा रंग दे… मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे मेरा रंग दे बसंती चोला रंग दे, रंग दे.. रंग दे बसंती चोला माये रंग दे..
Click To Tweet

26 January Desh Bhakti Geet – Desh Bhakti Na Gito

देश भक्ति गीत लिरिक्स इस प्रकार हैं:


जहाँ डाल-डाल पर सोने की चिड़ियां करती है बसेरा वो भारत देश है मेरा जहाँ सत्य, अहिंसा और धर्म का पग-पग लगता डेरा वो भारत देश है मेरा ये धरती वो जहाँ ऋषि मुनि जपते प्रभु नाम की माला जहाँ हर बालक इक मोहन है और राधा इक-इक बाला जहाँ सूरज सबसे पहले आ कर डाले अपना फेरा वो भारत देश है मेरा... जहाँ गंगा, जमुना, कृष्ण और कावेरी बहती जाए जहाँ उत्तर, दक्षिण, पूरब, पश्चिम को अमृत पिलवाये ये अमृत पिलवाये कहीं ये फल और फूल उगाये, केसर कहीं बिखेरा वो भारत देश है मेरा... अलबेलों की इस धरती के त्योहार भी हैं अलबेले कहीं दीवाली की जगमग है, होली के कहीं मेले जहाँ राग-रंग और हँसी-खुशी का चारों ओर है घेरा वो भारत देश है मेरा... जहाँ आसमान से बातें करते मंदिर और शिवाले किसी नगर मे किसी द्वार पर कोई न ताला डाले और प्रेम की बंसी जहाँ बजाता आये शाम सवेरा वो भारत देश है मेरा...
Click To Tweet

देश भक्ति सांग

11 देशभक्ति गीत जो आपको रुला देंगे – देशभक्ति गीत संग्रह


कर चले हम फ़िदा जान-ओ-तन साथियों अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों हां हां… साँस थमती गई नब्ज़ जमती गई फिर भी बढ़ते कदम को न रुकने दिया कट गये सर हमारे तो कुछ ग़म नहीं सर हिमालय का हमने न झुकने दिया मरते मरते रहा बाँकापन साथियों अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों कर चले हम फ़िदा… ज़िंदा रहने के मौसम बहुत हैं मगर जान देने की रुत रोज़ आती नहीं हुस्न और इश्क़ दोनों को रुसवा करे वो जवानी जो खूँ में नहाती नहीं आज धरती बनी है दुल्हन साथियों अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों कर चले हम फ़िदा… राह क़ुर्बानियों की न वीरान हो तुम सजाते ही रहना नये क़ाफ़िले फ़तह का जश्न इस जश्न के बाद है ज़िंदगी मौत से मिल रही है गले बांधलो अपने सर से कफ़न साथियों, अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों कर चले हम फ़िदा… खींच दो अपने खूँ से ज़मीं पर लकीर इस तरफ़ आने पाये न रावण कोई तोड़ दो हाथ अगर हाथ उठने लगे छूने पाये न सीता का दामन कोई राम भी तुम तुम्हीं लक्ष्मण साथियों, अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों कर चले हम फ़िदा जान-ओ-तन साथियों अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों
Click To Tweet

देश भक्ति गीत फ्री डाउनलोड – देश भक्ति गीत मराठी Download


कर चले हम फ़िदा जान-ओ-तन साथियों अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों हां हां… साँस थमती गई नब्ज़ जमती गई फिर भी बढ़ते कदम को न रुकने दिया कट गये सर हमारे तो कुछ ग़म नहीं सर हिमालय का हमने न झुकने दिया मरते मरते रहा बाँकापन साथियों अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों कर चले हम फ़िदा… ज़िंदा रहने के मौसम बहुत हैं मगर जान देने की रुत रोज़ आती नहीं हुस्न और इश्क़ दोनों को रुसवा करे वो जवानी जो खूँ में नहाती नहीं आज धरती बनी है दुल्हन साथियों अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों कर चले हम फ़िदा… राह क़ुर्बानियों की न वीरान हो तुम सजाते ही रहना नये क़ाफ़िले फ़तह का जश्न इस जश्न के बाद है ज़िंदगी मौत से मिल रही है गले बांधलो अपने सर से कफ़न साथियों, अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों कर चले हम फ़िदा… खींच दो अपने खूँ से ज़मीं पर लकीर इस तरफ़ आने पाये न रावण कोई तोड़ दो हाथ अगर हाथ उठने लगे छूने पाये न सीता का दामन कोई राम भी तुम तुम्हीं लक्ष्मण साथियों, अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों कर चले हम फ़िदा जान-ओ-तन साथियों अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों
Click To Tweet

देशभक्ति के गीत संग्रह

देशभक्ति के गीतों संग फहराया तिरंगा – देशभक्ति के गीत लिरिक्स इन हिंदी


जब ज़ीरो दिया मेरे भारत ने भारत ने मेरे भारत ने दुनिया को तब गिनती आयी तारों की भाषा भारत ने दुनिया को पहले सिखलायी देता ना दशमलव भारत तो यूँ चाँद पे जाना मुश्किल था धरती और चाँद की दूरी का अंदाज़ा लगाना मुश्किल था सभ्यता जहाँ पहले आयी पहले जनमी है जहाँ पे कला अपना भारत वो भारत है जिसके पीछे संसार चला संसार चला और आगे बढ़ा यूँ आगे बढ़ा, बढ़ता ही गया भगवान करे ये और बढ़े बढ़ता ही रहे और फूले-फले है प्रीत जहाँ की रीत सदा मैं गीत वहाँ के गाता हूँ भारत का रहने वाला हूँ भारत की बात सुनाता हूँ काले-गोरे का भेद नहीं हर दिल से हमारा नाता है कुछ और न आता हो हमको हमें प्यार निभाना आता है जिसे मान चुकी सारी दुनिया मैं बात वो ही दोहराता हूँ भारत का रहने... जीते हो किसी ने देश तो क्या हमने तो दिलों को जीता है जहाँ राम अभी तक है नर में नारी में अभी तक सीता है इतने पावन हैं लोग जहाँ मैं नित-नित शीश झुकाता हूँ भारत का रहने... इतनी ममता नदियों को भी जहाँ माता कह के बुलाते है इतना आदर इन्सान तो क्या पत्थर भी पूजे जातें है इस धरती पे मैंने जनम लिया ये सोच के मैं इतराता हूँ भारत का रहने...
Click To Tweet

देश भक्ति गीत लता मंगेशकर


जब ज़ीरो दिया मेरे भारत ने भारत ने मेरे भारत ने दुनिया को तब गिनती आयी तारों की भाषा भारत ने दुनिया को पहले सिखलायी देता ना दशमलव भारत तो यूँ चाँद पे जाना मुश्किल था धरती और चाँद की दूरी का अंदाज़ा लगाना मुश्किल था सभ्यता जहाँ पहले आयी पहले जनमी है जहाँ पे कला अपना भारत वो भारत है जिसके पीछे संसार चला संसार चला और आगे बढ़ा यूँ आगे बढ़ा, बढ़ता ही गया भगवान करे ये और बढ़े बढ़ता ही रहे और फूले-फले है प्रीत जहाँ की रीत सदा मैं गीत वहाँ के गाता हूँ भारत का रहने वाला हूँ भारत की बात सुनाता हूँ काले-गोरे का भेद नहीं हर दिल से हमारा नाता है कुछ और न आता हो हमको हमें प्यार निभाना आता है जिसे मान चुकी सारी दुनिया मैं बात वो ही दोहराता हूँ भारत का रहने... जीते हो किसी ने देश तो क्या हमने तो दिलों को जीता है जहाँ राम अभी तक है नर में नारी में अभी तक सीता है इतने पावन हैं लोग जहाँ मैं नित-नित शीश झुकाता हूँ भारत का रहने... इतनी ममता नदियों को भी जहाँ माता कह के बुलाते है इतना आदर इन्सान तो क्या पत्थर भी पूजे जातें है इस धरती पे मैंने जनम लिया ये सोच के मैं इतराता हूँ भारत का रहने...
Click To Tweet
loading...

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *