Informational

Kutte ka Kaata – Ilaaj v Ghareelu Nuskhe

कुत्ते का काटा इलाज व घरेलु उपाय: कुत्ते का काटना वैसे तो आम बात है, परन्तु यह अक्सर घातक भी हो सकता है| अगर आपके पालतू कुत्ते के मालिक हैं तो आपको अपने कुत्ते के निश्चित समय पर इंजेक्शन लगवा के रखना चाहिए| कुत्ते के काटा अगर गंभीर है तो कुत्ते के काटने पर प्राथमिक उपचार आवश्यक है| पालतू कुत्ते के मुकाबले पागल कुत्ते के काटने पर आपको अधिक जोखिम होता है अगर सही समय पर इलाज नहीं किया जाता है तो यह घातक हो सकता है| इसलिए आज हम आपको बताएंगे कुत्ते के काटने के आयुर्वेदिक और घरेलू उपचार|

कुत्ता काटने के लक्षण

Dog bite symptoms: कुत्ते द्वारा काटे जाने पर यह लक्षण दिख सकते हैं:

  • घाव के आसपास लाल रंग होना और घाव का सूजना
  • घाव पर बहुत गर्मी और तेज़ दर्द होने लगता है
  • घाव में से तरल अथवा पस का निकलना
  • 100.4 F याइससे ज़्यादा तेज़ बुखार होना|
  • लगातार पसीना आयना और ठंड लगना|
  • ठोड़ी व गर्दन, बगल में सूजन आना|
  • घाव से त्वचा पर लाल निशाँ पड़ना|

कुत्ते के काटने पर प्राथमिक उपचार

Kutte ke Kaatne par Praathmik Upchaar: कुत्ते के काटने से उसके शिकार हुए इंसान को काफी गंभीर समस्या हो सकती है| जिसमे सबसे खतरनाक रोग है रेबीज| यह बहुत ही खतरनाक रोग है इसमें इंसान को काफी नुक्सान होता है| साधारण कुत्ते का काटना और पागल कुत्ते का काटना में सबसे बड़ी बात यही है की पागल कुत्ते द्वारा काटे जाने पर आपको रेबीज का तुरंत खतरा बढ़ जाता है ऐसे में सबसे पहले आपको डॉक्टर के पास से rabies immune globulin का इंजेक्शन लगवाना चाहिए जिससे उसके वायरस आपके शरीर को नुक्सान नहीं पहुंचा पाएंगे| इसलिए आपको तुरंत चिकित्सक के पास जाकर rabies vaccine यानी कुत्ता काटने का इंजेक्शन (टीका) लगवाना लेना चाहिए|

कुत्ते के काटने पर क्या करना चाहिए

Kutte ke Kattne Par Kya Karna Chahiye: कुत्ते द्वारा काटे जाने पर सबसे पहले आपको ये उपाय अपनाने चाहियें:

  • घाव पर से रक्तस्राव को रोकने के लिए चोट को साफ़ टोलिया किसी कपडे से दबा लें|
  • जहाँ चोट लगी है उस जगह को ऊपर उठाए रखने की कोशिश करें।
  • चोट वाली जगह को साबुन व पानी से सावधानी से धो लें।
  • घाव के ऊपर Dettol या savlon से साफ कर पट्टी लगा लें।
  • संक्रमण को रोकने के लिए हर रोज चोट के ऊपर एंटीसेप्टिक एंटीबायोटिक क्रीम को लगाएं|

कुत्ते के काटने का आसान इलाज

कुत्ते के काटने के घरेलु नुस्खे: कुत्ते काटने को अनदेखा नहीं करना चाहिए| कुत्ते के काटने के लिए कई घरेलू उपचार हैं ये है कुछ प्रभावी इलाज:

नीम, एलो वेरा व लहसुन

नीम, मुसब्बर वेरा व लहसुन संक्रमण को रोकने के लिए काफी कारगर है| और यह प्रयोग करने में काफी आसान भी है|

  1. एक एलो वेरा की पत्ती लें, उसको चील लें और उसका जेल निकाल कर इकठ्ठा कर लें|
  2. अब ताजा नीम के पत्तों को को तोड़ लें| और इसको पीस के पेस्ट बना लें|
  3. एलो वेरा जेल, लहसुन व नीम पेस्ट को मिला कर एक पेस्ट बना लें और इसे घाव पर लागू करें।

जीरा व काली मिर्च का पेस्ट

जीरा और काली मिर्च अत्यंत प्रभावशाली मसाले हैं| ये विभिन्न बीमारियों के इलाज के लिए दवा के रूप में इस्तेमाल किये जाते हैं| इसके पेस्ट से घाव पर राहत मिलती है व संक्रमण भी रुकता है|

  1. 2 चम्मच जीरा लें और 3 चम्मच काली मिर्च लें|
  2. दोनों को मिक्सी में डालकर थोड़ा पानी डालें की इसका पेस्ट बन जाए|
  3. अब इस पेस्ट को घाव पर लगाएं|

हींग का पाउडर

हींग को Asafetida कहते हैं| यह बहुत असरकारी होती है| यह हानिरहित होती है और इसका कोई भी दुष्प्रभाव नहीं होता है। परन्तु यदि घाव गंभीर है, तो टांके की आवश्यकता हो सकती है, इसलिए आपको अस्पताल जाने की आवश्यकता पड सकती है|

  1. सबसे पहले काटी हुई जगह को अच्छे से धो लें व किसी साफ़ कपड़े से इसे पांच लें|
  2. हींग पाउडर की 2 चम्मच लें और इसे घाव पर छिड़कें |
  3. अब इसको रेशमी कपडे व सर्जिकल टेप से पट्टी बाँध कवर कर दें । इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो बार करें|

अँटीसिरम इंजेक्शन

अँटीसिरम इंजेक्शन को डॉक्टर से लगवा कर आप संक्रमण का खतरा खत्म कर सकते हैं|

 

antiserum injection

ऊपर बताये हुए कुत्ता उपचार और गृह उपचार से सिखार को काफी आराम मिलेगा और संक्रमण का खतरा भी नहीं होगा| अगर घाव ज़्यादा गंभीर है तो चिकित्सक पर जाएं|

Leave a Comment